HomeGovernmentहरियाणा विधानसभा स्पीकर ज्ञानचंद गुप्ता द्वारा अधिकारियों की सुरक्षा के किए गए...

हरियाणा विधानसभा स्पीकर ज्ञानचंद गुप्ता द्वारा अधिकारियों की सुरक्षा के किए गए कड़े इंतजाम

Published on

हरियाणा विधानसभा स्पीकर ज्ञानचंद गुप्ता द्वारा सोमवार को पंजाब – हरियाणा व चंडीगढ़ के उच्च अधिकारियों के साथ बैठक की गई। बैठक में हरियाणा – पंजाब विधानसभा के सात साझा रास्तों पर मानसून सत्र के दौरान अस्थाई बेरीकेडिंग किए जाने का निर्णय लिया गया। 20 अगस्त से होने वाले मानसून सत्र में मुख्यमंत्री, मंत्रियों और विधायकों की सुरक्षा के लिए पंजाब – हरियाणा व चंडीगढ़ प्रशासन के अधिकारियों की छः सदस्यीय समिति का गठन किया गया है।

बता दें कि पिछले दिनों बजट सत्र के दौरान प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल की सुरक्षा के चूक के मामले को देखते हुए विधानसभा सचिवालय इस सत्र में कोई भी जोखिम नहीं उठाना चाहता। हरियाणा विधानसभा स्पीकर ज्ञानचंद गुप्ता द्वारा सोमवार को हुई बैठक में सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए अनेक प्रकार के निर्णय लिए गए।

हरियाणा विधानसभा स्पीकर ज्ञानचंद गुप्ता द्वारा अधिकारियों की सुरक्षा के किए गए कड़े इंतजाम

सुरक्षा के मद्देनजर बनाई गई इस छः सदस्यीय समिति में पंजाब – हरियाणा व चंडीगढ़ के एसपी स्तर के पुलिस अधिकारी, दोनों विधानसभा के सुरक्षा प्रमुख और चंडीगढ़ प्रशासन के नोडल अधिकारी शामिल रहेंगे। इस मानसून सत्र के दौरान पार्किंग की व्यवस्था को लेकर भी योजना बनाई गई है।

हरियाणा विधानसभा स्पीकर ज्ञानचंद गुप्ता के कहा कि पिछली बार बजट सत्र के दौरान मुख्यमंत्री मनोहर लाल की प्रेस वार्ता के समय विधानसभा परिसर में पंजाब के कुछ अकाली विधायकों ने मुख्यमंत्री के साथ दुर्व्यवहार किया था। ज्ञानचंद गुप्ता ने भविष्य में फिर से ऐसी घटन न होने देने के लिए अफसरों को आगाह किया है। उन्होंने पुलिस अधिकारियों से सुरक्षा प्रबंधों का विस्तार से ब्योरा मांगा है।

हरियाणा विधानसभा स्पीकर ज्ञानचंद गुप्ता द्वारा अधिकारियों की सुरक्षा के किए गए कड़े इंतजाम

चंडीगढ़ प्रशासन के अधिकारियों द्वारा विधानसभा स्पीकर को आश्वासन दिया कि इस मानसून सत्र के दौरान ड्यूटी मजिस्ट्रेट प्रतिदिन विधानसभा के नियंत्रण कक्ष को रिपोर्ट देते रहेंगे। सुरक्षा व्यवस्था के लिए तैनात किए गए पुलिस कर्मियों के बीच तालमेल बनाए रखने के लिए एक व्हाट्सएप ग्रुप भी बनाया जाएगा। केवल अधिकृत वाहन ही विधानसभा परिसर में प्रवेश कर पाएंगे, जिसकी पूरी जिम्मेदारी सीआईएसएफ विंग पर रहेगी। सुरक्षा के लिए ड्यूटी पर तैनात किए गए पुलिस जवानों एवं अन्य कर्मचारियों की सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए उनके लिए पार्किंग क्षेत्र में अस्थायी कैंटीन व शौचालयों की व्यवस्था भी की गई है। इसके साथ ही विधानसभा के बाहर कोई प्रेस वार्ता न हो इसका भी ध्यान रखा गया है।

हरियाणा विधानसभा स्पीकर ज्ञानचंद गुप्ता द्वारा अधिकारियों की सुरक्षा के किए गए कड़े इंतजाम

सोमवार को ज्ञानचंद गुप्ता की बैठक में हरियाणा के मुख्य सचिव विजय वर्धन, गृह विभाग के एसीएस राजीव अरोड़ा, चंडीगढ़ के गृह सचिव अरुण गुप्ता, हरियाणा विधानसभा सचिव आरके नांदल, हरियाणा के नवनियुक्त पुलिस महानिदेशक पीके अग्रवाल, अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक सीआईडी आलोक मित्तल, आईजी सौरभ सिंह, पंजाब पुलिस के एडीजीपी एसएस श्रीवास्तव, पंजाब विधानसभा सचिव सुरिंद्र पाल, चंडीगढ़ के एडीसी एसएस माही, एसपी ट्रैफिक मनीषा चौधरी एवं सीआईएसएफ के सीनियर कमांडेंट एसपी सिंह उपस्थित रहे।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...