HomePress Releaseराष्ट्रीय पोषण सप्ताह के तहत पहचान एनजीओ की टीम ने फरीदाबाद के...

राष्ट्रीय पोषण सप्ताह के तहत पहचान एनजीओ की टीम ने फरीदाबाद के स्लम एरिया में बांटा खाना व स्वास्थ्य के प्रति किया जागरूक

Published on

नेशनल न्यूट्रीशन वीक अर्थात् राष्ट्रीय पोषण सप्ताह प्रत्येक वर्ष 1 सितंबर से 7 सितंबर तक मनाया जाता है। राष्ट्रीय पोषण सप्ताह को मनाए जाने का मुख्य उद्देश्य है कि लोग अपने खानपान एवं हेल्थ के प्रति जागरूक रहें। इसके माध्यम से लोगों को जागरूक किया जाता है कि लोग स्वस्थ शरीर के महत्व को समझने के साथ ही हेल्थी लाइफस्टाइल को भी अपनाएं।

पहचान एनजीओ की टीम ने भी फरीदाबाद के स्लम इलाकों में राष्ट्रीय पोषण सप्ताह के तहत खाना बांटा।प्रत्येक वर्ष 1 से 7 सितंबर तक चलने वाले राष्ट्रीय पोषण सप्ताह के तहत पहचान एनजीओ की टीम द्वारा एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसे “होप ऑफ बैग” का नाम दिया गया।

राष्ट्रीय पोषण सप्ताह के तहत पहचान एनजीओ की टीम ने फरीदाबाद के स्लम एरिया में बांटा खाना व स्वास्थ्य के प्रति किया जागरूक

पहचान एनजीओ की टीम ने फरीदाबाद के झुग्गी – झोपड़ियों वाले इलाकों में फूड डोनेशन ड्राइव की। जिसके तहत उन्होंने खाना दान दिया तथा लोगों को खाने का महत्व भी समझाया। स्लम एरिया के लोगों के लिए फूड ग्रेन शिल्पा गुप्ता द्वारा भी पहचान एनजीओ की टीम को खाना दान दिया गया।

राष्ट्रीय पोषण सप्ताह के तहत पहचान एनजीओ की टीम ने फरीदाबाद के स्लम एरिया में बांटा खाना व स्वास्थ्य के प्रति किया जागरूक

नेशनल न्यूट्रीशन वीक प्रत्येक वर्ष एक टीम के मनाया जाता है। इस वर्ष इसकी थीम “शुरू से ही स्मार्ट फीडिंग” है। अमेरिकन डायटेटिक एसोसिएशन अर्थात् न्यूट्रीशन और डाइट साइंस एकेडमी ने राष्ट्रीय पोषण सप्ताह को पहली बार मार्च 1975 में मनाया था। इसे लोगों को खाने एवं हेल्थ के प्रति जागरूक करने के उद्देश्य से मनाया गया था।

राष्ट्रीय पोषण सप्ताह के तहत पहचान एनजीओ की टीम ने फरीदाबाद के स्लम एरिया में बांटा खाना व स्वास्थ्य के प्रति किया जागरूक

हैरियत की बात है कि 1980 में लोगों द्वारा इसे इतना अच्छा रिस्पॉन्स मिला कि एक सप्ताह नहीं बल्कि पूरे महीने इसे मनाया गया। 1982 में भारत में केंद्र सरकार द्वारा एक अभियान राष्ट्रीय पोषण सप्ताह शुरू करने के निर्णय लिया गया। यह अभियान लोगों को पोषण के महत्व के बारे में शिक्षित करने एवं हेल्थी लाइफस्टाइल जीने का आग्रह करने के नजरिए से मनाया गया था।

राष्ट्रीय पोषण सप्ताह के तहत पहचान एनजीओ की टीम ने फरीदाबाद के स्लम एरिया में बांटा खाना व स्वास्थ्य के प्रति किया जागरूक

वर्तमान में इस महामारी के युग में राष्ट्रीय पोषण सप्ताह का काफी महत्व है। लोगों को चाहिए कि इस महामारी के समय में वे अपनी हेल्थ के प्रति जागरूक व सजग बने रहें। लोग अपने खानपान में ऐसी चीजों को अधिक शामिल करें जो उनके इम्यूनिटी सिस्टम एवं शरीर को मजबूत बनाने में मदद करें।

राष्ट्रीय पोषण सप्ताह के तहत पहचान एनजीओ की टीम ने फरीदाबाद के स्लम एरिया में बांटा खाना व स्वास्थ्य के प्रति किया जागरूक

हमारे दैनिक जीवन में पौष्टिक आहार कितना जरूरी है, इसके बारे में लोगों को जागरूक करने के लिए भारत सरकार के महिला एवं बाल विकास मंत्रालय का खाद्य और पोषण बोर्ड राष्ट्रीय पोषण सप्ताह के सप्ताह भर चलने वाले इस वार्षिक उत्सव का आयोजन किया जाता है।पहचान एनजीओ की टीम द्वारा स्लम एरिया में फूड डोनेशन ड्राइव का मेन मोटिव भी लोगों को हेल्थी फ़ूड और न्यूट्रीशन के प्रति जागरूक करना ही है।

Latest articles

फरीदाबाद कालीबाड़ी में हुआ निशुल्क मेगा स्वस्थ जाँच शिविर का आयोजन

30 September 2022 को फरीदाबाद कालीबाड़ी सेक्टर 16 के प्रांगण में एक निशुल्क मेगा...

पंडित सुरेंद्र शर्मा बबली की भतीजी भानुप्रिया पराशर ने किया फरीदाबाद का नाम रोशन, इसरो में हुआ चयन

फरीदाबाद, 30 सितंबर। ओल्ड फरीदाबाद के बाढ़ मोहल्ले में रहने वाली भानुप्रिया पराशर का...

आप जिला अध्यक्ष धर्मबीर भड़ाना ने एनआईटी-86 के शमशान घाट में बैठकर किया प्रदर्शन

श्मशान घाट के सीवर का पानी पीने को मजबूर है एनआईटी 86 के लोग...

फरीदाबाद की बेटी ने रचा इतिहास, बोलने और सुनने में नहीं हैं सक्षम, लोगों को चौकाया वकील बनकर

भारत में जहाँ लोग अपने लक्ष्य को हासिल करने के लिए दिन रात एक...

More like this

फरीदाबाद कालीबाड़ी में हुआ निशुल्क मेगा स्वस्थ जाँच शिविर का आयोजन

30 September 2022 को फरीदाबाद कालीबाड़ी सेक्टर 16 के प्रांगण में एक निशुल्क मेगा...

पंडित सुरेंद्र शर्मा बबली की भतीजी भानुप्रिया पराशर ने किया फरीदाबाद का नाम रोशन, इसरो में हुआ चयन

फरीदाबाद, 30 सितंबर। ओल्ड फरीदाबाद के बाढ़ मोहल्ले में रहने वाली भानुप्रिया पराशर का...

आप जिला अध्यक्ष धर्मबीर भड़ाना ने एनआईटी-86 के शमशान घाट में बैठकर किया प्रदर्शन

श्मशान घाट के सीवर का पानी पीने को मजबूर है एनआईटी 86 के लोग...