HomeUncategorizedआइसोलेशन की बात सास को नहीं हुई हजम, चिढ़कर बहू को जबरन...

आइसोलेशन की बात सास को नहीं हुई हजम, चिढ़कर बहू को जबरन गले लगा किया संक्रमित, जाने फिर क्या हुआ

Published on

कोरोना महामारी की दूसरी लहर खतरनाक साबित हो रही है। बीते दिनों में तीन से चार लाख तक कोरोना के नए केसेज सामने आए। इसके अलावा तीन से पांच हज़ार के बीच लोगों की कोरोना के चलते मौत हो गई।

इसके अलावा देश के कई हिस्से में स्वास्थ्य सेवाएं सीमित लोगों को ही मिल पा रही है क्योंकि अस्पतालों में क्षमताएं सीमित हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य व परिवार कल्याण मंत्रालय इसे लेकर समय-समय पर एडवायजरी जारी करता रहा है।

आइसोलेशन की बात सास को नहीं हुई हजम, चिढ़कर बहू को जबरन गले लगा किया संक्रमित, जाने फिर क्या हुआ

इसी कड़ी में हेल्थ मिनिस्ट्री ने माइल्ड केसेज या बिना लक्षणों वाले कोरोना पेशेंट को होम आइसोलेशन को लेकर गाइडलाइंस संशोधित किए हैं। इसमें न सिर्फ मरीजों के लिए बल्कि उनकी देखभाल करने वाले केयरटेकर के लिए भी गाइडलाइंस जारी किए गए हैं।

इसके तहत होम आइसोलेशन में रहने के दौरान अगर सांस लेने में समस्या आती है, ऑक्सीजन लेवल 94 फीसदी से नीचे आता है, सीने में दर्द होता या अन्य कोई समस्या आ रही है तो डॉक्टर को तुरंत दिखाएं। होम आइसोलेशन में 10 दिनों तक रहने और लगातार तीन दिनों तक बुखार न आने की स्थिति में होम आइसोलेशन से बाहर आ सकते हैं

आइसोलेशन की बात सास को नहीं हुई हजम, चिढ़कर बहू को जबरन गले लगा किया संक्रमित, जाने फिर क्या हुआ

और उस समय टेस्टिंग की जरूरत नहीं है। लेकिन होम आइसोलेशन में सावधानी ज़रूर बरतें। लेकिन अब जो मामला हम आपको बताने जा रहे हैं, उसमें एक सास ही अपनी बहू की दुश्मन बन गई। वो कैसे चलिए पूरा मामला बताते हैं। पूरा मामला तेलंगाना राज्य के राजन्ना सिरसिल्ला जिले के थिम्मापुर गांव का है।

यहां एक बुजुर्ग महिला कोरोना पॉजिटिव हो गई थी। ऐसे में परिवार के दूसरे लोगों को संक्रमण से बचाने के लिए बहू ने सास को आइसोलेट कर दिया। वह सास को खाना भी दूर से देती थी। उसने अपने बच्चों को भी सास से दूर रहने को कहा। लेकिन ये सब देख शायद सास के अहम को चोट पहुंच गई।

आइसोलेशन की बात सास को नहीं हुई हजम, चिढ़कर बहू को जबरन गले लगा किया संक्रमित, जाने फिर क्या हुआ

वह इस बात से इतनी चिढ़ गई कि उसने मौके देख अपनी बहू को जबरदस्ती गले लगा लिया। सास के गले लगाने के बाद बहू भी कोरोना पॉजिटिव हो गई। अब बहू का आरोप है कि उसके कोरोना संक्रमित होने पर ससुराल वालों ने उसे घर से निकाल दिया। अभी वह अपने मायके में रहकर कोरोना का इलाज करवा रही है। इस पूरी घटना की शिकायत महिला ने राजस्व विभाग के अधिकारियों से भी की है।

उसने बताया कि कैसे उसकी सास उनसे सावधानी बरतने को लेकर नाराज थी। महिला की शिकायत के बाद राजस्व विभाग के अधिकारियों ने महिला से बोल कि यदि वह चाहे तो पुलिस में सास के खिलाफ प्रकरण दर्ज करवा सकती है। वे लोग इसमें उसकी मदद करेंगे। अब ऐसे में एक महिला ही दूसरी महिला की दुश्मन बन बैठी।

आइसोलेशन की बात सास को नहीं हुई हजम, चिढ़कर बहू को जबरन गले लगा किया संक्रमित, जाने फिर क्या हुआ

लोग कहते हैं महिलाओं के साथ दुर्व्यवहार किया जाता है, लेकिन यहां तो महिला ही महिला से चिढ़ने लगी। अब यहां महिला कोई और नहीं बल्कि ख़ुद सास थी, जो अपनी बहू से ही किलसने लगी। ये तो हद ही हो गई साहब, अब इस पर आपकी राय क्या है कमेंट ज़रूर कीजिए।

Latest articles

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...

Faridabad का ये किसान थोड़ी सी समझदारी से आज कमा रहा लाखों, यहां जानें कैसे

आज के समय में देश के युवा शिक्षा, स्वास्थ आदि क्षेत्रों के साथ साथ...

More like this

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...