HomeFaridabadहरियाणा के काबिल युवाओं की सरकारी नौकरी चुराने वाला गिरोह गिरफ्तार, किये...

हरियाणा के काबिल युवाओं की सरकारी नौकरी चुराने वाला गिरोह गिरफ्तार, किये हैरान कर देने वाले खुलासे

Published on

अब हरियाणा में सरकारी नौकरी के योग उम्मीदवारों को को पैसों के लिए एक तरफ रख नौकरी चुराने वाला गिरोह सोनीपत और प्रोग्राम जिले की STF यूनिट ने काबू कर लिया है। साथ ही ये सरकारी परीक्षा करवाता था और पुलिस ने इस ग्रुप को साथ गुर्गों को गिरफ्तार किया।पुलिस ने इस गिरोह से 130 फोन और 6 लैपटॉप बरामद और सबसे बड़ी बात तो यह है कि गिरोह नालायक लोगों को अक्सर बनाने के लिए विदेशी होकर और हैकिंग सॉफ्टवेयर टूल्स का इस्तेमाल करते थे। बाहर बैठकर कैंडिडेट का कम्प्यूटर रिमोर्ट एक्सेस कर एग्जाम करवाते है।

साथ ही आपको बता दे की अब तक देशभर में फैला यह गिरोह 2012 से अब तक 500 से ज़्यादा को गलत तरीके से पेपर सॉल्व करवा अफसर बनवा चुका है।

हरियाणा के काबिल युवाओं की सरकारी नौकरी चुराने वाला गिरोह गिरफ्तार, किये हैरान कर देने वाले खुलासे

गिरफतार सदस्यों में कोई बड़े एग्जाम में धोखाधड़ी करने की बात भी कुबूली है। साथ ही पुलिस गिरोह से जुड़े अन्य गुर्गों का पूरा ब्यौरा खंगाल रही है। लेकिन फिलहाल पुलिस के पास इस सवाल का कोई जवाब नहीं है कि ऑनलाइन परीक्षाओं में फर्जीवाड़ा कर अफसर बनने वालों के खिलाफ क्या कार्रवाई होगी।इस फर्जीवाड़ा करने वाले की जानकारी शुक्रवार को सोनीपत एसटीएफ ने दी।और एसटीएफ प्रभारी का कहना हैं कि 500 से ज्यादा फर्जी अफसरों की बात सामने आई है।

एसटीएफ अभी तक मामले में एक लाख और 50 हजार के हरियाणा निवासी दो इनामी सहित कुल 7 आरोपियों को गिरफ्तार कर चुकी है। साथ ही इनामी सहित 7 आरोपियों को भी गिरफ्तार कर चुके हैं। सातों में 3 सोनीपत के गांव गोरड़ के रहने वाले हैं और 4 नागपुर के रहने वाले हैं। आरोपियों से पुलिस 10 मोबाइल फोन, 6 लैपटॉप और 130 सिमकार्ड बरामद कर चुकी है।और पूछताछ में सामने आया की इनका सबका जाल पंचकूला-मोहाली, यमुनानगर, पानीपत, सोनीपत सहित पंजाब, राजस्थान, जयपुर, दिल्ली, महाराष्ट्र, वडरा और नागपुर आदि समेत कई जगहों पर फैला हुआ है। और इन्होंने गिरोह ने लैब लेकर धंधे को काफी बड़ा रूप दे दिया है।

हरियाणा के काबिल युवाओं की सरकारी नौकरी चुराने वाला गिरोह गिरफ्तार, किये हैरान कर देने वाले खुलासे

और हरियाणा में भी 9 से ज्यादा लैब का खुलासा हो चुका है।जिसमे से अकेले सोनीपत में 3 लैब हैं।गौरतलब है कि पानीपत में इस गिरोह की लैब पकड़ने के बाद गुरुवार को एसपी पानीपत शशांक कुमार सावन ने मामले की जानकारी दी थी। हालाकि अभी तक पुलिस अधिकारी यह नहीं बता पाए कि फर्जीवाड़ा कर अफसर बनने वालों के खिलाफ क्या कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

पुलिस के अनुसार,शातिर ठग देसी-विदेशी सॉफ्टवेयर हैकर बुलाकर या फिर हैकिंग सॉफ्टवेयर टूल्स का इस्तेमाल कर परीक्षा सेंटर की लैब हैक कर लेते थे।और उसके बाद डील में शामिल परीक्षार्थी का पेपर पास कराया जाता है।एग्जाम में कैंडिडेट को ऑटोमैटिक तरीके से जो कंप्यूटर सिस्टम अलॉट होता है, नकल कराने के लिए हैक कर लिया जाता है। और जब कम्प्यूटर काम नहीं करता तो कैंडिडेट को दूसरे सिस्टम पर बैठाया जाता है। कंप्यूटर में न केवल इंटरनेट कनेक्शन होता है, बल्कि इसमें एक खास सॉफ्टवेयर भी होता है। असली काम एग्जाम सेंटर से दूर बैठा मास्टरमाइंड और उसके साथी करते हैं। एग्जाम पास कराने की एवज में कैंडिडेट से लाखों की डील होती है।

