HomeFaridabadनिगमायुक्त की कुर्सी छोड़ने से पहले डॉ गरिमा मित्तल कर गई यह...

निगमायुक्त की कुर्सी छोड़ने से पहले डॉ गरिमा मित्तल कर गई यह काम, इस वार्ड के लोगों को मिलेगी राहत

Published on

वार्ड नंबर 5 की पार्षद ललिता यादव और स्थानीय निवासियों का प्रदर्शन करना आखिरकार सफल हो गया। नगर निगम कमिश्नर डॉ गरिमा मित्तल ने सीवरेज समस्या के लिए 67 लाख रुपए की फाइल मंजूर कर दी है।

बीते शुक्रवार को सीवर ओवरफ्लो, गंदे पानी की आपूर्ति से परेशान होकर वार्ड नंबर 5 के स्थानीय निवासियों ने पार्षद ललिता यादव के साथ मिलकर निगमायुक्त डॉ गरिमा मित्तल के कार्यालय में धरना दिया तथा जमकर नारेबाजी की। इस दौरान स्थानीय निवासियों ने निगमायुक्त डॉ गरिमा मित्तल तथा एनआईटी विधायक नीरज शर्मा के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

निगमायुक्त की कुर्सी छोड़ने से पहले डॉ गरिमा मित्तल कर गई यह काम, इस वार्ड के लोगों को मिलेगी राहत

दरअसल, वार्ड नंबर 5 में काफी लंबे समय से सीवर ओवरफ्लो की समस्या बनी हुई है। इस विषय में कई बार स्थानीय पार्षद से लेकर मुख्यमंत्री को ट्वीट भी किया जा चुका है परंतु समस्या का समाधान नहीं हो पा रहा था जिससे लोगों के अंदर काफी गुस्सा भरा हुआ था।

लोगों ने पहले तो मुख्यालय पहुंचकर जमकर प्रदर्शन किया और उसके बाद नगर निगम आयुक्त डॉक्टर गरिमा मित्तल के कार्यालय में धरने पर। इस दौरान एडिशनल कमिश्नर वैशाली शर्मा तथा ओपी कर्दम मौके पर पहुंचे लोगों को जल्द से जल्द समस्या का समाधान करने का आश्वासन दिया परंतु लोग निगमायुक्त गरिमा मित्तल से मिलने की मांग पर अड़ गए।

निगमायुक्त की कुर्सी छोड़ने से पहले डॉ गरिमा मित्तल कर गई यह काम, इस वार्ड के लोगों को मिलेगी राहत

करीब आधे घंटे बाद निगमायुक्त डॉ गरिमा मित्तल निगम मुख्यालय पहुंची तथा लोगों की समस्या सुनी और एडिशनल कमिश्नर वैशाली शर्मा को वार्ड नंबर 5 जाकर मौका मुआयना करने के आदेश दिए। मौका मुआयना करने के बाद भी समस्या का समाधान नहीं हो पाया आखिर में लोग अपने अपने घरों को रवाना हो गए। इस दौरान निगम आयुक्त डॉ गरिमा मित्तल ने ओपी कर्दम के कार्यालय में बैठकर काम किया वहीं अब समस्या के समाधान करने के लिए निगमायुक्त डॉ गरिमा मित्तल ने 67 लाख रुपए की फाइल को मंजूरी दे दी है।

साथ ही पानी सप्लाई वाले जलघर पर पुलिसकर्मी तैनात करने का फैसला किया है। यही नहीं जलघर के वाल्ब बेल्डिंग कराए जाएंगे ताकि कोई पानी सप्लाई के साथ छेड़छाड़ न कर सके। यही नहीं जल निकासी के लिए गोंछी ड्रेन की सफाई कराने के लिए दो जेसीबी मशीन लगाने का आदेश दिया है।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...