HomeCrimeकलयुगी मां ने छोटे बेटे संग मिल बड़े बेटे को घर में...

कलयुगी मां ने छोटे बेटे संग मिल बड़े बेटे को घर में दफनाया, इस तरह फूफा ने असलियत का पता लगाया

Published on

हरियाणा के अंतर्गत आने वाले रोहतक जिले में पिछले दिनों ब्लाइंड मर्डर का खुलासा करते हुए पुलिस ने बताया कि बड़े बेटे को मारने वाला शख्स तो कोई और नहीं बल्कि कलयुगी मां और छोटा बेटा ही था। जिन्होंने बड़े बेटे को मारकर उसके शव को घर में बने कमरे में ही दफना दिया था।

वहीं इस मामले का खुलासा तब हुआ जब मृतक के फूफा जी ने पुलिस में मृतक की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई जो कि करीबन ढ़ाई महीने से लापता था। दरअसल, मृतक के फूफा ने पुलिस को विस्तार से जानकारी देते हुए बताया था कि उनका भतीजा जिसका नाम कर्मपाल उर्फ राहुल है, और उम्र 22 साल है।

कलयुगी मां ने छोटे बेटे संग मिल बड़े बेटे को घर में दफनाया, इस तरह फूफा ने असलियत का पता लगाया

लगभग दो ढाई महीने पहले ही मारा जा चुका था, और उन्हें शंका तब हुई जब ढाई महीने होने के बाद भी वह उनसे मिलने नहीं आया। जबकि हर 15 दिन में अक्सर उसका आना-जाना अपने बुआ फूफा जी के यहां लगा रहता था।

उधर बुआ फूफा जी का कहना था कि करीबन दो ढाई महीन बाद भी जब वह उनके पास एक बार भी मिलने नहीं पहुंचा था वह सैमान गांव पहुंच गए। जहां उन्होंने देखा कि पहले जिस मकान के कमरे का फर्श कच्चा था। अब उसे नया फर्श डालकर पक्का कर दिया गया था।

कलयुगी मां ने छोटे बेटे संग मिल बड़े बेटे को घर में दफनाया, इस तरह फूफा ने असलियत का पता लगाया

तब उन्हें शक हुआ जिसके बाद उन्होंने पुलिस को शिकायत दी और पुलिस को बताया कि आरोपी मां बेटे को गिरफ्तार कर इस बारे में जांच की जाए। जिसके बाद मां बेटे को फरीदाबाद व रोहतक से गिरफ्तार किया गया। वही रविवार को ड्यूटी मजिस्ट्रेट एसएचओ राजकुमार शर्मा के नेतृत्व में शमशेर सिंह एफएसएल टीम ने मौके पर पहुंचकर फर्श को तोड़कर शव को बाहर निकाल लिया।

शव को पोस्टमार्टम के लिए रोहतक पीजीआई भेजा गया। जहां एचएसओ शमशेर सिंह ने बताया कि आरोपी मां बेटे को गिरफ्तार कर लिया गया है, हालांकि अभी तक हत्या की वजह का खुलासा नहीं हो पाया, लेकिन बताया जा रहा है कि मां और छोटे बेटे की बड़े बेटे की हमेशा ही अनबन बनी रहती थी।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...