HomeFaridabadप्रतिबंध के बावजूद चल रहे निर्माण कार्य पर लगी रोक, एनएचएआई पर...

प्रतिबंध के बावजूद चल रहे निर्माण कार्य पर लगी रोक, एनएचएआई पर हुआ 10 लाख का जुर्माना

Published on

फरीदाबाद में लगातार प्रदूषण का स्तर बढ़ता जा रहा है। ऐसे में लोगो को लगातार परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। लेकिन फरीदाबाद में निर्माण कार्य अभी भी रुकने का नाम नहीं ले रहे है।साथ ही बता दे की सुप्रीम कोर्ट ने आदेश जारी किए थे की सभी निर्माण कार्यों को रोका जाए।लेकिन उनकी बात न सुनते हुए अभी भी फरीदाबाद बाय पास रोड पर दिल्ली मुंबई एक्सप्रेसवे का कार्य चल रहा था।

प्रदूषण फैलाने में कही न कही फरीदाबाद के निर्माण कार्यों का भी हाथ है।बता दे हरियाणा राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने सोमवार को (एनएचआई) राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण समेत एक बिल्डर पर कड़ी कार्यवाही करी।

प्रतिबंध के बावजूद चल रहे निर्माण कार्य पर लगी रोक, एनएचएआई पर हुआ 10 लाख का जुर्माना

वही उन्होंने नियमों की अनदेखी करने पर एनएचएसआई पर 10 लाख और ओल्ड फरीदाबाद में चल रहे अपार्टमेंट पर 50 लाख रुपए का जुर्माना लगाया। दोनो जगहों पर सभी चीज बन होने के बावजूद कार्य लगातार चल रहे थे।साथ ग्रेप भी रखी जा रही थी।
उसके साथ ही एक औद्योगिक इकाई में प्रतिबंधित फ्यूल रखने के मामले पर भी जवाब मांगा है।

प्रतिबंध के बावजूद चल रहे निर्माण कार्य पर लगी रोक, एनएचएआई पर हुआ 10 लाख का जुर्माना

पिछले कई दिनों से फरीदाबाद में लगातार फरीदाबाद का प्रदूषण का स्तर बढ़ता जा रहा है। जिससे लोगो को सास लेने में परेशानी हो रही है। साथ ही लोगो को इससे बीमारी का भी डर लगा हुआ है। सुप्रीम कोर्ट ने भी इस पर सभी जिलों के कार्य बंद केरवा दिए है। यह कार्य 3 दिसंबर तक बंद करवा दिए है। जिससे प्रदूषण से थोड़ी राहत मिल सके।

प्रतिबंध के बावजूद चल रहे निर्माण कार्य पर लगी रोक, एनएचएआई पर हुआ 10 लाख का जुर्माना

साथ ही औद्योगिक इकाइयों से कहा गया है कि प्रदूषण फैलाने वाली फ्यूल से एक इकाई का संचालन ना करें। ताकि कोई परदुषण ना फैलाए उसके लिए 3 टीमें भी बनाई गई है।जिससे वे देख रेख कर सके की कही कोई प्रदूषण तो नही फैला रहा।

प्रतिबंध के बावजूद चल रहे निर्माण कार्य पर लगी रोक, एनएचएआई पर हुआ 10 लाख का जुर्माना

लगातार प्रदूषण का स्तर बढ़ता जा रहा था लेकिन सोमवार को प्रदूषण में काफी हद तक गिरावट दर्ज की गई है। वहीं अगर बात करें एक ही वाली लेवल की तो वह भी घट गया है उसको 276 दर्ज किया गया है जिससे लोगों को राहत मिली है।

प्रतिबंध के बावजूद चल रहे निर्माण कार्य पर लगी रोक, एनएचएआई पर हुआ 10 लाख का जुर्माना

निर्माण कार्य पर प्रतिबंध लगने के बाद से ही प्रदूषण में गिरावट देखी गई है लेकिन ऐसे में अगर निर्माण कार्य नही रोके जाते तो प्रदूषण का स्तर लगातार बड़ता जाता जिससे लोगो को हानि होती।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...