HomeFaridabadपुलिस कमिश्नर ओ.पी. सिंह क्यों है इतने खुश ,पुलिस के ट्विटर पेज...

पुलिस कमिश्नर ओ.पी. सिंह क्यों है इतने खुश ,पुलिस के ट्विटर पेज की प्रोफाइल पर नीरज की फोटो का क्या है मतलब ?

Published on

हरियाणा के पानीपत जिले के निवासी नीरज चोपड़ा ने ओलंपिक में देश के लिए पहली बार गोल्ड मेडल जीतकर इतिहास रच दिया है। 11 अगस्त 2021 को ओलंपिक समापन के एक दिन पहले नीरज चोपड़ा ने देश को गोल्ड मेडल दिया। देश 121 सालों से यह सपना देख रहा था , जिसे सोनीपत के नीरज चोपड़ा ने जेवलिन में अपने भाले के दम पर हकीकत में बदल दिया है। पूरे देश में नीरज का स्वागत करने वालों की लाइने लगी हुई हैं। कई करोड़ों रुपयों की वर्षा इस समय नीरज पर की जा चुकी है।

बता दें कि सबसे पहले हरियाणा सरकार ने नीरज चोपड़ा के लिए इनाम की घोषणा की थी। राज्य के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने नीरज को 6 करोड़ पुरस्कार देने का एलान किया, वहीं पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने नीरज को दो करोड़ रुपए पुलिस कार के तौर पर देने की घोषणा की। मणिपुर सरकार ने 1 करोड़ रुपए तो भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने उन्हें 1 करोड़ रुपए पुरुस्कार के रूप में दिए जाने का एलान किया।

पुलिस कमिश्नर ओ.पी. सिंह क्यों है इतने खुश ,पुलिस के ट्विटर पेज की प्रोफाइल पर नीरज की फोटो का क्या है मतलब ?

आइपीएल टीम चेन्नई सुपर किंग्स ने भी नीरज चोपड़ा को 1 करोड़ रुपए इनाम देने की घोषणा की। केवल यही नहीं बल्कि इंडिगो ने पूरे एक साल के लिए नीरज को फ्री टिकट दिए जाने को कहा। ऐसी ही और भी कई घोषणाएं नीरज चोपड़ा के लिए की जा रही हैं। नीरज चोपड़ा पर भले ही आज करोड़ों रुपयों की बरसात हो रही हो, लेकिन एक समय वह भी था

जब उनके पास जेवलिन खरीदने तक के पैसे नहीं थे। तब हरियाणा के खेल निदेशक जोकि आज फरीदाबाद के पुलिस कमिश्नर हैं, ओपी सिंह ने उनकी मदद की थी। इस बात का खुलासा नीरज के कोच रहे नसीम अहमद ने किया।

पुलिस कमिश्नर ओ.पी. सिंह क्यों है इतने खुश ,पुलिस के ट्विटर पेज की प्रोफाइल पर नीरज की फोटो का क्या है मतलब ?

वर्ष 2011 में जब नीरज पानीपत से पंचकुला पहुंचे थे, तब नीरज ने अपने कोच के पास फोन किया था। उस समय नीरज के साथ दो तीन बच्चे भी थे। नीरज के कोच ने बताया कि उस समय हमारी आर्थिक स्थिति ठीक नहीं थी, तब मैंने खेल निदेशक रहे ओपी सिंह से बात की तो उन्होंने हमें 90 हजार रुपए दिए थे, जिससे हमने 10 – 12 जेवलिन खरीदे। वहीं से नीरज चोपड़ा के इस सफर की शुरुआत हुई जोकि आज स्वर्ण पदक विजेता हैं।

वर्तमान समय में हरियाणा खेलों का हब बन चुका है। आपको बता दें कि इस ओलंपिक में कुल 121 खिलाड़ी थे जिनमें से 30 खिलाड़ी के लिए हरियाणा से ही थे। ओलंपिक में 6 खेल प्रतियोगिताओं में भारत ने पदक अपने नाम किए हैं, जिनमें से तीन पदक हरियाणा के खिलाड़ियों ने जीते हैं। भाला फेंक प्रतियोगिता में नीरज चोपड़ा ने स्वर्ण पदक जीता है, कुश्ती में रवि दहिया ने रजत पदक अपने नाम किया तो वहीं बजरंग पुनिया ने कांस्य पदक जीता है।

पुलिस कमिश्नर ओ.पी. सिंह क्यों है इतने खुश ,पुलिस के ट्विटर पेज की प्रोफाइल पर नीरज की फोटो का क्या है मतलब ?

देश में हरियाणा की आबादी केवल दो फीसद है, जबकि प्रदेश आबादी में 18वें स्थान पर है। लगभग 10 वर्षो से हरियाणा लगातार रिकॉर्डतोड़ पदक जीत रहा है। वर्तमान में फरीदाबाद के पुलिस कमिश्नर ओपी सिंह की इसमें खास भूमिका रही है। उन्होंने हरियाणा को खेलो का हब बनाने का पूरा प्रयास किया व वे इसमें सफल भी हुए। जिसका परिणाम आज पूरे देश के सामने है।

फरीदाबाद के पुलिस के ट्विटर पेज पर नीरज चोपड़ा की भाला लिए हुए प्रोफाइल पिक का मतलब इस खबर को पड़ने के बाद सबको समझ आ जाएगा। आखिर पुलिस कमिश्नर नीरज चोपड़ा के स्वर्ण पदक जीतने पर इतने खुश क्यों है, यह बात अब समझ में आ चुकी है। भले ही आज ओपी सिंह फरीदाबाद के पुलिस कमिश्नर हैं लेकिन वे अब भी खेलों को खूब बड़ावा देते हैं।

पुलिस कमिश्नर ओ.पी. सिंह क्यों है इतने खुश ,पुलिस के ट्विटर पेज की प्रोफाइल पर नीरज की फोटो का क्या है मतलब ?

वे समय समय पर खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करते रहते हैं तथा उनकी सहायता भी करते हैं व युवाओं को नशे से दूरी बनाए रखने की समय भी वे देते हैं। ओपी सिंह पांच सालों तक हरियाणा के स्पोर्ट डायरेक्टर रहे। उन्होंने पूरी दुनिया में हरियाणा के नाम को दिया। इसके अलावा पुलिस विभाग में विशिष्ठ सेवा के लिए भी उन्हें दो बार राष्ट्रपति पुलिस पदक से नवाजा जा चुका है।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...