Pehchan Faridabad
Know Your City

सोनू खान हत्याकांड में पुलिस को मिली सीसीटीवी फुटेज, पुलिस के लिए चुनौतीपूर्ण बना मामला

कुछ दिनों पहले बल्लभगढ़ के सुभाष कॉलोनी इलाके में सोनू खान नामक व्यक्ति की चाकू से गोदकर हुई हत्या के मामले में पुलिस को अहम सुराग हाथ लगा है। इस पूरे मामले की जांच कर रही टीम को घटनास्थल की सीसीटीवी फुटेज बरामद हुई है जिसके आधार पर आरोपियों की पहचान करने में पुलिस को आसानी होगी।

घटनास्थल से प्राप्त हुई सीसीटीवी फुटेज में एक आरोपी सोनू खान पर चाकू से हमला करते हुए साफ नजर आ रहा है जांच टीम द्वारा प्राप्त हुई सीसीटीवी फुटेज को सील कर दिया गया है ताकि यह सीसीटीवी फुटेज सार्वजनिक ना हो सके।

इस पूरे मामले में सोनू की हत्या के बाद जब पुलिस द्वारा सोनू के शव को जिला नागरिक अस्पताल बादशाह खान में पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया तो अस्पताल प्रबंधन की लापरवाही के चलते सोनू के शव को बगैर पोस्टमार्टम करे ही कोरोना वायरस संक्रमित मरीज का शव समझकर नगर निगम की टीम को दाह संस्कार के लिए सौंप दिया गया।

जिसके बाद नगर निगम की टीम द्वारा सोनू के शव का अंतिम संस्कार कर दिया गया इसलिए अब पुलिस के सामने चुनौती यह बनी हुई है कि पुलिस को बगैर पोस्टमार्टम करे ही कुछ ऐसे सुराग जुटाने होंगे जिससे हत्या के सभी आरोपियों को सजा दिलाई जा सके।

इसी के चलते पुलिस कुछ ऐसे सबूत जुटाने में लगी हुई है जिनके आधार पर सोनू की हत्या के सभी दोषियों के खिलाफ मामले को पुख्ता किया जा सके। जांच टीम द्वारा फिलहाल घटनास्थल से प्राप्त हुई सीसीटीवी फुटेज के साथ-साथ घायल अवस्था में सोनू को नागरिक अस्पताल लाए जाने वाली सीसीटीवी फुटेज, सोनू के शव को शव गृह में ले जाते हुए की सीसीटीवी फुटेज और शव गृह से दाह संस्कार के लिए ले जाते हुए कि सीसीटीवी फुटेज भी बरामद कर ली गई है।

वहीं पुलिस द्वारा सोनू खान की वह शर्ट भी बरामद कर ली गई है जो उसने इस पूरी घटना के वक्त पहनी थी उस शर्ट से सोनू का खून भी बरामद हुआ है वहीं पुलिस सोनू खान की अस्थियों को पहले ही बरामद कर चुकी है जिन्हें डीएनए के लिए भेजा जा चुका है।

इस पूरे मामले में डीएलएफ क्राइम ब्रांच प्रभारी सजीव कुमार का कहना है कि हम इस पूरे मामले को चौनुती के तौर पर ले रहे है क्यूंकि यह हत्या का पहला ऐसा मामला उनके संज्ञान में आया है जिसकी पोस्टमार्टम रिपोर्ट ही उनके पास नहीं है। ऐसे में पुलिस ऐसे सभी सबूत जुटा रही है जिससे आदालत में आरोपियों के खिलाफ जुर्म को साबित किया का सके और उन्हें सजा दिलाई जा सके।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More