HomeFaridabadउमस से मिली राहत लेकिन जाम से निकलना बन गया आफत, ट्रैफिक...

उमस से मिली राहत लेकिन जाम से निकलना बन गया आफत, ट्रैफिक पुलिस ने दी बारिश की दुहाई

Published on

मंगलवार सुबह खिली खिली धूप के बाद जहां 12 बजे से शुरू हुई कुछ घंटों की बारिश में फरीदाबाद से लेकर बल्लभगढ़ जलमग्न हो गया। तो वही 2 दिन से पड़ने वाली भयंकर उमस से भी कहीं ना कहीं जाकर राहत मिली। मगर गर्मी और उमस से मिली राहत उस वक्त आफत बन गई,

जब फरीदाबाद की व्यस्ततम सड़कों पर उमड़ी वाहनों की भीड़ के चलते आमजन को घंटों तक जाम से निकलना मुहाल हो गया। मगर दूसरी तरफ आलम यह था कि सुस्त प्रशासन को कुमकर्ण की नींद से उठने से तनिक भी फुर्सत नही मिली।

उमस से मिली राहत लेकिन जाम से निकलना बन गया आफत, ट्रैफिक पुलिस ने दी बारिश की दुहाई

वही ऐसी बेहोशी की नींद में सोई प्रशासन को जगाने के लिए समाजसेवी सुमित तायल ने अपनी सोशल मीडिया ट्विटर के माध्यम से कुछ तस्वीरें साझा करते हुए बताया और दिखाया कि किस कदर प्रशासन की लापरवाही के कारण फरीदाबाद और बल्लभगढ़ पूरी तरह जाम की स्थिति से जूझ रहा है, इतना ही नहीं हाईवे पर भी इसी तरह की स्थिति उत्पन्न होती हुई दिखाई दी।

मगर हमेशा की तरह यहां मौजूदा स्थल पर पुलिस अधिकारी मौके पर मौजूद नहीं, जिनके अभाव में ट्रैफिक पर नियंत्रण कर पाना मुश्किल होता दिखाई दिया। वैसे तो पूरा दिन ही व्यस्त सड़कों का नजारा इसी तरह था।

दरअसल, ट्रैफिक उत्पन्न होने का कारण ऑटो चालकों को सर्वाधिक माना जाता है। इसका कारण यह है कि ऑटो चालक द्वारा ज्यादा मुनाफा कमाने के चक्कर में ऑटो में सवारियां भर लेते हैं और उन्हें गंतव्य तक पहुंचाने के लिए ना तो लेफ्ट देते हैं ना राइट देखते हैं। बस उन्हे इतनी जल्दी होती है कि वह कोशिश करते हैं अपने आगे और पीछे चल रही गाड़ियों के पीछे करके बस रफ्तार से आगे बढ़ते जाएं।

उमस से मिली राहत लेकिन जाम से निकलना बन गया आफत, ट्रैफिक पुलिस ने दी बारिश की दुहाई

यही कारण है कि आगे बढ़ने की इच्छा रखने के कारण ऑटो वाले आपस में लड़ जाते हैं और जाम जैसी स्थिति उत्पन्न हो जाती है। इतना ही नहीं ऑटो चालकों द्वारा सवारियों को हटाने के चक्कर में जगह-जगह ऑटो खड़ा कर देते हैं जिससे जाम की स्थिति उत्पन्न हो जाती है मगर इन पर नकेल कसने वाला कोई नहीं दिखाई देता।

उमस से मिली राहत लेकिन जाम से निकलना बन गया आफत, ट्रैफिक पुलिस ने दी बारिश की दुहाई

वहीं फरीदाबाद के जिम्मेदार नागरिक सुमित तायल कई बार फरीदाबाद और बल्लभगढ़ की हालत के बाबत प्रशासन को जगाने के प्रयास में जगह जगह जाम से उत्पन्न होने वाली परेशानियों को अपने सोशल मीडिया के माध्यम से ना सिर्फ आला अधिकारियों बल्कि आमजन से भी साझा कर रहे हैं। वहीं दूसरी तरफ एसएचओ ने सुमित तायल की ट्वीट पर टिप्पणी करते हुए कहा कि फिलहाल बारिश के चलते यहां ऐसी समस्या उत्पन्न हो गई है जल्द ही इसका निवारण हो जाएगा।

Latest articles

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

More like this

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...