HomeGovernmentविपक्ष करता रह गया विरोध और सरकार ने इन भगोड़ों को लेकर...

विपक्ष करता रह गया विरोध और सरकार ने इन भगोड़ों को लेकर उठा लिया ये बड़ा कदम

Published on

भारत के मोस्ट वांटेड बिजनेसमैन नीरव मोदी और विजय माल्या को लेकर सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। इनकी संपत्ति बेचकर सरकार भरपाई करेगी। बीते दिनों एक तरफ कांग्रेस तथा अन्य पार्टी के नेता अलग-अलग विधेयक को लेकर बात कर रहे थे। उन विधेयक को पारित नहीं होने की मांग कर रहे थे। वहीं दूसरी तरफ केंद्र में जारी नरेंद्र मोदी की सरकार ने नीरव मोदी और विजय माल्या को लेकर एक बहुत ही अहम निर्णय लिया है। इस खबर के माध्यम से हम आपको बताएंगे कि मोदी सरकार ने उन्हें लेकर क्या निर्णय लिया है? इसे लेकर क्यों हो रही है खूब चर्चाएं? आइए आपको पूरी खबर विस्तार से बताते हैं।

आपको बता दें कि विजय माल्या और नीरव मोदी बीते कई वर्षों से हमारे देश से बा हर है। उन्हें भारत लाने के लिए भारत सरकार लगातार कार्य कर रही है। उन लोगों की संपत्ति को भी केंद्र में जारी पीएम मोदी की सरकार ने कुर्क करना शुरू कर दिया है।

विपक्ष करता रह गया विरोध और सरकार ने इन भगोड़ों को लेकर उठा लिया ये बड़ा कदम

उन लोगों की संपत्ति को भारत सरकार अपने खाते में कर रही हैं। वहीं दूसरी तरफ इस मामले को लेकर हमारे देश के नागरिक लगातार ट्वीट कर रहे हैं। बीते दिनों वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने एक जानकारी दी है।

नीरव मोदी की संपत्ति से हासिल किए 13000 करोड़

विपक्ष करता रह गया विरोध और सरकार ने इन भगोड़ों को लेकर उठा लिया ये बड़ा कदम

नीरो मोदी की संपत्ति को बेच कर भारत सरकार ने 13000 करोड़ के खाते में शामिल किया है। जैसा कि आपको पता है कि हमारे देश के कई ऐसे लोग हैं। जो भारत से पैसे लेकर विदेश जाकर बैठ गए हैं। उन्हें लेकर केंद्र में जारी पीएम मोदी की सरकार लगातार काम कर रही है।

विपक्ष करता रह गया विरोध और सरकार ने इन भगोड़ों को लेकर उठा लिया ये बड़ा कदम

सिर्फ इतना ही नहीं समय-समय पर उन लोगों की संपत्तियों को सरकार के खाते में शामिल करने की यो जना बनाई जा रही है। हालांकि, नीरव मोदी और विजय माल्या को अपने देश में लाना ही सरकार का एकमात्र काम है।

संसद में नेताओं ने किया हंगामा

विपक्ष करता रह गया विरोध और सरकार ने इन भगोड़ों को लेकर उठा लिया ये बड़ा कदम

कांग्रेस तथा अन्य पार्टियों के नेता बीते कई दिनों से संसद में हंगामा करते नजर आ रहे हैं। इसके बावजूद केंद्र में जारी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार लगातार काम कर रही है।

विपक्ष करता रह गया विरोध और सरकार ने इन भगोड़ों को लेकर उठा लिया ये बड़ा कदम

बता दें कि इससे पहले भी 5 लाख 49 हजार रुपए नीरव मोदी की संपत्ति को बेच कर सरकार ने अपने खाते में शामिल किया था। वित्त मंत्री ने कहा कि कांग्रेस तथा अन्य पार्टी के नेता नहीं चाहते कि उन लोगों की संपत्ति को बेच कर सरकार उन पैसों को हासिल करें जो वे लोग अपने साथ लेकर गए हैं।

Latest articles

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...

Faridabad का ये किसान थोड़ी सी समझदारी से आज कमा रहा लाखों, यहां जानें कैसे

आज के समय में देश के युवा शिक्षा, स्वास्थ आदि क्षेत्रों के साथ साथ...

More like this

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...