HomeCrime5 निकाह करने के बाद देवर से प्रेम प्रसंग, गांव वालों ने...

5 निकाह करने के बाद देवर से प्रेम प्रसंग, गांव वालों ने इस तरह सिखाया सबक

Published on

5 निकाह करने के बाद देवर से प्रेम प्रसंग, गांव वालों ने इस तरह सिखाया सबक :- आपने लोगों को कपड़े बदलते देखा होगा, मोबाइल बदलते देखा होगा, घर बदलते देखा होगा लेकिन क्या आपने कभी किसी औरत को अपने पति बदलते देखा है।

बिहार के नवादा जिले से यह खबर आई है कि एक महिला ने पांच निकाह करने के बाद अपने पति के भाई के साथ भाग गई। इस महिला की उम्र 35 वर्ष थी। इसने 5 शादियां की थी।

5 निकाह करने के बाद देवर से प्रेम प्रसंग, गांव वालों ने इस तरह सिखाया सबक
5 निकाह करने के बाद देवर से प्रेम प्रसंग, गांव वालों ने इस तरह सिखाया सबक

शादी एक पवित्र बंधन होता है। देखा जाए तो एक रिश्ते में बंधने के बाद दूसरी शादी करना गलत है लेकिन इस महिला ने तो हद ही पार कर दी। इसने एक नहीं दो नहीं बल्कि पांच पतियों के साथ निकाह किया।

लेकिन इसके बाद भी वह अपने पति के भाई से शादी करना चाहती है। आप समझ सकते हैं कि वो औरत एक रिश्ता नहीं निभा पाई , वह बाकि रिश्तो को क्या निभाएगी।

सूत्रों से पता चला है इस महिला ने पहले 5 निकाह किए , लेकिन इसे अपने पति के भाई के साथ प्रेम हो गया। महिला 2 दिन तक अपने देवर के साथ घर में रहे और उससे शादी करने का मन बना लिया।

कब से चल रहा था यह चक्कर

बता दें कि यह प्रेम प्रसंग 6 महीने से चल रहा था। जिस व्यक्ति के साथ ये महिला अपने घर में रह रही थी वो इसका देवर है और जमुगाय गांव वाले पति का भाई है। यह प्रेम प्रसंग इतना आगे बढ़ गया था कि दोनों एक दूसरे से शादी करना चाहते थे।

प्रेम प्रसंग में कैसे ले लिया हिंसा का रूप

खटांगी, रजौंध और जमुगाय गांव में रह रहे इसके पतियों को जब इसकी भनक लगी तो उन्होंने गांव में बात आपकी तरह फैला दी कि यह औरत अपने प्रेमी के साथ एक घर में रुकी हुई है।

5 निकाह करने के बाद देवर से प्रेम प्रसंग, गांव वालों ने इस तरह सिखाया सबक

जब इस महिला की करतूत के बारे में उसके सभी पतियों को जानकारी लगी तो वे सभी गांव वालों के साथ उसे सबक सिखाने के लिए पहुंच गए। इसके बाद महिला और उसके देवर की गांव वालों ने दोनों को खूब गालियां दी ,जूते चप्पलों से जमकर पिटाई की और उनके सिर मुंडवा दिए। इतना ही नहीं बल्कि उन दोनों को गांव में घुमाया गया। देखते ही देखते इस प्रेम प्रसंग ने हिंसा का रूप ले लिया।

  • Written By Vikash Singh

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...