HomePublic Issueकरोड़ों की दौलत होने के बावजूद नहीं मिल रहा खाना, बुजुर्ग...

करोड़ों की दौलत होने के बावजूद नहीं मिल रहा खाना, बुजुर्ग फौजी की मांग- बेटों को जेल में डाल दो…!

Published on

करोड़ों की दौलत होने के बावजूद नहीं मिल रहा खाना, बुजुर्ग फौजी की मांग- बेटों को जेल में डाल दो :- भारत मे हम माता-पिता को भगवान की तरह मानते हैं, वो माँ बाप जो हमारी ख़ुशी के लिए दिन रात एक करते है, पर जब वो ही बच्चे अपने ही माँ बाप को घर से बाहर कर दे, तब वो इस दुनिया के सबसे बदक़िस्मत माँ बाप होते है। ऐसा ही एक मामला देखा गया है, मध्य प्रदेश के मुरैना जिले के पोरसा कसबे में जहां एक बूढ़े रिटायर्ड फौजी और उनकी पत्नी को उनके बच्चों ने अकेला छोड़ दिया।

इसके बाद दोनों बुज़ुर्ग दंपतियोंने प्रशासन से अपने बेटों को जेल में डालने की मांग की है, 95 साल के बुज़ुर्ग रिटायर्ड फौजी इंस्पेक्टर सिंह और उनकी पत्नी राजाबेटी एक साथ पोरसा में रहते हैं।

करोड़ों की दौलत होने के बावजूद नहीं मिल रहा खाना, बुजुर्ग फौजी की मांग- बेटों को जेल में डाल दो…!

आर्मी में काम करने के लिए बाद में उन्होंने VRS ले लिया और फिर CISF में नौकरी लग गई। आपको बता दे की बुज़ुर्ग दंपतियों के तीन बच्चे हैं। बुज़ुर्ग दंपति के दोनों बेटों की नौकरी फौज में लग गई और उनकी बेटी की शादी हो गई ।

दौलत तो कमा ली मगर सुख नहीं मिला

वहीं फौज में काम करने पर इंस्पेक्टर सिंह ने दौलत तो कमा ली मगर उन्हें बुढ़ापे का सुख नहीं मिल पाया। जहां एक बच्चा भोपाल में शिफ्ट हो गया तो दूसरा ग्वालियर में जाकर रहने लगा।

मीडिया से बात करते हुए उन्होंने बताया की

बेटे बहुओं के जाने के बाद वह और उनकी पत्नी अकेलेपन कि ज़िन्दगी जीने पर मजबूर हो गए हैं

करोड़ों की दौलत होने के बावजूद नहीं मिल रहा खाना, बुजुर्ग फौजी की मांग- बेटों को जेल में डाल दो…!

उनकी पत्नी को 10 साल पहले ही लकवा मार गया वही वो खुद आज डिप्रेशन में है। साथ ही साथ बुढ़ापे के चलते तो वह अपने क्या अपनी पत्नी के लिए भी खाना नहीं बना पाते है।

बुज़ुर्ग दंपति की तकलीफ़ें देखकर तहसीलदार नरेश शर्मा उनके घर पहुंचे और अपने हाल बताते हुए फौजी ने कहा कि साहब मेरे पास पैसा तो बहुत है, मगर देखभाल करने को कोई नहीं है। बेटे और बेटी ने अकेला छोड़ दिया है। हाल तक पूछने नहीं आते है

कहा बेटों को जेल में डाल दो

इसके साथ ही उन्होंने अपने बेटों को जेल में डालने की बात भी उनसे कही थी। जिसके बाद उन्होंने दोनों की मदद के लिए एक प्रकरण तैयार कर एसडीएम को भेज दिया।तहसीलदार ने कहा है, की वो मामले को लेकर उचित कार्रवाई करेंगे।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...