Online se Dil tak

न कोई फिल्म, न विज्ञापन तो कैसे चलाती हैं रेखा अपना घर खर्च, क्या है कमाई का जरिया?

इतने सालों बाद भी बॉलीवुड की मशहूर अभिनेत्री रेखा की खूबसूरती काम नहीं हुई। खूबसूरती के मामले में वे युवा अभिनेत्रियों को भी टक्कर दे रही हैं। 67 साल की उम्र में भी वह इतनी खूबसूरत कैसे हैं, दर्शक उनको देखकर हैरान रह जाते हैं। अपनी खूबसूरती और एक्टिंग की वजह से रेखा आज भी लोगों के दिलों पर राज करती हैं। रेखा ने अपने बॉलीवुड करियर में अपने मनमोहक अंदाज, प्रेम–प्रसंग और प्रशंसकों के बीच लोकप्रियता से हिंदी फिल्मों पर राज किया। बॉलीवुड की लोकप्रिय अभिनेत्रियों में से एक हैं। जब भी वह किसी इवेंट या शो में जाती हैं तो सबकी निगाहें उन्हीं पर रहती हैं।

रेखा का बचपन काफी संघर्ष भरा था। वह तमिल अभिनेता जेमिनी गणेशन और तेलुगु अभिनेत्री पुष्पावल्ली की बेटी हैं। कहा जाता है कि रेखा के जन्म के समय उनके माता-पिता की शादी भी नहीं हुई थी। रेखा को बचपन में काफी मुश्किलों का समाना करना पड़ा था। उनके पिता जेमिनी गणेशन ने रेखा को कभी भी अपना नाम नहीं दिया।

न कोई फिल्म, न विज्ञापन तो कैसे चलाती हैं रेखा अपना घर खर्च, क्या है कमाई का जरिया?
न कोई फिल्म, न विज्ञापन तो कैसे चलाती हैं रेखा अपना घर खर्च, क्या है कमाई का जरिया?

1958 ने आई तेलुगु फिल्म इंती गुट्टू में उन्होंने बाल कलाकार के रूप में एक्टिंग की। लेकिन उनका करियर 1969 में आई कन्नड़ फिल्म ऑपरेशन जैकपॉट नल्ली CID 999 से शुरू हुआ।

अपने रंग की वजह से सुने थे खूब ताने

न कोई फिल्म, न विज्ञापन तो कैसे चलाती हैं रेखा अपना घर खर्च, क्या है कमाई का जरिया?

अपनी खूबसूरती के लिए मशहूर रेखा को अक्सर उनके सिंपल लुक और सिंपल लाइफस्टाइल की वजह से फिल्मों में रिजेक्ट कर दिया जाता था। उनके काले रंग की वजह से कई लोग उन्हें बदसूरत भी कहते थे। साथ ही फिल्म में काम करने से भी मना करते थे। लेकिन फिर भी रेखा ने हार नहीं मानी और 1976 में खुद को पूरी तरह से बदलने के बाद रेखा ने फिल्म ‘दो अनजाने’ से बॉलीवुड में धूम मचा दी।

ऐसे चलाती हैं घर का खर्चा

न कोई फिल्म, न विज्ञापन तो कैसे चलाती हैं रेखा अपना घर खर्च, क्या है कमाई का जरिया?
न कोई फिल्म, न विज्ञापन तो कैसे चलाती हैं रेखा अपना घर खर्च, क्या है कमाई का जरिया?

लेकिन रेखा ने कई सालों से फिल्मों से दूरी बन ली है। तो आप सोच रहे होंगे कि रेखा अपना घर खर्च कैसे चलाती हैं। रेखा घर के खर्चे को पूरा करने के लिए क्या कर रही हैं आइए जानते हैं। रेखा कई सालों से फिल्मों से दूर हैं तो आप बिल्कुल गलत हैं।

न कोई फिल्म, न विज्ञापन तो कैसे चलाती हैं रेखा अपना घर खर्च, क्या है कमाई का जरिया?
न कोई फिल्म, न विज्ञापन तो कैसे चलाती हैं रेखा अपना घर खर्च, क्या है कमाई का जरिया?

रेखा साल में कम से कम एक फिल्म में नजर आती हैं। रेखा की 2 फिल्में जल्द ही आ रही हैं। फिल्मों के अलावा मुंबई और दक्षिण भारत में मकान किराए पर देकर भी पैसे कमाती हैं। हम सब यह जानते हैं कि रेखा राज्यसभा की सदस्य भी हैं। अन्य राज्यसभा सदस्य की तरह रेखा को भी वेतन मिलता है। इसके अलावा रेखा ने अपने करियर के दौरान कुछ बचत भी की होगी।

ज्यादा खर्चा करना नहीं है पसंद

न कोई फिल्म, न विज्ञापन तो कैसे चलाती हैं रेखा अपना घर खर्च, क्या है कमाई का जरिया?
न कोई फिल्म, न विज्ञापन तो कैसे चलाती हैं रेखा अपना घर खर्च, क्या है कमाई का जरिया?

रेखा एक मध्यम वर्गीय परिवार से संबंधित हैं। ऐसे में रेखा परिवार के खर्चों की योजना आसानी से बना सकती हैं। वहीं अगर आप रेखा की लाइफस्टाइल पर नजर डालें तो समझ जाएंगे कि उन्हें ज्यादा खर्चा करना पसंद नहीं है। वह हमेशा उतना ही पैसा खर्च करती हैं जितने की उन्हें जरूरत होती है। रेखा कुछ टीवी शो में भी दिखाई देती हैं।

बिहार की ब्रांड एंबेसडर भी थीं रेखा

न कोई फिल्म, न विज्ञापन तो कैसे चलाती हैं रेखा अपना घर खर्च, क्या है कमाई का जरिया?
न कोई फिल्म, न विज्ञापन तो कैसे चलाती हैं रेखा अपना घर खर्च, क्या है कमाई का जरिया?

जब भी कोई बड़ा स्टोर खुलता है तो आमतौर पर इसका उद्घाटन करने के लिए किसी स्टार को ही बुलाया जाता है। ज्यादातर जगहों पर मौजूद भी रहती है। बता दें कि कुछ साल पहले बिहार सरकार ने रेखा को बिहार की ब्रांड एंबेसडर बनाया था। रेखा ने कई बेहतरीन फिल्मों में काम किया और सफल भी रहीं। रेखा की गिनती आज भी देश की सबसे बड़ी अभिनेत्रियों में होती है।

कई पुरस्कार किए अपने नाम

न कोई फिल्म, न विज्ञापन तो कैसे चलाती हैं रेखा अपना घर खर्च, क्या है कमाई का जरिया?
न कोई फिल्म, न विज्ञापन तो कैसे चलाती हैं रेखा अपना घर खर्च, क्या है कमाई का जरिया?

रेखा ने 180 से अधिक फिल्मों में काम किया है। उनके बेहतरीन अभिनय के लिए उन्हें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार और तीन फिल्मफेयर पुरस्कारों सहित कई पुरस्कारों से सम्मानित किया जा चुका है। साल 2010 में भारत सरकार ने उन्हें भारत के चौथे सर्वोच्च नागरिक सम्मान पद्म श्री से भी सम्मानित किया।

Read More

Recent