HomePoliticsजिसकी दुःख तकलीफ कोई नही सुनता मेरे दरवाजे उनके लिए हमेशा खुले...

जिसकी दुःख तकलीफ कोई नही सुनता मेरे दरवाजे उनके लिए हमेशा खुले हैं : अनिल विज

Published on

अम्बाला : जिसकी दुःख तकलीफ कोई नही सुनता उनके लिए मेरे दरवाजे सदा खुले हैं । मैं जिंदा हूँ जनता की दुआओं से इसलिए जनता के दुःखों को मैं दूर करूँगा और जनता की तकलीफों पर मरहम भी मैं ही लगाऊँगा उपरोक्त शब्द हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने एंटी टेररिस्ट फ्रंट इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष वीरेश शांडिल्य के पालिका विहार निवास पर फ्रंट के सदस्यों को संबोधित करते हुए कहे।

इस मौके पर कुलवंत सिंह मानकपुर,अशोक अग्रवाल,नवरत्न गर्ग, सुरेन्द्रपाल केके,वासु रंजन, दीपक नटराज,साहिल कक्कड़, पारस हिंदुस्तानी,सुरेश शर्मा,एडवोकेट एनपीएस कोहली,साहिल वैद, श्रीमती पंकज, नीलम शर्मा, सुभाष वालिया,रीना शर्मा, संगीता वालिया, अवतार सिंह, सहित भारी तादाद में फ्रंट के सदस्य माजूद थे। अनिल विज ने कहा की उनका जन्म राजनीति करने के लिए नही लोगो को इंसाफ दिलवाने के लिए हुआ ।

जिसकी दुःख तकलीफ कोई नही सुनता मेरे दरवाजे उनके लिए हमेशा खुले हैं : अनिल विज

अधिकारी लोगो की दुःख तकलीफो को सुनने व उनका हल करने की आदत डाल लें अन्यथा उनके लिए अनिल विज बिजली बनकर गिरेगा क्योंकि अनिल विज के लिए नर सेवा नारायण सेवा है। अनिल विज का आज वीरेश शांडिल्य ने अपने निवास पर जोरदार स्वागत किया और गृह मंन्त्री अनिल विज ने वीरेश शांडिल्य की आतंकवाद के खिलाफ छेड़ी मुहिम की तारीफ की ओर उन्हें राष्ट्र भक्त बताया।

जिसकी दुःख तकलीफ कोई नही सुनता मेरे दरवाजे उनके लिए हमेशा खुले हैं : अनिल विज

वही उन्होंने कहा कि खालिस्तान की बात करने वाले राष्ट्र व तिरंगे के दुश्मन है ऐसी ताकतों को मुंह तोड़ जवाब दिया जाएगा और सीएम हिमाचल जयराम ठाकुर को तिरंगा न लहराने की धमकी पर दो टूक कहा कि तिरंगे की तरफ बुरी नजर से देखने वालो की भारत आंख निकालने का दम रखता है। क्योंकि तिरंगा 132 करोड़ लोगों की आन बान शान है जिसे भगत राजगुरु सुखदेव,आज़ाद बोस, उधम सिंह, मदन लाल ढींगरा ,अशफाक उल्ला जैसे कई शूरवीरों ने फाँसी पर चढ़ कर हासिल किया।

जिसकी दुःख तकलीफ कोई नही सुनता मेरे दरवाजे उनके लिए हमेशा खुले हैं : अनिल विज

गृह मंत्री अनिल विज तकरीबन डेढ़ घंटा वीरेश शांडिल्य के निवास पर रुके ओर कहा कि वो उनके परिवार के सदस्य हैं । वीरेश शांडिल्य ने इस मौके पर अनिल विज को शांति के प्रतीक भगवान बौद्ध की प्रतिमा व दोशाला देकर सम्मानित किया। वीरेश शांडिल्य ने अनिल विज का अपने निवास पर आगमन पर आभार व्यक्त किया और उन्हें हरियाणा का सरदार पटेल बातया उन्होंने कहा कि अनिल विज हरियाणा की जनता के संकट मोचक हैं । शांडिल्य ने कहा जिसका कोई नही उसका अनिल विज है ।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...