HomeIAS इंटरव्यू में साड़ी के पल्लू को लेकर पूछा सवाल, यह जवाब...

IAS इंटरव्यू में साड़ी के पल्लू को लेकर पूछा सवाल, यह जवाब देकर युवती बनी टॉपर

Array

Published on

आपने अक्सर यूपीएससी आईएएस परीक्षा के फाइनल राउंड यानी इंटरव्यू के सवालों के बारे में सुना होगा। यह सवाल बेहद ही कठिन होते हैं। यूपीएससी सिविल सेवा परिणामों में टॉपर्स की सूची में इंजीनियरों का दबदबा बना हुआ है, वहीं डॉ अपाला मिश्रा ने डेंटल सर्जरी की डिग्री के साथ 9वां स्थान हासिल किया है। अपाला ने इंटरव्यू बेहतरीन ढंग से दिया कि एक रिकॉर्ड बना डाला।

हमारे देश में UPSC परीक्षा सबसे कठिन मानी जाती है। तैयारी करने के लिए उम्मीदवार दिन रात एक कर देते हैं। अपाला ने बताया कि इंटरव्यू राउंड में उन्हें 215 अंक हासिल हुए थे और उनका दावा है कि यह एक नया रिकॉर्ड है आज तक किसी ने भी इंटरव्यू राउंड में इतने अंक हासिल नहीं किए हैं।

IAS इंटरव्यू में साड़ी के पल्लू को लेकर पूछा सवाल, यह जवाब देकर युवती बनी टॉपर

अपाला ने न केवल परीक्षा पास की, बल्कि व्यक्तित्व परीक्षण चरण में उच्चतम अंक भी प्राप्त किए। अपाला मिश्रा ने यूपीएससी की दोनों परीक्षा पास करके इंटरव्यू राउंड दिया इस समय उन्हें 40 मिनट तक है सवाल पूछे गए जिनका उन्होंने बेहतरीन ढंग से जवाब दिया। अपाला मिश्रा ने बताया कि इंटरव्यू शुरू होने से पहले वह थोड़ी सी नर्वस दिखाई दे रही थी लेकिन उसने अपने आत्मविश्वास को डगमगाने नहीं दिया।

IAS इंटरव्यू में साड़ी के पल्लू को लेकर पूछा सवाल, यह जवाब देकर युवती बनी टॉपर

टॉपर बनकर इन्होनें अपनी सफलता का श्रेय सेल्फ स्टडी को दिया है। इंटरव्यू में आपके प्रेजेंटेशन के साथ-साथ आपकी पर्सनलिटी स्किल्स को भी बारीकी से देखा जाता है। हर एक छोटी छोटी चीज पर गौर किया जाता है और हर एक हरकत को बारीकी से तराशते हैं। अपाला मिश्रा से इंटरव्यू राउंड के दौरान एक बेहद रोचक सवाल पूछा गया उनसे सवाल पूछा कि उन्होंने साड़ी किस तरह की पहनी है और उसकी साड़ी पर बनी बॉर्डर क्या दर्शाती है।

IAS इंटरव्यू में साड़ी के पल्लू को लेकर पूछा सवाल, यह जवाब देकर युवती बनी टॉपर

अपला मिश्रा ने यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा में 9वीं रैंक हासिल की है, कड़ी लड़ाई के बाद आराम महसूस कर रही हैं। उस सवाल का जवाब देते हुए अपाला ने बताया कि इस साड़ी की बॉर्डर पर एक वर्ली पेंटिंग की गई है जो महाराष्ट्र के सहयाद्री की है और इस बॉर्डर पर किया गया काम सामान्य जनजीवन को दर्शाता है। डॉक्टर अपाला के इस जवाब से इंटरव्यू लेने वाले काफी संतुष्ट दिखाई दिए।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...