Homeदूल्हे को थी कुछ ऐसी परेशानी, जब लिया टेस्ट तो खुल गई...

दूल्हे को थी कुछ ऐसी परेशानी, जब लिया टेस्ट तो खुल गई पोल, जानें क्यों दुल्हन ने लौटा दी बारात

Array

Published on

शादी का दिन हर किसी के लिए काफी खास होता है। बच्चों के माता पिता शादी का सपना काफी वर्षों से देखते आते हैं। आपने शादी टूटने की बहुत सारी वजहें सुनी और देखी होंगी, लेकिन उत्तर प्रदेश के औरैया जनपद से एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसे जानकर आप भी हैरत में पड़ जाएंगे। यहां दूल्हे द्वारा हिंदी का अखबार न पढ़ पाने की वजह से शादी टूट गई और दूल्हे पक्ष के खिलाफ मुकद्दमा पंजिकृत भी हो गया।

इस वजह से काफी लोग हैरत में पड़ गए हैं कि आखिर ऐसा भी हो सकता है? दूल्हे द्वारा हिंदी का अखबार न पढ़ पाने की वजह यह नहीं है कि उसे पढ़ना नहीं आता, बल्कि दूल्हा सुशिक्षित है कमी आई तो उसकी नजरों में यानी दिखाई न पढ़ना लड़के के लिए अभिशाप बन गया और शादी भी टूटी। दुल्हन भी न मिली और मुकदमा लिखा वो अलग।

दूल्हे को थी कुछ ऐसी परेशानी, जब लिया टेस्ट तो खुल गई पोल, जानें क्यों दुल्हन ने लौटा दी बारात

उसकी नज़रे कमज़ोर पड़ गयी थी। यह एक बड़ी समस्या है। दरअसल, औरैया जनपद के सदर औरैया कोतावली क्षेत्र के ग्राम जमालीपुर निवासी अर्जुन सिंह ने अपनी बेटी अर्चना की शादी शिवम निवासी बंशी थाना अछल्दा में तय की। पढ़े लिखे सुशिक्षित लड़के को देखकर अर्जुन सिंह ने पहली ही नजर में लड़के को पसंद कर लिया।

दूल्हे को थी कुछ ऐसी परेशानी, जब लिया टेस्ट तो खुल गई पोल, जानें क्यों दुल्हन ने लौटा दी बारात

लड़का सभी को काफी पसंद आ गया था। लेकिन उसकी कमजोर नज़र ने सारा खेल बिगाड़ दिया। सभी तैयारियों के साथ तय तारीख पर दहेज इत्यादि, जिसमें मोटरसाइकिल व नगदी भी देकर लगुन चढ़ाई। इसके बाद तय तारीख 20 जून को जब बारात घर पर आई. सारे लोग खुश थे। शादी की रस्मों की तैयारियां चल रही थीं।

दूल्हे को थी कुछ ऐसी परेशानी, जब लिया टेस्ट तो खुल गई पोल, जानें क्यों दुल्हन ने लौटा दी बारात

फिर अचानक ऐसा हुआ जो किसी ने सोचा भी नहीं होगा। शादी के दौरान दूल्हे के द्वारा लगातार पूरे समय नजर का चश्मा लगाए रहने की वजह से घर की महिलाओं को संदेह हुआ। इस पर जब लड़के से यानी दूल्हा बने शिवम से हिंदी का अखबार बिना चश्मे के पढ़वाया तो वह पढ़ नहीं सका। लड़का बिना चश्मा के देख नहीं सकता था। यह सुनकर वधु यानी अर्चना के द्वारा शादी करने से मना कर दिया गया, जिस पर लड़की पक्ष के सभी लोगों ने एकमत होकर लड़के पक्ष से शादी करने से मना कर दिया गया।

Latest articles

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...

Faridabad का ये किसान थोड़ी सी समझदारी से आज कमा रहा लाखों, यहां जानें कैसे

आज के समय में देश के युवा शिक्षा, स्वास्थ आदि क्षेत्रों के साथ साथ...

More like this

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...