Pehchan Faridabad
Know Your City

देशभर में संक्रमित मरीजों के संख्या पहुंची 3 लाख पार, फरीदाबाद और गुरुग्राम में हालात चिंताजनक

इक्का दुक्का मरीजों की संख्या से चालू देशभर में यह आंकड़ा 3 लाख की संख्या को भी पार कर चुका है। वहीं देशभर में कोरोना वायरस के संक्रमण से जान लिलने की कैटेगरी भी हजार तक पहुंच जाएगी।

कोरोना वायरस के संक्रमण के मामलों में पिछले 10दिनों में 45-50 प्रतिशत तक गुरुग्राम, फरीदाबाद, वडोदरा, सोलापुर और गुवाहाटी में तेजी देखने को मिली है। यहां मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है।

अगर बात करे गुवाहाटी में पिछले 10 दिनों में 50% मामले है, वहीं वडोदरा में हर दिन औसतन 50 मामले सामने आ रहे हैं। गुरुग्राम में स्थिति गंभीर है। 12 जून के बीच 1,839 नए मामले दर्ज किए गए हैं। इस अवधि के दौरान संक्रमण की दर 63% के करीब रही है।

मौजूदा समय की बात करें तो राजस्थान में भरतपुर और नागौर, छत्तीसगढ़ में रायगढ़, उत्तर प्रदेश में फरीदाबाद, आगरा और लखनऊ, मध्य प्रदेश में भोपाल, इंदौर और उज्जैन और महाराष्ट्र में नागपुर भी चिंता के क्षेत्र बने हुए हैं। इन शहरों में मामलों की संख्या बढ़ने पर सरकार संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए पुरजोर कोशिश कर रही है।

हरियाणा सरकार ने शनिवार को गुरुग्राम में 32 नए नियंत्रण क्षेत्र बनाए और मध्य प्रदेश सरकार ने भोपाल में उसी तरह से परीक्षण बढ़ाने जा रही है जैसे इंदौर में किया था। इंदौर में पिछले चार दिनों में 147 और भोपाल में 163 मामले दर्ज किए गए हैं।

महाराष्ट्र में राज्य सरकार ने नागपुर में हॉटस्पॉट की संख्या में इजाफा किया, जहां दो दिनों में 100 से अधिक संक्रमण निकल कर सामने आए थे। नागपुर में आठ दिनों में 100 कोविद -19 मामले दर्ज किए गए थे और मई के अंतिम सप्ताह से यह संख्या बढ़ रही है।

देश भर से कोरोनोवायरस संक्रमण के आंकड़े बताते हैं कि भारत के कोविद -19 के 63% रोगी 15 शहरों में हैं। साथ ही, महाराष्ट्र के 54.73% मामले मुंबई से हैं। तमिलनाडु के 70% से अधिक मामले चेन्नई से हैं। गुजरात में अहमदाबाद से 70.86% मामले हैं। देश में रोगियों की संख्या के मामले में 18% के साथ महाराष्ट्र में सबसे अधिक है। दिल्ली में 12.22% और फिर तमिलनाडु में देश के कुल कोविद -19 रोगियों का 9.65% हिस्सा है।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More