HomeFaridabadहरियाणा के 2 किसान कमा रहे है लाखो,10 गज के कमरे में...

हरियाणा के 2 किसान कमा रहे है लाखो,10 गज के कमरे में करी खेती

Published on

केसर की खेती एक ऐसी खेती है जो कि एक इंसान को काफी अमीर बना सकती है इस खेती के जरिए आप सालाना 8 से 9 लाख रुपए कमा सकते हैं वही दो भाइयों ने इस खेती के बारे में बताया और बताया कि एरोसॉनिक तकनीक ने ईरान देश में यह खेती घरों के अंदर की जाती है लेकिन यहां पर इस खेती को कोई नहीं करता बता दे कि जो इंसान इस खेती को करता है उसको काफी मुनाफा होता है।

वही दो भाइयों ने इसकी जानकारियां जुटा कर हिसार आजाद नगर में केसर की खेती की थी। जी हां हम बात कर रहे हैं। जी हां हम बात कर रहे है हरियाणा के  2 किसानों की जिनका नाम प्रवीण सिंधु और नवीन सिंधु है वह दोनों भाई है। इन्होंने अपने घर में 10 गज के कमरे में केसर की खेती करके मिसाल कायम की है।

हरियाणा के 2 किसान कमा रहे है लाखो,10 गज के कमरे में करी खेती

जानकारी के मुताबिक एरो फोनिक्स पद्धति से खेती करके किसानों ने लाखों रुपए का मुनाफा कमाया है साथ ही दोनों भाई ने दूसरे किसानों की भी काफी मदद की है दोनों भाई दूसरे किसानों के लिए भी काफी मददगार साबित होते नजर आ रहे हैं।

हरियाणा के 2 किसान कमा रहे है लाखो,10 गज के कमरे में करी खेती

इंटरनेट के जरिए जानकारी जुटा कर इन किसानों ने हिसार आजाद नगर में अपने घर के कमरे में खेती की है। माना जा रहा है कि अगर कोई भी किसान इस पद्धति की खेती को करता है तो उसे सालाना 8 से 9 लाख रुपए का मुनाफा होगा।

हरियाणा के 2 किसान कमा रहे है लाखो,10 गज के कमरे में करी खेती

बता देगी यह खेती एरो फोनिक्स तकनीक ने ईरान देश के केसर की घरों में खेती की जाती है। वहां पर लोग इसको अपने घरों में ही करते हैं साथ ही उन्हें इससे काफी फायदा भी होता है।

हरियाणा के 2 किसान कमा रहे है लाखो,10 गज के कमरे में करी खेती

केसर का बीज 800 से 1000 रुपए तक का आता है जो कि दोनों भाइयों ने मंगाया और उसे शीशे के राख में ऊपर नीचे लगाकर फिर उसे उगाया। केसर की खेती करना इतना आसान नहीं है उसको धूप से बचाना भी पड़ता है साथ ही उसको ठंडक में रखना होता है इसीलिए दोनों भाइयों ने कमरे में ऐसी भी लगवाया जिससे वे केसर के पौधे को अच्छे से उगा सके।

हरियाणा के 2 किसान कमा रहे है लाखो,10 गज के कमरे में करी खेती

दोनों भाइयों ने बताया कि एक बार किसान गोल्ड फसल लगाकर केसर की फसल लगातार 5 साल तक ले सकता है क्योंकि इस काम से ज्यादा लेबर की जरूरत नहीं पड़ती। उन्होंने यह भी कहा कि इसके लिए दिन का तापमान 17 डिग्री और रात का तापमान 10 डिग्री होना जरूरी है। 80 90 डिग्री इम्युनिटी होनी चाहिए और सूर्य की रोशनी तिरछी कमरे में आनी चाहिए। आज के दौर में केसर हाइपरटेंशन खासी मिर्गी दौरे कैंसर यूज क्षमता को बढ़ाने गर्भवती महिलाओं बुजुर्गों की आंखों की रोशनी के लिए और हृदय रोग के लिए लाभदायक है।

हरियाणा के 2 किसान कमा रहे है लाखो,10 गज के कमरे में करी खेती

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री की सोच है कि किसानों की आय 2 गुना हो जाए ऐसे में किसान इस प्रकार की खेती कर कर भी अपनी आय को बढ़ा सकता है आज के दिनों में केसर की कीमतें सबसे ज्यादा मानी जाती है वहीं अगर बात करें इसकी कीमत की तो इससे मार्केट में साडे 3 लाख रुपए किलो बेचा जाता है।

हरियाणा के 2 किसान कमा रहे है लाखो,10 गज के कमरे में करी खेती

प्रवीण सिंधु ने बताया कि पिछले साल भी उन्हें इससे काफी मुनाफा हुआ था। जिसमें उन्होंने 7 से 8 लाख रुपए तक का मुनाफा कमाया था। वही नवीन सिंधु ने बताया कि इंटरनेट से सभी प्रकार की जानकारी लेकर केसर की खेती का काम किया 1000 किलो बीज लेकर किसान अपनी खेती की शुरुआत कर सकता है। किसान खेती करके 5 से 7 लाख रुपए तक खर्च कर सकता है।

Latest articles

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...

Faridabad का ये किसान थोड़ी सी समझदारी से आज कमा रहा लाखों, यहां जानें कैसे

आज के समय में देश के युवा शिक्षा, स्वास्थ आदि क्षेत्रों के साथ साथ...

More like this

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...