HomePublic Issueपानी की एक एक बूंद को तरस रहा है फरीदाबाद का यह...

पानी की एक एक बूंद को तरस रहा है फरीदाबाद का यह गांव, यहाँ रोज चुका रहे हैं 700 रुपये

Published on

फरीदाबाद 08 अगस्त :- इन दिनों इस बरसात के मौसम में भी स्थानीय अनखीर गांव के निवासी पीने के पानी की समस्या के संकट से जूझ रहे हैं । यह गांव फरीदाबाद नगर निगम के वार्ड नंबर -18 के अंतर्गत आता है और पाश सेक्टर 21डी के सामने स्थित है । सेक्टर 21ए बी सी डी के लिए ही इस गांव की काश्तकारी की जमीन सरकार द्वारा सन 1970 1984 और 1993 में एक्वायर कर ली गई थी ।

लेकिन उसके बाद सरकार ने जो शहरीकरण का वायदा और नीति निर्धारित की थी उसके अनुसार इस गांव में कोई भी विकास कार्य नहीं किया गया है । नगर निगम की ओर से इस गांव में लगाए हुए दर्जन भर ट्यूबवेल लगभग ठप हो चुके हैं और लोगों को लगभग 700 रुपये का पानी का प्राइवेट टैंकर रोजाना खरीद कर अपने घरों में लाना पड़ रहा है जोकि उनके बजट को काफी हद तक बिगाड़ चुका है।

पानी की एक एक बूंद को तरस रहा है फरीदाबाद का यह गांव, यहाँ रोज चुका रहे हैं 700 रुपये

इस संबंध में जब वार्ड नंबर 18 एमसीएफ कार्यालय के इंचार्ज एसडीओ अनिल कुमार से अनुरोध किया जाता है तो पानी का टैंकर देने के लिए साफ मना कर देते हैं और उनका कहना है कि मेरे आस-पास सेक्टर में जो वीआईपी सेवानिवृत्त आईएएस लोग बसे हैं उनको पानी पहले देना बनता है

आपके लिए कोई उम्मीद नहीं है । ना ही वह यहां ठप हो चुके ट्यूबवेलो की जांच करवाने के लिए तैयार हैं और जब भी उनसे गांव के लोग मिलते हैं तो वह उनके साथ दुर्व्यवहार करके वापिस भगा देते हैं।

पानी की एक एक बूंद को तरस रहा है फरीदाबाद का यह गांव, यहाँ रोज चुका रहे हैं 700 रुपये

ऐसे में बहुत जरूरी है कि नगर निगम आयुक्त व अन्य उच्च अधिकारी इस समस्या की ओर ध्यान दें और रेनीवेल योजना से अनखीर गांव को जोड़ने के साथ-साथ ठप पड़े हुए ट्यूबवेलो को भी ठीक करवाने का काम करें।

पानी की एक एक बूंद को तरस रहा है फरीदाबाद का यह गांव, यहाँ रोज चुका रहे हैं 700 रुपये

इस संबंध में नगर निगम के संबंधित कार्यकारी अभियंता ओपी कर्दम से गत 25 जुलाई को बात की गई थी तो उन्होंने कहा था कि इस समस्या का समाधान मैं आगामी परसों यानी 27 जुलाई 2021 को कर दूंगा लेकिन आज 14 दिन बीत चुके हैं

पानी की एक एक बूंद को तरस रहा है फरीदाबाद का यह गांव, यहाँ रोज चुका रहे हैं 700 रुपये

और वह अपने इस वायदे से मुकर गए हैं और पूरी तरह से गैर जिम्मेदाराना रूप अख्तियार कर लापरवाही बरतते हुए अपने कार्यालय में हमे बैठे हैं। उनका कहना है कि जिस तरह एक एक्षियंन ने पार्षद खटाना को जेल भिजवा दिया था इसी तरह मैं भी किसी को भी जेल भिजवा सकता हूं , मेरे से ज्यादा बात करने की जरूरत नहीं है । अनखीर गांव के जो लगभग 40 घर विशेष तौर पर पेयजल आपूर्ति की समस्या से इस समय जूझ रहे हैं

पानी की एक एक बूंद को तरस रहा है फरीदाबाद का यह गांव, यहाँ रोज चुका रहे हैं 700 रुपये

उनके लिए यदि गांव के राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय परिसर में लगा हुआ ट्यूबवेल नंबर 3 जोकि ठप हो चुका है उसके स्थान पर नया बोर कर दिया जाए तो काफी हद तक समस्या का हल हो सकता है। फरीदाबाद के सांसद कृष्णपाल गुर्जर जो कि केंद्रीय राज्य मंत्री भी हैं

विधायक सीमा त्रिखा, उपायुक्त जितेन्द्र यादव , नगर निगम आयुक्त यशपाल यादव, वार्ड नम्बर-18 के संबंधित पार्षद रतनपाल सहित अन्य किसी भी संबंधित अधिकारी या जनप्रतिनिधि द्वारा इस समस्या की ओर ध्यान नहीं दिया जा रहा है जो कि बड़े ही ताज्जुब की बात है। इस गंभीर समस्या की ओर सरकार में बैठे हुए क्षेत्र के उक्त सभी संबंधित जनप्रतिनिधियों तथा शासन प्रशासन के संबंधित अधिकारियों को समय रहते ध्यान देना चाहिए।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...