HomePress Releaseकड़ी मशक्कत के बाद लापता 5 वर्षीय इकलौते पुत्र को पुलिस ने...

कड़ी मशक्कत के बाद लापता 5 वर्षीय इकलौते पुत्र को पुलिस ने परिजनों से मिलाया

Published on

फरीदाबादः- 12 अगस्त को सराय ख़्वाजा थाना की पीसीआर-1 में पुलिस बल गश्त लगा रही थी। इसी क्रम में एनएचपीसी चौक पर पुलिस की नजर एक लावारिस बच्चे पर पड़ी। बच्चा घबराया हुआ इधर-उधर देखते हुए घूम रहा था।

पीसीआर-1 में उपस्थित पुलिस टीम के प्रधान सिपाही नरेन्द्र ने बच्चे के पास जाकर पुलिस वाहन रोक दिया और साथी सिपाही सुरज व एसपीओ सुभाष के साथ उस लावारिस बच्चे के बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए बच्चे को प्यार से अपने पास बुलाया।

कड़ी मशक्कत के बाद लापता 5 वर्षीय इकलौते पुत्र को पुलिस ने परिजनों से मिलाया

बच्चा रोने लगा और रोते-रोते ही उसने अपना नाम कान्हा बताया। पुलिस ने बच्चे के घर का पता जानना चाहा। इस पर बच्चा केवल इतना बता पाया कि वह किसी सब्जी मंडी के पास अपने माता-पिता के साथ रहता है।

पुलिस टीम ने बच्चे को अपने साथ गाड़ी पर बिठा लिया और सबसे पहले सेक्टर 16 स्थित सब्जी मंडी, बल्लभगढ़ गई। वहाँ बच्चे के घर का पता नहीं चल पाया।

फिर पुलिस टीम उस बच्चे को लेकर ओल्ड सब्जी मंडी गई। वहाँ भी बच्चे के घर के बारे में कोई जानकारी नहीं मिली सकी।

कड़ी मशक्कत के बाद लापता 5 वर्षीय इकलौते पुत्र को पुलिस ने परिजनों से मिलाया

पुलिस टीम ने अपना प्रयास जारी रखा और इस बार बच्चा सहित सब्जी मंडी, खेड़ी पुल पहुँची। इस सब्जी मंडी में भी पुलिस को बच्चे के अभिभावक और घर के बारे में कुछ पता नहीं चला।

सुबह होने में कुछ ही घंटे बाकी थे। पुलिस टीम ने हार नहीं मानी और अंततः बच्चे के साथ भारत कॉलोनी स्थित सब्जी मंडी पहुँच गयी। यहाँ आस-पास के लोगों से पूछताछ करने और बच्चे के बारे में पता करने पर पुलिस को जानकारी प्राप्त करने में सफलता हाथ लगी।

कड़ी मशक्कत के बाद लापता 5 वर्षीय इकलौते पुत्र को पुलिस ने परिजनों से मिलाया

अब पुलिस सफलतापूर्वक इस लापता बच्चे के घर, इसके अभिभावक तक पहुँच चुकी थी। लापता बच्चे के पिता ने बताया कि कान्हा उसका इकलौता पुत्र है और वह 12 अगस्त को सुबह घर के बाहर से खेलते-खेलते लापता हो गया था। घर के सभी लोग सुबह से बहुत परेशान थे।

अपने बच्चे को सुरक्षित पाकर उसकी माँ खुशी से रो पड़ी। बच्चे के परिजनों ने पुलिस टीम के साथ-साथ फरीदाबाद पुलिस की मानवता और कर्त्तव्य के प्रति समर्पण के लिए हृदय से आभार जताया।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...