Homeऑटो ड्राइवर ऐसा भी : 20 लाख रुपए की ज्वैलरी से...

ऑटो ड्राइवर ऐसा भी : 20 लाख रुपए की ज्वैलरी से भरा बैग लौटाया पेश की मिसाल

Array

Published on

ज्यादातर सभी लोग ज्यादा से ज्यादा पैसा कमाने के पीछे भाग रहे हैं। दुनिया में अच्छे लोगों की कमी नहीं। इस बात के सबूत हम सबको समय समय पर मिलते ही रहते हैं। अच्छाई और ईमानदारी की ऐसी ही मिसाल पेश की है चेन्नई के ऑटो ड्राइवर सर्वना कुमार ने। जिन्होंने उनके ऑटो में छूटे सोने के गहनों से भरा बैग वापस लौटाया। 20 लाख के सोने के गहने लौटाने के कारण सर्वना कुमार की ना सिर्फ हर तरफ तारीफ हो रही है बल्कि उन्हें इसके लिए ईनाम भी मिला है।

सोशल मीडिया पर भी लोग उनकी ईमानदारी के गुणगान कर रहे हैं। पैसा कमाने के लिए लोग ना जाने क्या-क्या नहीं करते हैं। चेन्नई में ऑटो चलाने वाले सर्वना के ऑटो में सवारी उतरते समय गलती से अपना बैग छोड़ गई। चेन्नई के एक कारोबारी, पॉल ब्राइट सर्वना के ऑटो में बैठे और अपने घर पर उतरते वक़्त अपना बैग ऑटो में छोड़ गए। सर्वना ने उनसे पैसे लिए और वहां से चले गए।

ऑटो ड्राइवर ऐसा भी : 20 लाख रुपए की ज्वैलरी से भरा बैग लौटाया पेश की मिसाल

लोग अच्छे या बुरे तरीके से बस पैसा कमाने की तरकीब ढूंढते रहते हैं परंतु ऐसा नहीं है कि सभी लोगों के लिए सिर्फ पैसा ही मायने रखता है। सर्वना को थोड़ी देर बाद पता चला कि पॉल का बैग उन्हीं के ऑटो में रह गया है। सर्वना ने चेक किया तो उसमें सोने के गहने थे। वो उन्हें बैग वापस करने की सोचने लगे लेकिन उनके पास पॉल का नंबर नहीं था।

ऑटो ड्राइवर ऐसा भी : 20 लाख रुपए की ज्वैलरी से भरा बैग लौटाया पेश की मिसाल

दुनिया में पैसा तो कोई भी कमा सकता है लेकिन सम्मान कमाना पैसा कमाने से बड़ी चीज है। गहनों का बैग न मिलने की वजह से पॉल ने फ़ौरन पुलिस थाने में कंप्लेंट लिखवाई पर उनके पास ऑटो का नंबर नहीं था। CCTV फ़ुटेज से ऑटो का पता लगाया गया, जोकि सर्वना की बहन के नाम पर रजिस्टर था। लेकिन इससे पहले की पॉल सर्वना के पास जाते, वो ख़ुद ही बैग लेकर पुलिस के पास पहुंच गए। जब सर्वना ने पॉल को यह बैग दिया, तो पॉल की आंखों में आंसू आ गए।

ऑटो ड्राइवर ऐसा भी : 20 लाख रुपए की ज्वैलरी से भरा बैग लौटाया पेश की मिसाल

समाज में ऐसे बहुत से लोग हैं जो तमाम मोह बंदिशों से अलग आज भी ईमानदारी और इंसानियत की मिसाल पेश करते हैं। सर्वना की ईमानदारी के लिए पुलिस ने उन्हें सम्मानित किया. जिस पर सर्वना का कहना था कि उन्होंने कुछ स्पेशल नहीं किया। उन्हें पता है कि ईमानदारी ही उन्हें जीवन में आगे ले जाएगी।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...