Home49 साल बाद पत्नी को मिली पति की ज़िंदा होने की खबर,...

49 साल बाद पत्नी को मिली पति की ज़िंदा होने की खबर, 1971 के जंग में पाकिस्तान ने किया था अरेस्ट

Array

Published on

49 साल यह बहुत ही लम्बा समय होता है एक वैवाहिक जीवन व्यतीत करने के लिए। जालंधर की 75 साल की सत्या देवी को 49 साल बाद बड़ी खुशखबरी मिली है। इतना लंबा समय बीत जाने के बाद अब राष्ट्रपति कार्यालय की ओर से पत्र भेजकर उन्हें जानकारी दी गई है कि उनके पति मंगल सिंह जिंदा हैं और पाकिस्तान की कोट लखपत जेल में बंद है।

राष्ट्रपति कार्यालय से उन्हें लिखित में बताया गया हैं की उनका पति जिन्दा हैं और पाकिस्तान की जेल में बंद हैं। मंगल सिंह को 1971 की जंग के दौरान पाकिस्तानी सेना ने गिरफ्तार कर लिया था और उसके बाद से ही सत्या का हर दिन अपने पति के इंतजार में बीता है।

49 साल बाद पत्नी को मिली पति की ज़िंदा होने की खबर, 1971 के जंग में पाकिस्तान ने किया था अरेस्ट

जब उन्हें इस बात की जानकारी हुई तो पहले उन्हें भरोसा ही नहीं हुआ। खुशखबरी मिलने के बाद उनका कहना है कि उन्हें उम्मीद बंधी है कि पाकिस्तान की जेल से उनके पति की रिहाई होगी और हम उनसे मिल सकेंगे। 1971 की जंग के दौरान जिस समय पाकिस्तानी सेना ने मंगल सिंह को गिरफ्तार किया था उस समय मंगल की उम्र महज 27 साल थी। उस समय सत्या की गोद में दो छोटे-छोटे बच्चे थे। बड़े बेटे की उम्र 3 साल जबकि दूसरे बेटे की उम्र 2 साल थी।

49 साल बाद पत्नी को मिली पति की ज़िंदा होने की खबर, 1971 के जंग में पाकिस्तान ने किया था अरेस्ट

उन्होंने अपने पति की जानकारी हासिल करने के लिए खूब संघर्ष किया और भारत सरकार को कई पत्र भेजे। त्या ने पति के इंतजार में करीब 5 दशक गुजार दिए। उनका कहना है कि बच्चों का पालन पोषण करने में उन्हें काफी संघर्षों का सामना करना पड़ा, लेकिन मैंने कभी हार नहीं मानी। उन्होंने पति के इंतजार की उम्मीद भी कभी नहीं छोड़ी और लगातार इस बाबत भारत सरकार को चिट्ठी लिखती रहीं।

49 साल बाद पत्नी को मिली पति की ज़िंदा होने की खबर, 1971 के जंग में पाकिस्तान ने किया था अरेस्ट

उनकी कोशिशों ने रंग दिखाया और अब उन्हें राष्ट्रपति कार्यालय की ओर से पति के जिंदा होने की सूचना दी गई है। उनके पति के पाक की जेल में बंद होने की जानकारी के साथ ही पत्र में यह भी कहा गया है कि पाकिस्तान की सरकार से बात करके मंगल सिंह की रिहाई के प्रयासों में तेजी लाई जाएगी।

Latest articles

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...

Faridabad का ये किसान थोड़ी सी समझदारी से आज कमा रहा लाखों, यहां जानें कैसे

आज के समय में देश के युवा शिक्षा, स्वास्थ आदि क्षेत्रों के साथ साथ...

More like this

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...