HomeIndiaबिहार में कुदरत का कहर, बिजली और आंधी तूफ़ान से 84 लोगों...

बिहार में कुदरत का कहर, बिजली और आंधी तूफ़ान से 84 लोगों की मौत

Published on

बिहार में आकाशीय बिजली गिरने और आंधी तूफ़ान से भारी तबाही हुई, बिजली गिरने से बिहार में 83 लोगों की मौत हो गई जबकि कई लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं। बिहार के 23 जिलों में आकाशीय बिजली गिरने से भारी मात्रा में छती हुई है, सबसे ज्यादा मौत गोपालगंज में हुई जहां पर 13 लोग मारे गए।

बिहार में कुदरत का कहर, बिजली और आंधी तूफ़ान से 84 लोगों की मौत

बिहार के गोपालगंज, सिवान, मधुबनी, भागलपुर, मोतिहारी, दरभंगा, बांका, जहानाबाद, शिवहर, समस्तीपुर समेत कई जिलों में आकाशीय बिजली गिरने से लोगों की मौत हो गई। इनमे गोपालगंज में 13, मधुबनी में 8, सिवान में 6, बांका में 5, मोतिहारी में 2, दरभंगा, समस्तीपुर, शिवहर और जहानाबाद में एक-एक व्यक्ति की मौत हो गई।

बिहार में कुदरत का कहर, बिजली और आंधी तूफ़ान से 84 लोगों की मौत

गोपालगंज में गुरुवार की सुबह से ही बारिश हो रही थी और इस बीच आकाशीय बिजली गिरने से 13 लोगों की मौत हो गई। बिजली से उचका गांव में चार, मांझा में दो, विजयीपुर, कटेया और बरेली में एक-एक व्यक्ति की मौत हो गई। जान गवाने वाले ज्यादातर लोग खेत में धान की रोपाई कर रहे थे।

बिहार में कुदरत का कहर, बिजली और आंधी तूफ़ान से 84 लोगों की मौत

वहीं उत्तर प्रदेश में बिजली गिरने से भारी तबाही हुई है, बिजली गिरने से प्रदेश में कम से कम 9 लोगों की मौत हो गई और कई लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं। देवरिया में बिजली गिरने से उसकी चपेट में आने से सात लोगों की मौत हो गई जबकि आधा दर्जन लोग घायल भी हुए हैं।

Written by – Ansh Sharma

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...