HomeIndiaमहज़ 11 साल की उम्र में पिता का डेयरी बिजनेस संभाल कर...

महज़ 11 साल की उम्र में पिता का डेयरी बिजनेस संभाल कर मिसाल बनी श्रद्धा धवन, आज हर महीने कमा रही हैं 6 लाख रुपये!

Published on

महज़ 11 साल की उम्र में पिता का डेयरी बिजनेस संभाल कर मिसाल बनी श्रद्धा धवन, आज हर महीने कमा रही हैं 6 लाख रुपये! :- आज के आधुनिक युग में लड़कियां लड़कों से कोई भी मायने में कम नही है, यदि आज भी कोई ऐसा धारणा रखता है जैसे लड़की कुछ नहीं कर सकती तो वे बिलकुल गलत हैं। इसका अंदाजा आप आज के इस उदाहरण को पढ़ कर लगा सकते हैं।

हमने खेल कूद और बॉक्सिंग में हाथ आज़माने वाली देश की बेटियों के बारे में सुना होगा पर आज जिस बेटी के बारे में बात करने जा रहे है वह दूसरो से कुछ अलग है, और इस कारण वह लोगो के बीच मिसाल बन कर खड़ी है, तो चलिए जानते है हम किस बेटी के बारे में बात कर रहे हैं।

महज़ 11 साल की उम्र में पिता का डेयरी बिजनेस संभाल कर मिसाल बनी श्रद्धा धवन, आज हर महीने कमा रही हैं 6 लाख रुपये!

महज़ 11 साल की उम्र में अपने पिता की डेयरी फार्मिंग की बिजनेस संभाल कर बेटियों के लिए मिशाल बनी श्रद्धा धवन, आज हर महीने कमा रही हैं 6 लाख रुपये!

आपको बता दें, हम बात कर रहे है, महाराष्ट्र के अहमदनगर से 60 किलोमीटर की दूरी पर निघोज नामक गाँव में रहने वाली 21 साल की श्रद्धा धवन के बारे में। वे आज 21 साल की छोटी उम्र में आत्मनिर्भर बनकर डेयरी फॉर्मिंग का काम कर रही हैं। यह सुन कर आपको जरूर हैरानी हुई होगी, पर यह सच हैं। आपको बता दें, सबसे ज्यादा हैरान करने वाली बात यह है कि वे आज इस बिजनेस से लाखों रुपए कमा रही हैं।

महज़ 11 साल की उम्र में पिता का डेयरी बिजनेस संभाल कर मिसाल बनी श्रद्धा धवन, आज हर महीने कमा रही हैं 6 लाख रुपये!

रिपोर्ट के अनुसार, वे पिछले 10 सालों से डेयरी फर्मिंग का काम संभाल रही है, जहां वे भैंसों के दूध निकालने से लेकर सुबह सवेरे घर-घर जाकर होम डिलीवरी तक का काम करती हैं। इसके अलावा, उनके कंधों पर भैंसों के लिए चारा उगाने, काटने और उनकी देखभाल करने की पूरी जिम्मेदारी हैं।

महज़ 11 साल की उम्र में पिता का डेयरी बिजनेस संभाल कर मिसाल बनी श्रद्धा धवन, आज हर महीने कमा रही हैं 6 लाख रुपये!

आपकी जानकारी के लिए बता दें, श्रद्धा धवन के पिता खानदानी तौर पर डेयरी फार्मिंग का काम करते थे, वहीं इसी के जरिए उनके परिवार की रोज़ी रोटी भी चलती थी, पर अचानक उनके पिता की तबीयत खराब होने की वजह से आर्थिक स्थिति डगमगा गई। वहीं जब फार्म में बस एक ही भैंस रह गई थी तब श्रद्धा ने अपने बीमार पिता की मदद करने का फ़ैसला लिया और डेयरी फार्मिंग के काम में लग गई।

वहीं जब उनके पास एक ही भैंस थी तो श्रद्धा ने दिन रात मेहनत करके 4 से 5 कर दी। आपको जानकर हैरानी होगी श्रद्धा ने महज़ 11 साल की उम्र में डेयरी फार्मिंग से जुड़ी छोटी-छोटी बारिकियों को सीख लिया था, वहीं इसी दौरान ज़्यादा दूध देने वाली भैंस की नस्लों की जानकारी भी उसे हो गई। इसी की वजह से वे आज 80 से ज़्यादा भैंसों का फार्म संभाल रही हैं।

महज़ 11 साल की उम्र में पिता का डेयरी बिजनेस संभाल कर मिसाल बनी श्रद्धा धवन, आज हर महीने कमा रही हैं 6 लाख रुपये!

पर इस राह में उनको दोस्तों के तानों और पढ़ाई में परेशानी जैसे कई दिक्कतो का सामना करना पड़ा, पर इन सब से वे हार नही मानी। वहीं प्रोडक्शन ज़्यादा होने की वज़ह से श्रद्धा ने दूध की होम डिलीवरी करना शुरू किया वो भी खुद बाइक से।

इसके बाद जैसे ही उनकी फार्म तरक्की हुआ उन्होंने दूसरी डेयरी वालों के साथ टाइअप करने की सोची। जिससे फायदे से वे घर-घर दूध बांटने के बजाय डेयरी वालों को दूध सप्लाई करने लगी।

महज़ 11 साल की उम्र में पिता का डेयरी बिजनेस संभाल कर मिसाल बनी श्रद्धा धवन, आज हर महीने कमा रही हैं 6 लाख रुपये!

वर्तमान में दो मंजिला हो चुकी उनकी फार्म रोजाना 450 लीटर से भी ज़्यादा दूध देती है, वही 20 भैंसों का दूध श्रद्धा अकेले निकलाती हैं। यहीं नहीं श्रद्धा ने फार्म के देखभाल के लिए 3 से 4 मज़दूर भी रख लिए है, इसके अलावा दुध की डिलीवरी आज बाइक के बजाय बोलेरो से होने लगी हैं।

Latest articles

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

More like this

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...