Pehchan Faridabad
Know Your City

केन्द्र सरकार लेगी आखिरी फैसला, दिल्ली मेट्रो 1 जुलाई से चलेगी या नहीं?

कोरोना वायरस के चलते पुरे देश भर मे संपूर्ण लाकडॉऊन लगया था जिससे लोग एक दूसरे के संपर्क मे न आए और इस महामारी पर फतह हासिल कर सके लेकिन यह महमारी रूकने का नाम नहीं ले रही हैं इसी के चलते सरकार ने लोगों की मजबूरी को देखते हुए धीरे- धीरे हर चीजों मे रियायत देना शुरू किया था।वहीं अभी कुछ चीजें ऐसी है जो अभी भी बंद हैं जिस पर सरकार जल्द ही अपना फैसला लेगी। दिल्ली मेट्रो भी 3 महीनों से बंद हैं दिल्ली मेट्रो के संचालन को लेकर कवायद एक बार फिर तेज हो सकती है।

ऐसा कहा जा रहा है कि दिल्ली में आम आदमी पार्टी सरकार आने वाली 1 जुलाई से दिल्ली मेट्रो का संचालन शुरू करना चाहती है। लॉकडाउन खत्म होने के बाद दिल्ली सरकार राजधानी में किसी भी सेवा पर रोक लगाने के पक्ष में अब नहीं है। ऐसे में सीएम अरविंद केजरीवाल सरकार दिल्ली मेट्रो का संचालन 1 जुलाई से शुरू करने के मद्देनजर केंद्र सरकार को अनुरोध भरा पत्र लिखेगी।

इसके बाद मेट्रो का संचालन 1 जुलाई से शुरू हो या नहीं?.लेकिन इस पर अंतिम मुहर केंद्र सरकार ही लगाएगी। अगले एक-दो दिनों के दौरान दिल्ली सरकार की ओर से केंद्र सरकार के लिए अनुरोध भरा पत्र लिखा जा सकता है। अगर केंद्र सरकार की मंजूरी मिली तो आने वाली 1 जुलाई से दिल्ली मेट्रो एक बार फिर पटरी पर दौड़ सकेगी।

आप लोगों कि जानकारी के लिए बता दे कि पिछले दिनों एक अध्ययन सामने आया है, जिसमें कहा गया है कि अब लोगों ने सार्वजनिक परिवहन प्रणाली पर निर्भरता कम करनी शुरू कर दी है। लोग अपने निजी वाहन से चलने को ज्यादा महत्व दे रहे हैं। इससे दिल्ली की सड़कों पर ट्रैफिक बढ़ेगा तो प्रदूषण में भी इजाफा होगा।


पर्यटन स्थलों पर भ्रमण को भी मिल सकती है छूट दिल्ली सरकार पर्यटन स्थलों पर भ्रमण के लिए 1 जुलाई से छूट देने का मन बना रही है। माना जा रहा है कि इस बाबत एक प्रस्ताव कैबिनट बैठक में लाया जा सकता है और मुहर लगने के बाद लोगों के लिए पर्यटन स्थलों के लिए खोले जा सकते हैं। मार्च महीने दिल्ली के पर्यटन स्थल आम जनता के लिए बंद हैं, इससे दिल्ली सरकार को राजस्व का भी सीधे-सीधे नुकसान हो रहा है।


मेट्रो संचालन के दौरान यात्रियों के लिए नियम होंगे सख्त बताया जा रहा है कि दिल्ली मेट्रो रेल निगम की ट्रेनों में यात्रा के दौरान सख्त नियमों का पालन करना होगा। यह सख्त नियम मेट्रो स्टेशन से लेकर मेट्रो ट्रेन में यात्रा के दौरान लागू होंगे।


हर एक यात्री को मास्क लगाना होगा। मेट्रो स्टेशन में प्रवेश से लेकर मेट्रो यात्रा के दौरान शारीरिक दूरी का पालन भी करना होगा। मोबाइल ऐप आरोग्य सेतु डाउनलोग करना होगा।अगर किसी को सर्दी-जुकाम और बुखार होगा तो किसी भी सूरत में मेट्रो मे प्रवेश नहीं मिलेगा। मेट्रो यात्रा के दौरान एक मेट्रो ट्रेन कोच में सिर्फ 50 यात्री ही सफर कर पाएंगे, क्योंकि शारीरिक दूरी का नियम पालन करने के चलते एक सीट छोड़कर ही यात्रियों को बैठाया जाएगा। मेट्रो ट्रेनों में सीट पर स्टीकर लगा भी दिए गए हैं, जिस पर लिखा यहां पर बैठना मना है।

एक नजर में दिल्ली मेट्रो दिल्ली-एनसीआर के लाखों लोगों की लाइफलाइन बन चुकी दिल्ली मेट्रो नोएडा, गाजियाबाद, गुरुग्राम, फरीदाबाद और बहादुरगढ़ में भी रफ्तार भरती है। गुरुग्राम में रैपिड रेल का टेकओवर DMRC ने किया है, इसके बाद इसका संचालन दिल्ली मेट्रो रेल निगम ही करता है। चौथे फेज में मेट्रो दिल्ली के कई इलाकों के साथ ग्रेटर नोएडा में भी दौड़ेगी, हालांकि इसमें अभी समय लगेगा।

Written by – Abhishek

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More