HomeCrimeहरियाणा: अपने ही दोस्त को दोस्तों ने उतारा मौत के घाट, मामूली...

हरियाणा: अपने ही दोस्त को दोस्तों ने उतारा मौत के घाट, मामूली वजह पर हुआ था विवाद

Published on

बच्चे के पैदा होने के बाद कुछ रिश्ते उसे पहले से ही मिलते हैं लेकिन कुछ रिश्ते वह खुद बनाता है। दोस्ती का रिश्ता भी ऐसा ही है। कहते है दोस्ती का रिश्ता खून के रिश्ते से भी बढ़कर होता है। दोस्त अगर मुश्किल में हो तो व्यक्ति को अगर अपनी जान की बाजी भी लगानी पड़ जाए तो वह पीछे नहीं हटता। लेकिन पानीपत से एक एस मामला सामने आया है जहां दोस्तों ने मामूली झगड़े में अपने ही दोस्त को मौत के घाट उतार दिया।

यह मामला पानीपत की आरके पुरम कॉलोनी का है, जहां रात के करीब ढाई बजे तीसरी मंजिल की छत पर सो रहे 3 दोस्तों का झगड़ा हो गया।

हरियाणा: अपने ही दोस्त को दोस्तों ने उतारा मौत के घाट, मामूली वजह पर हुआ था विवाद

झगड़ा देख मृतक सूरज के पिता उठे और तीनों को समझा बुझाकर सुला दिया। लेकिन कुछ ही देर बाद तीनों में फिर झगड़ा हो गया और 15 साल के सूरज को 2 दोस्तों ने तीसरी मंजिल से नीचे फेंक दिया।

परिजनों ने दोनों युवकों पर लगाया हत्या का आरोप

हरियाणा: अपने ही दोस्त को दोस्तों ने उतारा मौत के घाट, मामूली वजह पर हुआ था विवाद

परिजनों ने दोनों युवकों पर हत्या करने का आरोप लगाया है और दोनों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग की है। वहीं परिजनों की माने तो वारदात को अंजाम देकर दोनों आरोपी फरार हो गए थे, लेकिन सुबह ही पुलिस ने दोनों आरोपियों को काबू कर लिया।

हरियाणा: अपने ही दोस्त को दोस्तों ने उतारा मौत के घाट, मामूली वजह पर हुआ था विवाद

वहीं मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए पानीपत के सिविल अस्पताल में रखवाया और मामले की गहनता से जांच में जुट गई है।

बता दें कि मृतक सूरज का परिवार लंबे वक्त से बिहार से आकर पानीपत में मजदूरी करके अपना गुजारा कर रहे थे। वहीं मृतक सूरज अपने दोस्तों के साथ मिलकर डीजे का काम करता था।

हरियाणा: अपने ही दोस्त को दोस्तों ने उतारा मौत के घाट, मामूली वजह पर हुआ था विवाद

बहरहाल पुलिस मामले की जांच करने में जुटी है और ये तलाशने की कोशिश कर रही है कि आखिर तीनों में झगड़ा किस बात को लेकर हुआ था। इसके लिए सूरज के पिता से भी पूछताछ की जा रही है।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...