Home2 हजार साल पहले समुद्र में डूब गया था ये शहर, अब...

2 हजार साल पहले समुद्र में डूब गया था ये शहर, अब पानी के अंदर से निकला बेशकीमती खजाना

Published on

पृथ्वी का आकार बहुत बड़ा है जिसके लगभग 70% भाग पर जल है जिसे हम महासागर कहते हैं। दुनिया कब बनी इसकी सटीक जानकारी किसी को नहीं है। वैज्ञानिक अपने खोज के हिसाब से इसका अनुमान जरूर लगाते हैं लेकिन इसका असल जवाब अभी तक किसी को नहीं पता। कुछ लोगों कि लाखों-करोड़ों सालों से पृथ्वी का अस्तित्व है। इस बीच कई सभ्यताएं जन्मी और समय के साथ उनका अंत हुआ। कई शहर बसे और उजड़ गए।

इन शहरों की खोज कई साइंटिस्ट और रिसर्चर्स करते रहते हैं। पृथ्वी की उत्पत्ति के बारे में काफी लोगों के अलग-अलग मत हैं। वैज्ञानिकों के अनुसार पृथ्वी करोड़ों साल पहले उत्पन्न हुई। पृथ्वी पर पहले अधिक तापमान था फिर धीरे-धीरे यह तापमान कम होता गया और मनुष्य का उद्विकास हुआ। हाल ही में इजिप्ट के कुछ रिसर्चर्स ने करीब दो हजार साल पहले पानी में डूब गए एक शहर का पता लगाया है। ये आज भी समुद्र में डूबा है और कहा जा रहा है कि इसमें बेशुमार खजाना है।

2 हजार साल पहले समुद्र में डूब गया था ये शहर, अब पानी के अंदर से निकला बेशकीमती खजाना

लाखों करोड़ों साल पहले की इस पृथ्वी पर काफी समय से मनुष्य निवास कर रहा है। इजिप्ट के रिसर्चर्स ने इस शहर का नाम Thonis-Heracleion रखा है। इस खो चुके शहर की खोज समुद्र के बीचे की गई। रिसर्चर्स के मुताबिक़, इसे एलेग्जेंडर ने 331 BCE में बसाया था। इस शहर को European Institute for Underwater Archaeology की टीम ने खोजा। वो सालों से इस शहर की खोज कर रहे थे। अब जाकर सफलता उनके हाथ लग गई।

2 हजार साल पहले समुद्र में डूब गया था ये शहर, अब पानी के अंदर से निकला बेशकीमती खजाना

टीम ने अपनी खोज के बारे में खुद ही घोषणा की। उन्होंने बताया कि इस खोज में इन्हें काफी दिलचस्प और कीमती चीजें मिली हैं। अलग-अलग समय पर अलग-अलग संस्कृतियों और सभ्यताओं ने जन्म लिया है। लाखों साल पुरानी सभ्यताएं खत्म हो गई फिर नई सभ्यताओं का विकास हुआ और वह भी आगे चलकर खत्म हो गई इस तरह से पृथ्वी पर मनुष्य का विकास का क्रम धीरे धीरे बढ़ता हुआ चला गया।

2 हजार साल पहले समुद्र में डूब गया था ये शहर, अब पानी के अंदर से निकला बेशकीमती खजाना

भू वैज्ञानिकों की खोज हमेशा जारी रहती है तथा नए-नए रहस्य पृथ्वी से निकल कर आते हैं। इजिप्ट के इस शहर के बारे में रिसर्चर्स ने बताया कि अपने समय का ये बसा-बसाया समृद्ध शहर था।

Latest articles

फरीदाबाद कालीबाड़ी में हुआ निशुल्क मेगा स्वस्थ जाँच शिविर का आयोजन

30 September 2022 को फरीदाबाद कालीबाड़ी सेक्टर 16 के प्रांगण में एक निशुल्क मेगा...

पंडित सुरेंद्र शर्मा बबली की भतीजी भानुप्रिया पराशर ने किया फरीदाबाद का नाम रोशन, इसरो में हुआ चयन

फरीदाबाद, 30 सितंबर। ओल्ड फरीदाबाद के बाढ़ मोहल्ले में रहने वाली भानुप्रिया पराशर का...

आप जिला अध्यक्ष धर्मबीर भड़ाना ने एनआईटी-86 के शमशान घाट में बैठकर किया प्रदर्शन

श्मशान घाट के सीवर का पानी पीने को मजबूर है एनआईटी 86 के लोग...

फरीदाबाद की बेटी ने रचा इतिहास, बोलने और सुनने में नहीं हैं सक्षम, लोगों को चौकाया वकील बनकर

भारत में जहाँ लोग अपने लक्ष्य को हासिल करने के लिए दिन रात एक...

More like this

फरीदाबाद कालीबाड़ी में हुआ निशुल्क मेगा स्वस्थ जाँच शिविर का आयोजन

30 September 2022 को फरीदाबाद कालीबाड़ी सेक्टर 16 के प्रांगण में एक निशुल्क मेगा...

पंडित सुरेंद्र शर्मा बबली की भतीजी भानुप्रिया पराशर ने किया फरीदाबाद का नाम रोशन, इसरो में हुआ चयन

फरीदाबाद, 30 सितंबर। ओल्ड फरीदाबाद के बाढ़ मोहल्ले में रहने वाली भानुप्रिया पराशर का...

आप जिला अध्यक्ष धर्मबीर भड़ाना ने एनआईटी-86 के शमशान घाट में बैठकर किया प्रदर्शन

श्मशान घाट के सीवर का पानी पीने को मजबूर है एनआईटी 86 के लोग...