Homeबेटे की गुल्लक से सिक्के निकालकर चालान भरने पंहुचा ऑटो चालक, पुलिस...

बेटे की गुल्लक से सिक्के निकालकर चालान भरने पंहुचा ऑटो चालक, पुलिस ने भावुक हो कर किया ये काम

Published on

बचपन में हर किसी का शौक होता है कि एक गुल्लक में वह पैसे जमा करे। हर उम्र के लोगों में यह आदत देखने को मिलती भी है। लेकिन एक ट्रैफिक पुलिसकर्मी ने अपने हालिया कदम से ऐसी मिसाल पेश की है जिसकी हर तरफ वाहवाही हो रही है। यह घटना देखते ही देखते सोशल मीडिया पर वायरल हो गई है। दरअसल, हुआ यूं कि जब युवा कार चालक को जुर्माना भरने के लिए अपने छोटे बेटे के गुल्लक से पैसे निकालने पड़े तो नागपुर के एक अधिकारी ने खुद ही इसकी जिम्मेदारी ले ली और फाइन भरने की पेशकश की।

रियल लाइफ हीरो की संज्ञा लोगों ने इसको देदी है। ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करने पर हमारा चालान काटा जाता है। नागपुर पुलिस विभाग ने हाल ही में रोहित खडसे ड्राइवर का एक ऑटो जब्त किया था। इसके बाद उन्होंने कथित रूप से यातायात नियमों का उल्लंघन करने के लिए चालान रसीद जारी की।

बेटे की गुल्लक से सिक्के निकालकर चालान भरने पंहुचा ऑटो चालक, पुलिस ने भावुक हो कर किया ये काम

बहुत बार ऐसा होता है कि हमारे पास चालान काटने के बाद पैसे मौजूद नहीं होते हैं। लेकिन नागपुर पुलिस द्वारा साझा किए गए सोशल मीडिया पोस्ट के अनुसार, उस ड्राइवर का परिवार उसकी कमाई पर ही निर्भर है, इसलिए उसने अपना ऑटो वापस पाने के लिए अपने छोटे बेटे की गुल्लक की मदद ली। सड़कों पर रात दिन जो लोग ऑटो चलाकर अपने परिवार का पालन पोषण करते हैं।

बेटे की गुल्लक से सिक्के निकालकर चालान भरने पंहुचा ऑटो चालक, पुलिस ने भावुक हो कर किया ये काम

सोशल मीडिया पर यह खबर तेजी से वायरल हो रही है। लोग इसे खूब पसंद भी कर रहे हैं। पुलिस के मुताबिक, इंस्पेक्टर मालवीय ने न सिर्फ खडसे की आर्थिक तंगी का पता चलने पर प्लास्टिक बैग के पैसे वापस कर दिए, बल्कि व्यक्तिगत रूप से उसका जुर्माना भी भर दिया। मालवीय की छोटे लड़के के पैसे लौटाते हुए की फोटो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही है।

इस घटना ने कई लोगों का ध्यान अपनी तरफ खींचा है। हर कोई पुलिस अधिकारी की तारीफ कर रहा है।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...