HomeCrimeकरोड़ो के मालिक थे सुशांत सिंह राजपूत , चाँद पर खरीद था...

करोड़ो के मालिक थे सुशांत सिंह राजपूत , चाँद पर खरीद था प्लाट। जानिए और क्या क्या कीमती वस्तुए थी उनके पास ?

Published on

सुशांत सिंह राजपूत केवल एक अच्छे कलाकार ही नही पर बहुत अछे इंसान भी थे। पर सुशांत ने 14 जून को आत्महत्या करके अपने प्रियजनों को हमेशा हमेशा के किए अलविदा कह दिया। सुशांत के अंदर सिर्फ एक्टिंग का हुनर नही था पर डांस और पढ़ाई मे भी बहुत अच्छे थे। उन्हें क्रिकेट व अंतरिक्ष मे भी बहुत दिलचस्पी थी।

अधिकतर लोगों को यह लगता है कि सुशांत ने आत्महत्या आर्थिक तंगी के कारण करि है पर इस आत्महत्या का कारण धन से नही था। सुशांत सिंह राजपूत का कैरियर अच्छा चल रहा था और उन्हें धन की कोई कमी नही थी।

59 करोड़ की संपति

करोड़ो के मालिक थे सुशांत सिंह राजपूत , चाँद पर खरीद था प्लाट। जानिए और क्या क्या कीमती वस्तुए थी उनके पास ?

सुशांत सिंह राजपूत ने रिया चक्रवर्ती के साथ एक घर किराये पर लिया था जिसका एक महीना का किराया 4.5 लाख रुपया था। सुशांत ने छोटी आयु मे इतनी सफलता प्राप्त कर ली थी कि उनके पास 59 करोड़ की कुल संपति एकत्रित होगयी थी।

एक फ़िल्म की फीस

सुशांत सिंह राजपूत हर फिल्म के लिए 5-7 करोड़ रुपये लेते थे। सूत्रों के अनुसार यह भी माना जाता है कि छिछोरे फ़िल्म के बाद सुशांत की फीस बढ़ने वाली थी।

करोड़ो के मालिक थे सुशांत सिंह राजपूत , चाँद पर खरीद था प्लाट। जानिए और क्या क्या कीमती वस्तुए थी उनके पास ?

क़ीमती वस्तु

प्रॉपर्टी के अलावा सुशांत सिंह राजपूत के पास गाड़ी का भी अच्छा कलेक्शन था जिसमे एक स्पोर्ट्स कार मैसेराटी थी जिसकी कीमत भारत मे लगभग 1.63 करोड़ है और एक एसयूवी भी थी जिसकी कीमत लगभग 90 लाख रुपये थी। इसके साथ साथ सुशांत को बाइक का भी शॉक था और उनके पास बीएमडब्लू की बाइक भी थी जिसकी कीमत 25-30 लाख थी।

अंतरिक्ष मे रुचि

सुशांत सिंह राजपूत की अंतरिक्ष मे रुचि किसी लत से कम नही थी। उन्हें अंतरिक्ष को परखने मे इतना आनंद आता था कि उसके लिए उन्होंने एक टेलिस्कोप भी खरिद लिया था जो कम से कम 8-10 लाख रुपये का था और इसी टेलेस्कोप को वो अपने साथ शूटिंग पर भी ले जाते थे।

करोड़ो के मालिक थे सुशांत सिंह राजपूत , चाँद पर खरीद था प्लाट। जानिए और क्या क्या कीमती वस्तुए थी उनके पास ?

चांद पर प्रॉपर्टी

सुशांत सिंह राजपूत को अंतरिक्ष मे बहुत दिलचस्पी थी और उसी दिशा मे चल कर उन्होंने चांद पर “सी ऑफ मोस्कोवि” नाम के इलाके मे एक छोटा सा टुकड़ा खरीदा था। इस प्रॉपर्टी की रजिस्ट्री उन्होंने अंतरराष्ट्रीय लूनर लैंड्स से करवाई थी।

इन सभ के साथ साथ वो सेवा कार्य मे भी काफी दान करते थे और हाल मे ही उन्होंने केरल व नागालैंड मे आई बाढ़ मे भी अछि खासी राशि डोनेट करि थी।

Written by- Harsh Dutt

Latest articles

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...

Faridabad का ये किसान थोड़ी सी समझदारी से आज कमा रहा लाखों, यहां जानें कैसे

आज के समय में देश के युवा शिक्षा, स्वास्थ आदि क्षेत्रों के साथ साथ...

More like this

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...