HomeFaridabadहृदय रोगी के लिए बड़ी खुशखबरी, अब ईएसआईसी हॉस्पिटल में ही होगा...

हृदय रोगी के लिए बड़ी खुशखबरी, अब ईएसआईसी हॉस्पिटल में ही होगा इलाज नहीं जाना होगा निजी अस्पताल में

Published on

आज कल की जनरेशन में हृदय के मरीज देखने को मिलते ह। कही न कही लोगो के खान पान की वजह से भी उन्हें इन दिक्कतों का सामना करना पड़ता है कई लोग तो बाहर का तला हुआ इतना कहते ह। जो की उनके हृदय को नुकसान पहुँचता है वही अब बात अति हार्ट प्रॉब्लम की तो उनसे कई लोगो को जूझना पड़ता है।

जिनको भी हार्ट डिजीज होती होती उन्ह कई चीजे मना करदी जाती है वही बात करे एनआईटी 3 स्थित ईएसआईसी मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में इलाज की तो यहाँ पर आने वाले लोग कई बार आये है

हृदय रोगी के लिए बड़ी खुशखबरी, अब ईएसआईसी हॉस्पिटल में ही होगा इलाज नहीं जाना होगा निजी अस्पताल में

लेकिन उन्हें निजी अस्पताल में रेफेर कर गया जाता है।लेकिन अब रोगियों के लिए राहत भरी खबर है । हाल ही में ईएसआईसी मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल को 5 डॉक्टर मिले हैं। अब इस अस्पताल में इलाज के लिए आने वाले मरीजों को काफी सहूलियत मिलनी शुरू हो गयी है।

हृदय रोगी के लिए बड़ी खुशखबरी, अब ईएसआईसी हॉस्पिटल में ही होगा इलाज नहीं जाना होगा निजी अस्पताल में

ईएसआईसी मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल से करीब 600000 कार्ड धारक जुड़े हुए है। जो की फरीदाबाद से ,पलवल से , रेवाड़ी ,कैथल, हथीन जैसे जिलों से मरीज इलाज के लिए पहुंचते है।

हृदय रोगी के लिए बड़ी खुशखबरी, अब ईएसआईसी हॉस्पिटल में ही होगा इलाज नहीं जाना होगा निजी अस्पताल में

ईएसआईसी कॉलेज एवं अस्पताल में हृदय रोग के लिए डॉक्टर ना होने के कारण गंभीर मरीजों को निजी अस्पताल रेफर कर दिया जाता था हाल ही में अस्पताल में हृदय रोग विशेषज्ञ को रखा गया है।

हृदय रोगी के लिए बड़ी खुशखबरी, अब ईएसआईसी हॉस्पिटल में ही होगा इलाज नहीं जाना होगा निजी अस्पताल में

बतादे की इनमे डॉ विनय डॉ हिमांशु डॉ शेखर डॉ वैशाली को रखा गया है। सभी डॉक्टरों ने अपनी सेवाएं देनी शुरू कर दि है इससे सैकड़ों मरीजों को को अब फायदा होने लगा है।अस्पताल में मरीज वरिष्ठ हृदय रोग विशेषज्ञ डॉक्टर की ओपीडी में रोजाना इलाज के लिए आते हैं।

हृदय रोगी के लिए बड़ी खुशखबरी, अब ईएसआईसी हॉस्पिटल में ही होगा इलाज नहीं जाना होगा निजी अस्पताल में

वही आपको बतादे की वरिष्ठ डॉ राजेंद्र ने बताया कि एक ओपीडी में रोजाना करीब 100 मरीज हृदय संबंधी बीमारियों को लेकर जांच के लिए आते है उन्होंने साथ ही यह भी बताया की ठंड बढ़ने और प्रदूषण के कारण लोग हृदय रोग से जूझ रहे है

हृदय रोगी के लिए बड़ी खुशखबरी, अब ईएसआईसी हॉस्पिटल में ही होगा इलाज नहीं जाना होगा निजी अस्पताल में

मरीजों को इस मौसम में अटैक पड़ने का खतरा ज्यादा रहता है क्योंकि उनके फेफड़े ज्यादा काम नहीं करते हैं इसलिए ऐसे मरीज को सावधानी बरतने की जरूरत है मौसम में घर से बाहर कम निकले घर से योग और व्यायाम ही करे।

हृदय रोगी के लिए बड़ी खुशखबरी, अब ईएसआईसी हॉस्पिटल में ही होगा इलाज नहीं जाना होगा निजी अस्पताल में

उन्होंने कहा कि हृदय रोग से इस मौसम में अटैक पड़ने का खतरा ज्यादा रहता है क्योंकि उनके फेफड़े ज्यादा काम नहीं करते हैं इसलिए ऐसे मरीजो को सावधान होने की जरूरत है बदलते मौसम में घर से बाहर निकले और इससे प्रदूषण के कारण होने वाली बीमारियों की चपेट में आने से बचे रहेंगे।

Latest articles

NIT क्षेत्र में पानी की किल्लत के समाधान को लेकर FMDA के CEO से मिले विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 29 मई 2024 को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने फरीदाबाद...

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

More like this

NIT क्षेत्र में पानी की किल्लत के समाधान को लेकर FMDA के CEO से मिले विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 29 मई 2024 को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने फरीदाबाद...

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...