Homeइस जगह पति अपनी पत्नी के लिए खुद ग्राहक ढूंढ लाता है,...

इस जगह पति अपनी पत्नी के लिए खुद ग्राहक ढूंढ लाता है, जानिए क्या है कारण

Array

Published on

अजीबो-गरीब परंपराओं और रिवाजों की दुनिया में कोई कमी नहीं है। कई ऐसे हिस्से है जहां की परंपराएं, रितियां और रिवाज हमें नए सिरे से सोचने पर मजबूर कर देते हैं। मजबूरी के नाम पर यहां मनमाने काम किए जाते हैं। महिलाओं से न सिर्फ उनका अधिकार छीना जाता है बल्कि उनके दामन पर गहरे जख्म भी दे दिए जाते हैं। जिस परंपरा के बारे में बताने जा रहे हैं उसे जानने के बाद आपको गुस्सा भी आ सकता है। 

हमारे देश में देह व्यापार अवैध माना जाता है लेकिन यह खुलेआम होता है। यह जानकर हैरानी होगी कि यह समुदाय देश के किसी कोने में नहीं बल्कि राजधानी के अंतर्गत रहता है। जी हां, यहां बात हो रही है दिल्ली एनसीआर के नजफगढ़, प्रेमनगर और धर्मशाला में रहना वाले परना समुदाय की। परना समुदाय के लोग देह व्यापार की परंपरा को काफी समय से निभाते आ रहे हैं। 

इस जगह पति अपनी पत्नी के लिए खुद ग्राहक ढूंढ लाता है, जानिए क्या है कारण

आज भी कुछ ऐसे हिस्से है जहां इस काम को मज़बूरी नहीं बल्कि प्रथा के नाम से चलाया जा रहा है। इस गांव में लड़की के पैदा होने पर जश्न मनाया जाता है। लड़कियां जब तक कुंवारी रहती हैं तब बेटी के परिवार वाले इसे बेच देते हैं और शादी के बाद पत्नी की कमाई पर उसके पति का हक होता है। लिहाजा कई ऐसे परिवार हैं जहां पति ही अपनी पत्नी के लिए ग्राहक तलाश करता है और उसे लाकर देता है। 

इस जगह पति अपनी पत्नी के लिए खुद ग्राहक ढूंढ लाता है, जानिए क्या है कारण

यह समुदाय ऐसा है जो पीढ़ियों से देह व्यापार चलाते आ रहा है। यहां पर लड़कियों को छोटी कक्षाओं तक पढ़ाई की अनुमति दी जाती है। जवानी की दहलीज पर कदम रखते ही उन्हें हैवानों के हाथ बेच दिया जाता है। यदि कोई लड़की देह व्यापार के दल-दल में उतरने से इनकार कर देती है तो उसको काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। 

women

जानकार हैरानी होगी लेकिन यही सच है कि यह समुदाय अपनी पत्नियों के लिए पति खुद ग्राहक लाते हैं। इस घिनौने काम में उतरने वाली महिलाओं ने बताया कि उन्हें हर रोज कम से कम 5 अजनबियों के साथ सोना पड़ता है। कई बार पुलिस पकड़ लेती है तो वह भी उनके साथ हैवानियत ही करती है। 

Latest articles

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...

Faridabad का ये किसान थोड़ी सी समझदारी से आज कमा रहा लाखों, यहां जानें कैसे

आज के समय में देश के युवा शिक्षा, स्वास्थ आदि क्षेत्रों के साथ साथ...

More like this

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...