Homeबारात लेकर नहीं पहुंचा दूल्हा तो उसके घर जाकर दुल्हन ने दिया...

बारात लेकर नहीं पहुंचा दूल्हा तो उसके घर जाकर दुल्हन ने दिया धरना

Published on

ऐसे कई मामले सामने आते रहते हैं जिन्हे सुनकर भरोसा नहीं होता है। ओडिशा के बरहमपुर में एक दुल्हन द्वारा अपनी मां के साथ दूल्हे के घर धरना देने की खबर वायरल है। दुल्हन का आरोप है कि शादी के दिन दूल्हा बारात लेकर उसके घर नहीं पहुंचा। इस वजह से उसे ही दूल्हे के घर आना पड़ गया। दुल्हन का कहना है कि उसने और सुमित ने 7 सितंबर 2020 को कोर्ट में शादी की थी।

उसके ससुराल वाले पहले दिन से ही उसे प्रताड़ित कर रहे हैं। शुरुआत में उसके पति ने उसका साथ दिया लेकिन बाद में वो अपने परिवार वालों के कहने पर चलने लगा।

बारात लेकर नहीं पहुंचा दूल्हा तो उसके घर जाकर दुल्हन ने दिया धरना

लड़की के हालातों पर वहां मौजूद सभी लोगों को तरस आ रहा था। उसने कहा कि मुझे कई बार परेशान किया और कमरे में बंद कर दिया। इसके बाद मैंने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी। लेकिन बाद में दोनों परिवार ने समझौता हो गया था। 22 नवंबर को शादी की तारीख तय हुई लेकिन वो लोग बारात लेकर नहीं आए जिसकी वजह से मुझे अपनी मां के साथ यहां आना पड़ा।

Thumbnail image

दुल्हन का आरोप है कि उसके परिजनों ने बारात का घंटों इंतजार किया. साथ ही दूल्हे को कई बार फोन कॉल और मैसेज भी भेजे। न तो उनके किसी मैसेज का जवाब दिया गया और न ही उनके घर बारात आई। फिर वो अपनी मां के साथ सीधे लड़के के घर पहुंची और धरना देने लगी। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची फिर मां और बेटी के समझाने का प्रयास किया।

बारात लेकर नहीं पहुंचा दूल्हा तो उसके घर जाकर दुल्हन ने दिया धरना

दोनों पुलिस पर भी अपना गुस्सा उतारा और दूल्हे के परिवार से रिश्वत लेने का आरोप लगाया। जिससे पुलिस वाले भी हैरान रह गए।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...