HomeSportsसोनीपत के रवि दहिया ने ओलंपिक में सेमीफाइनल में जीत हासिल कर...

सोनीपत के रवि दहिया ने ओलंपिक में सेमीफाइनल में जीत हासिल कर पदक किया पक्का

Published on

ओलंपिक में बुधवार को हरियाणा के सोनीपत जिले के गांव नाहरी के रवि ने कमाल कर दिखाया। पुरुषों की कुश्ती 57 किलोग्राम फ्रीस्टाइल सेमीफाइनल में रवि दहिया ने नूरिस्लाम सनायेव को हराकर जीत हासिल की। इस शानदार जीत के साथ रवि दहिया ने फाइनल में अपना पदक पक्का कर लिया है। टोक्यो ओलंपिक में पहली बार खेल रहे सोनीपत जिले के गांव नाहरी के रवि दहिया पहलवान ने सेमीफाइनल में कजाकिस्तान के पहलवान को 9-7 से हराकर शानदार जीत के साथ फाइनल में प्रवेश किया।

टोक्यो ओलंपिक में बुधवार की सुबह ही अंतरराष्ट्रीय पहलवान रवि दहिया ने क्वालीफाइंग मैच से ही विजय अभियान की शुरुआत की। रवि दहिया ने पहले कोलंबिया के पहलवान को 13-2 से हराया तथा कुछ देर बाद ही क्वार्टरफाइनल में बुल्गारिया के पहलवान को 14-2 से हराकर अपनी जीत हासिल कर सेमीफाइनल में जगह बनाई। रवि दहिया को छोटा भाई पंकज व चचेरा भाई संजू भी पहलवान हैं।

सोनीपत के रवि दहिया ने ओलंपिक में सेमीफाइनल में जीत हासिल कर पदक किया पक्का

मंगलवार को रवि ने अपने भाई पंकज और संजू से वीडियो काल के माध्यम से बात की और कहा कल ऐसा खेल दिखाउंगा कि जिसे दुनिया दुनिया याद रखेगी। रवि ने अपनी बात को साबित कर दिखाया। रवि दहिया ने दोनों विरोधी पहलवानों को एकतरफा मुकाबलों में हराते हुए जीतकर सेमीफाइनल में अपनी जगह बनाई।

सोनीपत के रवि दहिया ने ओलंपिक में सेमीफाइनल में जीत हासिल कर पदक किया पक्का

रवि दहिया के दोनों कुश्ती जीतते ही दिल्ली के छत्रसाल स्टेडियम में कुश्ती देख रहे उनके भाई पंकज और संजू ने साथी पहलवानों के साथ मिलकर जश्न मनाया। उनके भाई संजू ने कहा कि उन्हें विश्वास है कि रवि दहिया फाइनल जीतेगा। वहीं दूसरी ओर गांव नाहरी में टीवी पर कुश्ती देख रहे रवि के पिता और अन्य ग्रामीणों में भी रवि के कुश्ती जीतने पर जोश भर गया। रवि दहिया के पिता राकेश दहिया व अन्य ग्रामीणों ने भी गांव के बेटे के गोल्ड मेडल जीतने की उम्मीद जताई है।

सोनीपत के रवि दहिया ने ओलंपिक में सेमीफाइनल में जीत हासिल कर पदक किया पक्का

रवि दहिया के पिता राकेश दहिया एक किसान हैं। राकेश दहिया ने आर्थिक तंगी से जूझते हुए अपने बेटे रवि को अंतरराष्ट्रीय स्तर तक पहुंचाया है। रवि ओलंपिक में जीत हासिल कर देश का नाम रोशन कर रहा है। वहीं राकेश दहिया ने कहा कि वे अपने दूसरे बेटे पंकज को भी पहलवान बना रहे हैं। उन्होंने बताया कि पंकज अभी जूनियर पहलवान है और दिल्ली के छत्रसाल स्टेडियम के अखाड़े में वह प्रैक्टिस कर रहा है।

रवि दहिया के पिता उनकी शादी कराना चाहते थे और उनके लिए लड़की देख रहे थे, लेकिन रवि ने ओलिंपिक से पहले शादी करने से साफ इंकार कर दिया। अब राकेश दहिया बेटे के पदक जीतकर लौटने के बाद उनकी शादी विचार करेंगे।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...