HomeEducationफाइनल वर्ष के छात्रों कि परीक्षा भी हुई रद्द, बिना परीक्षा...

फाइनल वर्ष के छात्रों कि परीक्षा भी हुई रद्द, बिना परीक्षा दिए छात्रों को इस आधार पर किया जाएगा पास

Published on

बीते कई दिनों से एक मुद्दा काफी चर्चा का विषय बना हुआ था की हरियाणा में कई सरकारी यूनिवर्सिटी द्वारा अंतिम वर्ष के छात्रों की परीक्षाएं अनिवार्य की गई थी जिसको लेकर छात्रों में सरकार और शिक्षण संस्थानों पर भेदभाव करने का आरोप लगाया जा रहा था।

क्योंकि शिक्षण संस्थानों द्वारा प्रथम एवं द्वितीय वर्षों के छात्रों को बिना परीक्षाएं लिए अगली कक्षाओं में प्रमोट करने के निर्देश पहले ही जारी कर दिए गए थे। वही बारहवीं कक्षा के छात्रों की बची हुई परीक्षा लिए बिना ही उन्हें भी अगली कक्षा में प्रमोट करने के आदेश जारी किए गए थे।

फाइनल वर्ष के छात्रों कि परीक्षा भी हुई रद्द, बिना परीक्षा दिए छात्रों को इस आधार पर किया जाएगा पास

लेकिन अंतिम वर्ष के छात्रों के लिए यह निर्देश दिए गए थे कि 1 जुलाई से 30 जुलाई के बीच अंतिम वर्ष के छात्रों की परीक्षाएं ली जाएगी और 7 अगस्त को उनका परिणाम घोषित कर दिया जाएगा। जिसके लिए एमडीयू एवं कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी द्वारा छात्रों की डेटशीट भी जारी कर दी गई थी।

फाइनल वर्ष के छात्रों कि परीक्षा भी हुई रद्द, बिना परीक्षा दिए छात्रों को इस आधार पर किया जाएगा पास

जिनके तहत बीए, बीकॉम एवं अन्य कक्षाओं के अंतिम वर्ष के छात्रों की परीक्षाएं 10 जुलाई से शुरू की जानी थी लेकिन हरियाणा सरकार द्वारा छात्रों के साथ किए जा रहे इस भेदभाव को लेकर छात्रों द्वारा सरकार पर आरोप लगाया जा रहा था कि जिस प्रकार प्रथम एवं द्वितीय वर्ष के छात्रों को कोरोना से खतरा है उसी प्रकार अंतिम वर्ष के छात्र भी इस वायरस से उसी प्रकार प्रभावित हो सकते है।

फाइनल वर्ष के छात्रों कि परीक्षा भी हुई रद्द, बिना परीक्षा दिए छात्रों को इस आधार पर किया जाएगा पास

इसी मामले को लेकर छात्रों द्वारा पंजाब हरियाणा हाईकोर्ट में यचिका भी दायर की गई जिस पर कोर्ट ने संज्ञान लेते हुए हरियाणा सरकार को नोटिस भी जारी किया गया था। अब सरकार की तरफ से यह फैसला लिया गया है कि जिस प्रकार प्रथम एवं द्वितीय वर्ष के छात्रों को बिना परीक्षाओं के इंटरनल मार्क्स के आधार पर अगली कक्षाओं में प्रमोट किया गया है।

फाइनल वर्ष के छात्रों कि परीक्षा भी हुई रद्द, बिना परीक्षा दिए छात्रों को इस आधार पर किया जाएगा पास

उसी प्रकार अंतिम वर्ष के छात्रों को भी अगली कक्षाओं में प्रमोट किया जा रहा है। सरकार के इस फैसले के बाद छात्रों में खुशी की लहर देखने को मिल रही है क्योंकि छात्रों का कहना है कि कोई भी परीक्षा छात्रों की जान से अधिक महत्वपूर्ण नहीं हो सकती है।

Latest articles

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

More like this

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...