Homeस्पैम नंबर से आ रहे थे कॉल शख्स ने जब उठाया तो,...

स्पैम नंबर से आ रहे थे कॉल शख्स ने जब उठाया तो, लगी इतने करोड़ की लॉटरी

Array

Published on

कई बार हम स्पैम नंबर्स को इग्नोर कर देते हैं। हम अक्सर स्पैम नंबर को काटना ही पसंद करते हैं। कहा जाता है किस्मत सिर्फ एक बार दरवाजा खटखटाती है, अगर आप ने समय रहते दरवाजा खोल लिया तो ठीक वरना फिर बार-बार मौका नहीं मिलता। हालांकि तस्मानिया की रहने वाली एक महिला किस्मत की कुछ ज्यादा ही धनी थी, तभी तो बार-बार अज्ञात नंबर से आ रहे फोन कॉल को नजरअंदाज करने के बावजूद उसे फोन आते रहे।

जब हमें किसी अनजान नंबर से कॉल आता है तो हम उसे ब्लॉक कर देते हैं। क्योंकि कई बार वह गलत लोगों को फ़ोन मिला देते हैं। लेकिन इस मामले में अंत में जब परेशान होकर उसने कॉल रिसीव किया तो उसकी खुशी का ठिकाना नहीं था।

स्पैम नंबर से आ रहे थे कॉल शख्स ने जब उठाया तो, लगी इतने करोड़ की लॉटरी

उसने यह बात धूम-धाम से अपने घर परिवार में बताई। किसी को पहले यकीन नहीं हुआ। बाद में जाकर महिला को समझ में आया कि कॉल पिक ना करके वो कितनी बड़ी गलती कर रही थी। महिला ने फोन पर जो कुछ भी सुना उसे जानकर आप भी हैरान रह जाएंगे। दरअसल, तस्मानिया के लॉन्सेस्टन में रहने वाली एक महिला को काफी समय से अननोन नंबर से कॉल आ रहे थे। वह स्कैम कॉल समझकर बार-बार उसे नजरअंदाज कर देती।

स्पैम नंबर से आ रहे थे कॉल शख्स ने जब उठाया तो, लगी इतने करोड़ की लॉटरी

महिला उस नंबर से काफी परेशान हो गयी थी। उसे लगा कोई उसे जान-बुचकर कॉल कर रहा है। लेकिन आखिरकार 31 जुलाई को उसने इरिटेट होकर अंत में फोन पिक कर ही लिया। उस दिन के बाद से अब महिला की जिंदगी बिल्कुल बदल चुकी है। जैसे ही महिला ने गुस्से में कॉल पिक किया तो दूसरी तरफ से उसे बताया गया कि उसने 11 करोड़ रुपए की लॉटरी जीत ली है। पहले तो उसे फिर कोई फ्रॉड कॉल लगा लेकिन जब उसे यकीन दिलाया गया तो उसकी खुशी का ठिकाना नहीं था।

स्पैम नंबर से आ रहे थे कॉल शख्स ने जब उठाया तो, लगी इतने करोड़ की लॉटरी

हमें अनजान नंबर्स से कॉल आते हैं। जिन्हें उठाना पसंद नहीं करते। अब से शायद ऐसा कम ही होगा।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...