HomeUncategorizedफरीदाबाद में बिजली गिरने से झुलसी दो बच्चियां

फरीदाबाद में बिजली गिरने से झुलसी दो बच्चियां

Published on

झुलसती हुई गर्मी में यह बारिश का आना लोगों के लिए बहुत बड़ी राहत की बात है। सोमवार को फरीदाबाद में मूसलाधार बारिश हुई। बारिश से लोगों को भीषण गर्मी से राहत मिली।

लेकिन इस खुशनुमा मौसम में खबर आई है कि फरीदाबाद के सेक्टर 80 के बडौली गांव में आसमानी बिजली गिरने के कारण दो बच्चियां झुलस गई।

क्या है पूरी खबर

फरीदाबाद में बिजली गिरने से झुलसी दो बच्चियां

सोमवार की बारिश में यह दो बच्चियां अपनी छत पर खड़ी होकर नहा रही थी। उस दौरान अचानक तेज आवाज के साथ इन दोनों पर बिजली गिरी।

बिजली गिरने के कारण दोनों बच्चियां बेहोश होकर छत पर गिर पड़ी। बिजली की आवाज और बच्चियों के गिरने की आवाज को सुनकर उनके परिजन दौड़ कर छत पर आए। छत पर उन्होंने पाया कि बच्चियां बेहोश थी।

वे तुरंत बच्चियों को गोद में उठाकर नीचे ले गए और उनका निजी अस्पताल में भर्ती करवा दिया। सूत्रों के अनुसार बताया जा रहा है कि उनमें से एक बच्ची सात वह दूसरी बच्ची 9 साल की थी। निजी अस्पताल में एक बच्ची को तो होश आ गया लेकिन दूसरी बच्ची बेहोश रही।

उसको देखते हुए उनके परिजनों को बादशाह खान हॉस्पिटल रेफर किया गया। लेकिन वहां से भी उन्हें दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में भेज दिया गया है। अभी भी बेहोश बच्ची की हालत गंभीर बताई जा रही है।

फरीदाबाद में बिजली गिरने से झुलसी दो बच्चियां

बारिश के समय बिजली कड़कने पर बरतें सावधानी

मानसून या बारिश के मौसम में बिजली का कड़कना एक आम बात है। लेकिन सावधानी ना बरतें पर यह आसमानी बिजली जानलेवा भी हो सकती है। इसलिए बारिश के मौसम में बिजली कड़कने पर स्वयं की सावधानी आपको बचा सकती है। आपदा विभाग द्वारा हर वर्ष प्रचार प्रसार करके लोगों को जागरूक किया जाता है। लेकिन फिर भी इस पर ध्यान नहीं देते और सावधानी नहीं बरतते।

  1. बिजली मिस्त्री से कहकर घर में एक अर्थिंग एंटीना लगवा ले , जो बिजली गिरने के दौरान अर्थिग का काम करता है।
  2. आंधी तूफान या बारिश के आते ही सभी बिजली से चलने वाली उनसे बंद कर दें और उनसे दूरी बनाए रखें।
  3. उस दौरान मोबाइल यूज करने और नंगे पैर से वॉइस व जमीन पर खड़े रहने से बचें।
  4. ऐसे मौसम में बाहर जाने से बचें और अपने घर के अंदर ही रहना बेहतर है।

बारिश के समय हम अक्सर उसका लुफ्त उठाने के लिए बाहर निकलते हैं। कई लोग बारिश में भीगना और नहाना पसंद करते हैं। बारिश में नहाना तो ठीक है लेकिन बारिश के साथ कड़कती हुई आसमानी बिजली मे बाहर निकलना जानलेवा भी साबित हो सकता है। ऐसे में आप घर के अंदर रह कर की बारिश को इंजॉय कीजिए।

Written by- Vikas Singh

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...