HomePoliticsओपी चौटाला ने खट्टर पर साधा निशाना, नकारात्मक पशु से कर दी...

ओपी चौटाला ने खट्टर पर साधा निशाना, नकारात्मक पशु से कर दी सीएम खट्टर की तुलना

Published on

जब से केंद्र सरकार द्वारा किसानों के हित के नाम पर कृषि कानून पारित किया है तब से किसानों ने सरकार की नाक में दम कर रखा है कभी विरोध प्रदर्शन तो कभी भारत बंद जैसे प्रदर्शन कर किसान सरकार को कृषि कानून वापस लेने के लिए बाधित कर रही है। इन सब का नकारात्मक प्रभाव सबसे ज्यादा बीजेपी पार्टी और उससे भी ज्यादा हरियाणा के वर्तमान मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के ऊपर पड़ गए क्योंकि काफी लंबे समय से किसान खट्टर को निशाने पर लेने पर तुले हुए हैं।

मगर अब प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ओपी चौटाला भी इसी कड़ी में जुड़ गए है। दरअसल, आज पानीपत में चौधरी देवीलाल के जन्मदिवस पर जींद में होने वाले कार्यक्रम का निमंत्रण देने पहुंचे थे। जहां इनेलो कार्यकर्ताओं ने पूर्व मुख्यमंत्री का जोरदार स्वागत किया। इतना ही नहीं ओम प्रकाश चौटाला ने भी मुख्यमंत्री को निशाने पर लेते हुए उनकी तुलना आवारा पशु से कर डाली।

ओपी चौटाला ने खट्टर पर साधा निशाना, नकारात्मक पशु से कर दी सीएम खट्टर की तुलना

उन्होंने कहा कि वह तो कुछ भी बयान दे देते हैं जिस पर मैं कोई भी कटाक्ष करना नहीं चाहता हूं, लेकिन बावजूद खट्टर किसे कहते हैं यह भी मुझे आपको बताना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि हमारे यहां खट्टर आवारा पशु को कहा जाता है।

ओपी चौटाला का विवादित बयान यहीं नहीं थमा। आगे भी उन्होंने सीधे तौर पर तो नहीं, लेकिन इशारों ही इशारों में प्रदेश के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि वह व्यक्ति विशेष के बारे में बातचीत नहीं करना चाहते. हालांकि उन्होंने यह जरूर कहा कि प्रदेश की सरकार लुटेरों की सरकार है. उसमें दुष्यंत चौटाला भी शामिल है।

ओपी चौटाला ने खट्टर पर साधा निशाना, नकारात्मक पशु से कर दी सीएम खट्टर की तुलना

वहीं मुजफ्फरनगर में हुई किसान महापंचायत को लेकर चौटाला ने कहा कि प्रजातांत्रिक प्रणाली में सरकार को जनता की आवाज और मांगें माननी पड़ती है। अगर वह ऐसा नहीं करती है तो संगठन में प्रदर्शनों के बलबूते जनता सरकार को झुका भी सकती है और उसका पतन भी कर सकती है। भले ही पक्ष विपक्ष एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगाने से बाज नहीं आ रहे। मगर इसमें किसानों का कहीं भी
भला होता हुआ नहीं दिखाई दे रहा है।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...