Homeआखिर क्यों शराब पीते ही अंग्रेजी बोलने लगते हैं लोग ? जानिए...

आखिर क्यों शराब पीते ही अंग्रेजी बोलने लगते हैं लोग ? जानिए इसके पीछे का रहस्य

Published on

हम यह बात अच्छे से जानते हैं कि शराब पीना सेहत के लिए काफी हानिकारक होता है। शराब के काफी नुक्सान होते हैं। अक्सर आपने देखा होगी कि जो शख्स शराब नहीं पीता, वो काफी सोचसमझकर बात करता है और अगर उसे अंग्रेजी भाषा नहीं आती है तो वो उस भाषा में बात करने से कतराता है वहीं इसके उलट अगर वो व्यक्ति शराब पी ले, तो उसके तुरंत बाद उसकी बोली में काफी अंतर देखने को मिलता है।

शराब के नशे में अक्सर कुछ याद नहीं रहता है। कुछ भी ज़ुबां से निकालने लगता है। बिना शराब पीए हुए वही लोग अंग्रेजी बोलने में हिचकिचाते हैं लेकिन वही लोग जब नशे में होते हैं तो वो अंग्रेजी में बात करते हुए घबराते नहीं हैं।

क्या आप भी इंग्लिश बोलने में हिचकते हैं? क्या इंग्लिश बोलते हुए आप नर्वस हो जाते हैं? तो इस समस्या के समाधान के लिए एक पेग शराब गटक लीजिये। जी हां, शोध में सामने आया है कि शराब की कुछ घूंट पीते ही लोग दूसरी भाषा आसानी से बोलने लगते हैं। 

शराब पीना सेहत के लिए नुकसानदायक होता है। इसे पीने से कई तरह की बीमारियां और दुष्प्रभाव होते हैं। इंसान शराब के नशे में अन्य भाषाओं को सीखने में काफी मददगार होती है। शोधकर्ताओं ने करीब 50 जर्मन लोगों के एक समूह को अध्ययन में शामिल किया जिन्होंने हाल ही में डच भाषा सीखी थी, इस ग्रुप में शामिल कुछ लोगों को शराब दी गई जबकि कुछ लोगों को ऐसी ड्रिंक्स दी गई जिसमें एल्कोहल नहीं था उसके बाद उन लोगों को आपस में डच भाषा में बात करने के लिए कहा गया।

आखिर क्यों शराब पीते ही अंग्रेजी बोलने लगते हैं लोग ? जानिए इसके पीछे का रहस्य

शराब पीने के बाद लोग नशे में ऊल-जलूल हरकतें करने लगते हैं। यहां शराब के नशे में लोग अंग्रेजी बोलने लगते हैं। रिसर्च में इसमें यह बात सामने आयी कि जिन लोगों की ड्रिंक में एल्कोहल था उन्होंने शब्दों का सही उच्चारण किया उन लोगों में भाषा के प्रयोग के दौरान बिल्कुल भी हिचकिचाहट नहीं थी। शराब पीने के बाद वही लोग बिना किसी डर के फर्राटेदार अंग्रेजी बोलने लगते हैं क्योंकि शराब पीने के बाद उनका डर भाग जाता है और वो खुलकर बात कर पाते हैं यह सरल सा कारण है कि आप पीते ही अंग्रेजी में बात करने लगते हैं।

आखिर क्यों शराब पीते ही अंग्रेजी बोलने लगते हैं लोग ? जानिए इसके पीछे का रहस्य

आपने भी शायद यह चीज फील की होगी। अमूमन हर किसी के साथ यह होता ही है।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...