HomeInternational60 हजार मधुमक्खियों को मुंह पर बैठाए रखा इस लड़के ने, जानिये...

60 हजार मधुमक्खियों को मुंह पर बैठाए रखा इस लड़के ने, जानिये क्या थी वजह

Published on

शौक बड़ी चीज़ है, लेकिन ज़िंदगी से बड़ा कुछ नहीं | ऐसे बहुत से लोग हैं दुनिया में, जो अपने अजीबो-गरीब शौक रखते हैं | उस शौक को पूरा करने के लिए न जाने कितने अपनी जान भी गवा देते हैं | आपने अक्सर मधुमक्खी को काटते देखा होगा,

अगर मधुमक्खी किसी के ऊपर बैठ जाए, तो उसको काट लेती है, जिससे काटने वाली जगह पर सूजन आ जाती है, दर्द होने लगता है | लेकिन क्या आपने कभी मधुमक्खी के दोस्त देंखे हैं. ऐसे दोस्त जो मधुमक्खी के साथ रहते हैं फिर भी उन्हें कोई नुकसान नहीं पहुंचाते हैं | चलिए हम आपको एक ऐसा किस्सा बताते हैं |

60 हजार मधुमक्खियों को मुंह पर बैठाए रखा इस लड़के ने, जानिये क्या थी वजह

मधुमक्खी के डंक में इतना जोर होता है कि पलों में ही वह जहाँ काट टी है, उस जगह को सूजन से भर देती है | केरल के रहने वाले एक लड़के की मधुमक्खियां दोस्त हैं, जिनको वह पूरे मुंह से ढक लेते है | इस शख्स के मुंह पर साथ लगभग 60 हजार मधुमक्खियां बैठ जाती हैं | इतना ही नहीं, इस शख्स ने मुंह पर मधुमक्खियों को बैठाकर लगभग 4 घंटे 10 मिनट 5 सेकंड का वर्ल्ड रिकॉर्ड भी बनाया है | उस शख्स का नाम नेचर एम.एस है, जो कि केरल के रहने वाला है |

60 हजार मधुमक्खियों को मुंह पर बैठाए रखा इस लड़के ने, जानिये क्या थी वजह

हाथी को दोस्त होते सुना था, कुत्ते को देखा इंसान का दोस्त होते, लेकिन नेचर एम.एस ने बताया कि मधुमक्खी उनकी बेस्टफ्रेंड हैं, इसलिए वह उन्हें दोस्त की तरह ही ट्रीट करते हैं | जब 7 साल के थे, वह तब से अपने मुंह पर मधुमक्खियों को बैठा रहे हैं |

इस तरह उन्होंने मुंह पर मधुमक्खियां बैठाने का सबसे लंबा रिकॉर्ड बनाया है. उन्होंने मधुमक्खियों से बहुत प्यार है, इसलिए उन्हें किसी भी तरह का डर भी नहीं लगता है | ऐसा करना उनके लिए आासन नहीं है, लेकिन उन्हें मधुमक्खियों से कभी कोई परेशानी नहीं हुई है. उन्हें मधुमक्खियां अच्छा महसूस कराती हैं |

Written By – Om Sethi

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...