हरियाणा के काबिल युवाओं की सरकारी नौकरी चुराने वाला गिरोह गिरफ्तार, किये हैरान कर देने वाले खुलासे

आपको बता दे कि कैंडिडेट जब ऑनलाइन एग्जाम के लिए सेंटर पर जाता है तो उसकी बॉयोमैट्रिक एंट्री होती है। और साथ ही उसे लॉगइन आईडी और पासवर्ड के साथ कंप्यूटर सिस्टम अलॉट होता है। अब नकल कराने के लिए आरोपी अपने कैंडिडेट के बैठते ही उसका कंप्यूटर हैक कर लेते हैं। ऐसे में उसे दूसरी सीट अलॉट की जाती है। कर्मचारियों से साठगांठ की वजह से उसे दूसरे फिक्स कंप्यूटर पर बैठाया जाता है। इसके बाद रिमोर्ट एक्सेस कर शातिर 10-12 लोगों के साथ एग्जाम सेंटर से दूर बैठकर सॉफ्टवेयर से पेपर सॉल्व करवाता था। वे अपने मोबाइल पर गूगल से आंसर ढूंढते हैं। इस दौरान एग्जाम सेंटर के अंदर बैठा कैंडिडेट सिर्फ माउस हिलाने का काम करता है। इससे दूसरे कैंडिडेट्स को भी शक नहीं होता है।

हरियाणा के काबिल युवाओं की सरकारी नौकरी चुराने वाला गिरोह गिरफ्तार, किये हैरान कर देने वाले खुलासे

इस गिरोह की शातिर चालें देखकर पुलिस तो हैरान है, लेकिन उन काबिल युवाओं पर क्या बीतेगी जब उन्हें ये पता चलेगा कि जिस नौकरी के लिए वे दिन रात मेहनत कर पसीना बहा रहे हैं, उन्हें चंद रुपयों के लिए पहले ही खरीदा जा चुका है। और इस देश की विडंबना ये है कि योग्य युवाओं के पैरों में कुछ आरक्षण की बेड़ियाँ है, तो कुछ ऐसे शातिर गिरोह योग्यता के नीचे से कुर्सी खींचकर अयोग्य लोगों को बिठा देते हैं।

Latest articles

“नशा मुक्त भारत पखवाडा” के अन्तर्गत फरीदाबाद पुलिस कर रही सराहनीय कार्य, नशा तस्करों की धरपकड़ के साथ-साथ चलाए जा रहे जागरूकता अभियान

पुलिस महानिदेशक हरियाणा के आदेश, पुलिस आयुक्त राकेश कुमार आर्य के मार्गदर्शन में फरीदाबाद...

नशा मुक्त भारत पखवाडा के अन्तर्गत अपराध शाखा बॉर्डर की टीम ने 532 ग्राम गांजा सहित आरोपी को किया गिरफ्तार

पुलिस महानिदेशक हरियाणा के निर्देशानुसार पुलिस आयुक्त राकेश कुमार आर्य के मार्गदर्शन में...

नशा मुक्त भारत पखवाडा के अंतर्गत नशे पर प्रहार करते हुए 520 ग्राम गांजा सहित आरोपी को अपराध शाखा DLF की टीम ने किया...

पुलिस महानिदेशक हरियाणा के निर्देशानुसार पुलिस आयुक्त राकेश कुमार आर्य के मार्ग दर्शन में...

More like this

“नशा मुक्त भारत पखवाडा” के अन्तर्गत फरीदाबाद पुलिस कर रही सराहनीय कार्य, नशा तस्करों की धरपकड़ के साथ-साथ चलाए जा रहे जागरूकता अभियान

पुलिस महानिदेशक हरियाणा के आदेश, पुलिस आयुक्त राकेश कुमार आर्य के मार्गदर्शन में फरीदाबाद...

नशा मुक्त भारत पखवाडा के अन्तर्गत अपराध शाखा बॉर्डर की टीम ने 532 ग्राम गांजा सहित आरोपी को किया गिरफ्तार

पुलिस महानिदेशक हरियाणा के निर्देशानुसार पुलिस आयुक्त राकेश कुमार आर्य के मार्गदर्शन में...

नशा मुक्त भारत पखवाडा के अंतर्गत नशे पर प्रहार करते हुए 520 ग्राम गांजा सहित आरोपी को अपराध शाखा DLF की टीम ने किया...

पुलिस महानिदेशक हरियाणा के निर्देशानुसार पुलिस आयुक्त राकेश कुमार आर्य के मार्ग दर्शन में...