HomeUncategorizedकरनाल: अद्भुत विकृति के साथ जन्मा यह बच्चा, पूरे शहर में हो...

करनाल: अद्भुत विकृति के साथ जन्मा यह बच्चा, पूरे शहर में हो रही इसी की चर्चा

Published on

दुनिया में अजीबो गरीब घटनाएं हमेशा घटती रहती है। एक सामान्य इंसान के शरीर का न तो कोई अंग काम होता है और न ज्यादा। लेकिन कई बार देखने को मिला है कि किसी बच्चे के हाथ में या पैर में छः उंगलियां हैं, किसी जुड़वा बच्चे का शरीर एक दूसरे से जुड़ा हुआ है। लेकिन आज हम आपको एक ऐसे बच्चे के बारे में बताएंगे जिसकी केवल हाथों में ही नहीं बल्कि पैरों में भी छः उंगलियां हैं।

यानी बच्चे की कुल मिलाकर 24 उंगलियां हैं। एक महिला ने 24 अंगुलियों वाले एक बच्चे को जन्म दिया है और आज कल यह बच्चा चर्चा का विषय बना हुआ है।

करनाल: अद्भुत विकृति के साथ जन्मा यह बच्चा, पूरे शहर में हो रही इसी की चर्चा

बच्चे के हाथ-पांवों में इतनी उंगलियां देख परिजन ही नहीं चिकित्सक भी हैरान रह गए। लोग इसे कुदरत का करिश्मा मान रहे हैं। आस पास के इलाकों से लाेग केवल इस अनोखे बच्चे को देखने के लिए अस्पताल पहुंच रहे हैं।

करनाल: अद्भुत विकृति के साथ जन्मा यह बच्चा, पूरे शहर में हो रही इसी की चर्चा

कुंजपुरा स्वास्थ्य केंद्र में डिलीवरी के लिए भर्ती हुई रचना ने नार्मल रूप से बच्चे को जन्म दिया। लेकिन यहां तैनात चिकित्सक उस समय चौंक गए जब उन्होंने बेबी केयर ले जाकर बच्चे की जांच की और दोनों हाथ व दोनों पांवों में छः छः उंगलियां मिली। उन्होंने उसी समय बच्चे के परिजनों को इसके बारे में जानकारी दी तो वे भी हैरान रह गए। आसपास के मरीजों व तिमारदारों में भी यह सूचना फैल गई और सभी बच्चे को देखने अस्पताल पहुंच गए।

करनाल: अद्भुत विकृति के साथ जन्मा यह बच्चा, पूरे शहर में हो रही इसी की चर्चा

बच्चे के भाई के हाथ में भी हैं छः उंगलियां

वहीं बच्चे को जन्म देने वाली मां रचना ने बताया कि उनका एक पांच वर्षीय बेटा है, जिसके एक हाथ में छः अंगुलियां हैं। लेकिन उन्होंने पहले कभी नहीं सुना था कि किसी के दोनों हाथ व दोनों पांवों में भी छः – छः उंगलियां भी हो सकती हैं। यह भगवान की देन हैं और वे इससे बेहद खुश है।

चिकित्सक बोले–कुदरत की लीला है यह

करनाल: अद्भुत विकृति के साथ जन्मा यह बच्चा, पूरे शहर में हो रही इसी की चर्चा

चिकित्सक शशी बाला का कहना है कि 20 साल के करियर में आज तक एक भी ऐसे बच्चे ने जन्म नहीं लिया है, जिसके हाथ-पांव में इतनी उंगुलियां हों। उन्होंने कहा कि यह कुदरत की ही लीला है। मां और बेटा दोनों ही पूरी तरह से स्वस्थ है। बच्चे का जन्म नार्मल डिलीवरी के तहत हुआ है। इस बच्चे को देख अस्पताल का पूरा स्टाफ ही नहीं बल्कि दूसरे मरीज व उनके साथ आए लोग भी हैरान हो गए। अब आस-पास के गांव से भी लोग बच्चे को देखने पहुंच रहे हैं।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...