Online se Dil tak

हरियाणा सरकार ने दिया प्रदेश के सभी खिलाड़ियों को एक और तोहफा, अब निखर कर आएगा खिलाड़ियों का हुनर

अब हरियाणा की सरकार प्रदेश के खिलाड़ियों के प्रदर्शन में निखार लाने के लिए अनेक प्रयास कर रही है। वहीं इसी कड़ी में प्रदेश सरकार छोटे स्तर पर खेल नर्सरियां शुरू करने के बाद हरियाणा में खेल अकादमी भी शुरू करने जा रही है वही आपको बता दें कि अकादमी भी एक-दो खेल की नहीं, बल्कि सभी खेलों की दो-दो अकादमी होगी जो प्रदेश के खिलाड़ियों को न केवल इंटरनेशनल लेवल की प्रतियोगिताओं के लिए तैयार करेगी बल्कि खिलाड़ियों को नौकरी दिलवाने में भी भूमिका अदा करेगी।

आपको बता दें कि अंतरराष्ट्रीय वॉलीबॉल कोच रमेश कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि वर्ष 2022 में इस खास पर योजना पर सरकार की ओर से काम शुरू कर दिया जाएगा साथ ही वर्तमान में केंद्र सरकार की ओर से गुजरात तक केरल में राष्ट्रीय स्तर पर वॉलीबॉल अकादमी चल रही है।

हरियाणा सरकार ने दिया प्रदेश के सभी खिलाड़ियों को एक और तोहफा, अब निखर कर आएगा खिलाड़ियों का हुनर
हरियाणा सरकार ने दिया प्रदेश के सभी खिलाड़ियों को एक और तोहफा, अब निखर कर आएगा खिलाड़ियों का हुनर

साथ ही इसी तर्ज पर प्रदेश सरकार ने हरियाणा में सभी खेलों की अकादमी खेलने का निर्णय लिया। क्योंकि खेलों के मामले में हरियाणा राज्य की एक अलग ही पहचान है। राष्ट्रीय हो या अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता में हरियाणा के खिलाड़ियों ने अपने प्रदर्शन से देश का नाम हमेशा रोशन किया है। साथ ही देश व प्रदेश में नाम हमेशा ऊंचा रखने का कर्तव्य निभाया है।

साथ ही आपको बता नहीं की कोच नरेश ने बताया कि कौन से जिलों में या कहां किस खेल की अकादमी शुरू की जाए इसका फैसला खिलाड़ियों को रुझान और प्रतियोगिताओं में उनके प्रदर्शन के हिसाब से लिया जाएगा साथ ही उदाहरण के तौर पर जीटी रोड बेल्ट पर खिलाड़ियों का रुझान वॉलीबॉल खेल की तरफ ज्यादा है। तो यहां पर पंचकूला या मधुबन में वॉलीबॉल अकादमी शुरू हो सकती है। साथ ही इसी तरह प्रदेश में बाकी जिलों में भी खिलाड़ियों के रुझान के हिसाब से अकादमी शुरू की जाएगी।

हरियाणा सरकार ने दिया प्रदेश के सभी खिलाड़ियों को एक और तोहफा, अब निखर कर आएगा खिलाड़ियों का हुनर

साथ ही आपको बता दें कोच नरेश का कहना है, कि उनकी टीम इंडियन वालीबॉल लीग जीतने के बाद 2019 में एशियन चैंपियनशिप के लिए जा चुकी है। साथ ही इस बार इससे भी आगे जाने का लक्ष्य है। इसके लिए तैयारियां शुरू हो चुकी है। और अगस्त 2022 में ही एशियन गेम्स होने की संभावनाएं बनी हुई है। साथ ही उन्होंने बताया कि प्रदेश में हर जिले में खेल अकादमी स्थापित होने से खिलाड़ियों को अपने होम जिले में ही अपने पसंदीदा खेल का परीक्षण मिल सकेगा और निश्चित तौर पर इससे खिलाड़ियों के प्रदर्शन में निखार देखने को पक्का मिलेगा।

Read More

Recent