HomeFaridabadग्रेटर फरीदाबाद वासियों के लिए खुशखबरी बड़ौली पुल का अधूरा कार्य जल्द...

ग्रेटर फरीदाबाद वासियों के लिए खुशखबरी बड़ौली पुल का अधूरा कार्य जल्द किया जाएगा शुरू

Published on

फरीदाबाद : जिला प्रशासन फरीदाबाद कोरोना महामारी के दौरान केवल आपदा से लड़ने में ही नहीं बल्कि शहर में अन्य व्यवस्थाओं पर भी नजर डाले हुए है ।
ग्रेटर फरीदाबाद से बेहतरीन कनेक्टिविटी के लिए आगरा व गुरुग्राम नहर पर कई पुल बनाए जा चुके हैं। अब जल्द बड़ौली के जर्जर पुल से गुजरने वाले हजारों लोगों को भी राहत मिल पाएगी ।

आगरा नहर पर बनने वाले इस पुल का काम जल्द शुरू होने की जानकारी प्राप्त हुई है। यहां उत्तर प्रदेश सिचाई विभाग द्वारा काम कराया जाएगा । आपको बताना चाहेंगे कि गुरुग्राम नहर पर सिचाई विभाग अपना काम लगभग पूरा कर चुका है। पुल के आगे आगरा नहर पर पुल बनेगा ऐसी जानकारी भी दी गई है

ग्रेटर फरीदाबाद वासियों के लिए खुशखबरी बड़ौली पुल का अधूरा कार्य जल्द किया जाएगा शुरू

यदि एक बारी है फूल बन गया तो अनेक लोगों को इसका फायदा होगा। पुल का सबसे अधिक लाभ बड़ौली, नहरपार बसी हुई सोसायटियों को होगा। गुरुग्राम नहर पर बनने वाले पुल की लागत करीब तीन करोड़ रुपये आएगी। गुरुग्राम व आगरा नहर पर दो अलग-अलग पुल बनेंगे, जिन पर कुल 12 करोड़ रुपये की लागत आएगी।

यह पुल दोनों आपस में जोड़े जाएंगे। बता दें बड़ौली गांव के नाम से गुरुग्राम व आगरा नहर पर बना पुल जर्जर हो चुका है। यह अंग्रेजों के जमाने का पुल है। समय पर मरम्मत न होने की वजह से पुल इतना जर्जर है कि इससे चौपहिया वाहनों की इंट्री बंद कर दी गई है।

ग्रेटर फरीदाबाद वासियों के लिए खुशखबरी बड़ौली पुल का अधूरा कार्य जल्द किया जाएगा शुरू

कई बार गांव के लोगों ने इस बाबत अधिकारियों को शिकायतें भी की हैं। पुल बनने के बाद लोगों को बीपीटीपी पुल से घूमकर नहीं आना पड़ेगा। गुरुग्राम नहर पर पुल निर्माण पूरा हो चुका है। अब आगरा नहर पर पुल बनाने के लिए उत्तर प्रदेश के सिचाई विभाग के अधिकारियों से संपर्क कर रहे हैं।

आपको बता दें कि जानकारी के मुताबिक जल्द ही इस पुल पर कार्य शुरू किया जाएगा पुल बनने के बाद लोगों को बीपीटीपी पुल से घूम कर नहीं आना पड़ेगा क्योंकि देखा गया है कि कई बार गांव के लोगों ने इस बात पर अधिकारियों को शिकायतें भी की है

Latest articles

हरियाणा के बसई गांव से पहली महिला आईएएस बनी ममता यादव

यूपीएससी क्लियर करना बहुत बड़ी उपलब्धि की श्रेणी में आता है और जब कोई...

हरियाणा के रोल मॉडल बने ये दादा पोती की जोड़ी टीचर दादाजी के सहयोग से 23 साल में ही बनी आईएएस

हमने हमेशा से सुना की एक आदमी के सफलता के पीछे हमेशा एक औरत...

अक्षिता गुप्ता आईएएस बनने से पहले डॉक्टर बनना चाहती थी फिर कुछ ऐसा हुआ की क्लियर कर लिया यूपीएससी

यूपीएससी परीक्षा भारत की सबसे कठिन परीक्षा मानी जाती है जिसने हर साल लाखों...

ग्रेटर फरीदाबाद में कछुये की रफ़्तार से हो रहा है कार्य, कई महीनों से बंद हैं आस-पास के रास्ते

फरीदाबाद में बाईपास रोड पर दिल्ली-मुंबई-वडोदरा-एक्सप्रेसवे के लिंक रोड पर बीपीटीपी एलिवेटेड पुल का...

More like this

हरियाणा के बसई गांव से पहली महिला आईएएस बनी ममता यादव

यूपीएससी क्लियर करना बहुत बड़ी उपलब्धि की श्रेणी में आता है और जब कोई...

हरियाणा के रोल मॉडल बने ये दादा पोती की जोड़ी टीचर दादाजी के सहयोग से 23 साल में ही बनी आईएएस

हमने हमेशा से सुना की एक आदमी के सफलता के पीछे हमेशा एक औरत...

अक्षिता गुप्ता आईएएस बनने से पहले डॉक्टर बनना चाहती थी फिर कुछ ऐसा हुआ की क्लियर कर लिया यूपीएससी

यूपीएससी परीक्षा भारत की सबसे कठिन परीक्षा मानी जाती है जिसने हर साल लाखों...