HomeInternational8 वर्ष की उम्र में अपने कमरे से गायब हुआ बच्चा, दो...

8 वर्ष की उम्र में अपने कमरे से गायब हुआ बच्चा, दो साल बाद जब पिता अलमारी खोली तो…..

Published on

बच्चे मां बाप की आंखो का तारा होते है। कहते है बच्चे एक सेकंड के लिए आखों से ओझल क्या हो जाए दिल बेचैन होने लगता। इसलिए तो लोग कहते है बच्चे कितने बड़े क्यों ना हो जाए मां बाप के लिए बच्चे हमेशा बच्चे ही रहते है। लेकिन नॉर्थ अमेरिका में हुई एक घटना से आपकी आखें जलमग्न हो जाएगी,

जब दो साल तक एक परिवार अपने 8 वर्षीय बालक से दूर रहा। चलिए जानते है आखिर क्या हुआ था नॉर्थ अमेरिका में रहने वाले डेनियल और उसके परिवार के साथ।

8 वर्ष की उम्र में अपने कमरे से गायब हुआ बच्चा, दो साल बाद जब पिता अलमारी खोली तो…..

नार्थ अमेरिका के रहने वाले डेनियल करीब 4 साल पहले नया घर किराय पर लेते हैं और अपने परिवार पत्नी सारा , दो बेटे टॉम और जैकब के साथ रहने लगते है। पूरा परिवार खुश था और उन्हें लग रहा था की अब उनकी जिंदगी में बहुत खुशियाँ आने वाली है, पर उनके साथ ऐसा नहीं हुआ।

बेटे की याद में शराबी बना एक पिता

डेनियल अपने बेटे से बहुत प्यार करते थे और हर रोज उसे कहीं ना कहीं खोजते और उसकी याद में हमेशा रोते रहते थे। जैकब की याद में वो शराबी भी हो गये थे। अपने बच्चे को ढूढ़ते-ढूढ़ते 2 साल गुजर गये पर जैकब कहीं नहीं मिला। एक वक्त तो ऐसा भी आया जब सब समझने लगे की जैकब अब इस दुनिया में नहीं है। माँ सारा और डेनियल को समझ में नहीं आ रहा था की अचानक ऐसे बच्चा गायब कैसे हो गया।

एक दिन जैकब की अलमारी से जो दिखा

डेनियल जैकब को याद करते हुए उसके कमरे में गये और कमरे को साफ़ करने लगे, जैकब की यादों को मिटाने लगे और तभी उन्हें कुछ ऐसा नजर आता है की वो हैरान रह जाते हैं, उन्होंने देखा की जैकब की अलमारी के पीछे कुछ है। गौर से देखने पर पता चला की दीवार पर टेप चिपकाई हुई है। जब उन्होंने उस टेप को हटाया तो एक हॉल नजर आया। डेनियल ने हॉल को और बड़ा करके देखा तो दीवार के पीछे एक अँधेरा कमरा नजर आया। उसके अंदर जब डेनियल गये तो उन्हें उनके बेटे जैकब का जूता मिला।

अपने बेटे के समान को देख फूट फूट कर दिया डेनियल

जैकब के जुते को देखते ही डेनियल रोने लगे और उन्हें कुछ अजीब लग रहा था और गौर से देखने पर उन्होंने देखा की वहां हथोड़ा, आरी और भी सामान पड़ा था। फर्श पर एक चीज और नजर आई एक चश्मा पड़ा था। चश्मा देखते ही वह पहचान गये की यह चश्मा तो उनके पड़ोसी का है। वह वहां से पड़ोसी के घर की तरफ भागे और जोर-जोर से उनका दरवाजा पीटने लगे। पड़ोसी ने दरवाजा खोला तो डेनियल ने जोर से उसका गला पकड़ा और पूछा उसका बेटा कहां है उसका जैकब कहां है ? पड़ोसी ने एक कमरे की तरफ ईशारा किया और वहां से भाग गया।

कॉमिक्स से भरे कमरे में उनका दो साल पहले गायब हुआ बेटा

जब डेनियल कमरे में गये तो उन्होंने देखा की चारों तरफ ढेर सारी कॉमिक्स पड़ी है और उसी ढेर में उनका बेटा जैकब भी बैठा कॉमिक्स पढ़ रहा है। यह कॉमिक्स मानो कभी खत्म भी नहीं होने वाली थी। बच्चा अपने पिता को देखता है और उनके गले लग जाता है और रोने लगता है। दोनों पिता और बेटे आपस में रोते हुए बाहर आते है तो देखते है पड़ोसी और उसकी वाइफ दोनों गायब है।

बच्चे की चाह में अपहरणकर्ता बने पड़ोसी

डेनियल जल्दी से 119 पर कॉल करते है और पुलिस को पूरी जानकारी देते हैं, पड़ोसी ज्यादा दूर जाते उससे पहले ही पुलिस ने उन्हें पकड़ लिया। और पूछताछ में पता चला की पड़ोसी का नाम हेक और उसकी पत्नी का नाम कैरोलिन है। दोनों के बच्चे नहीं है और बच्चों की चाह के चलते उन्होंने जैकब का अपहरण कर लिया था। कैरोलिन ने कहा की उन्होंने जैकब को हमेशा अपने बच्चे की तरह पाला है और यह दो साल उसकी जिंदगी के सबसे अच्छे साल रहे हैं। हालाँकि किसी और के बच्चे का अपहरण करना भी जुर्म है इसके चलते कैरोलिन और हेक को सजा हुई।

दोनों परिवारों से मिलने लगा जैकब को प्यार

जैकब जब डेनियल को मिला तो 10 साल का हो चूका था, उसके मिलने के एक साल बाद जैकब और उसके घर वालों ने कैरोलिन और हेक को माफ़ कर दिया और दोनों की जमानत करवा दी। जैकब ने उनके लिए खत लिखा और उसमे लिखा की उन्होंने जो उसके साथ किया वो गलत था पर उसके साथ किसी भी तरह का गलत व्यवहार नहीं किया, और बच्चे से प्यार को देखते हुए वो उन्हें माफ़ कर रहा है। इस खत के बाद कैरोलिन और हेक को जमानत मिल गई और वो एक बार फिर डेनियल के पड़ोसी बन गये। अब दोनों परिवार एक साथ जैकब की देखभाल करते हैं। दोस्तों किसी को माफ़ करना बहुत बड़ी बात होती है और जैकब ने यह कर दिखाया है।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...