HomeLife StyleEntertainmentजानिए बॉलीवुड के उस मशहूर खलनायक के बारे में, जो रियल लाइफ...

जानिए बॉलीवुड के उस मशहूर खलनायक के बारे में, जो रियल लाइफ में गुंडों को पीट लोगों के बीच बन गया था हीरो

Published on

जैसा की आप सभी को पता ही है कि,  फिल्मों में 2 लोग सबसे अहम भूमिका निभाते हैं। जिसमें से एक हीरो होता है और एक विलन होता है। ऐसे ही एक विलन के बारे में हम आपको आज बताने वाले हैं, जो कि अपनी अनोखी संवाद अदायगी के लिए जाने जाते थे। जी हां,  हम बात कर रहे हैं बॉलीवुड के प्रसिद्ध खलनायक अजीत खान की।  बता दें उनका जन्म 27 फरवरी 1922 को हैदराबाद में हुआ था। उनका असली नाम हामिद अली ख़ान था।

फिल्म इंडस्ट्री में काम करने के बाद उन्होंने अपना नाम बदलकर अजीत कर लिया। इन्होंने 200 से भी ज्यादा फिल्मों में काम किया है। इन्हें अपनी असली पहचान फिल्म कालीचरण से मिली थी।

जानिए बॉलीवुड के उस मशहूर खलनायक के बारे में, जो रियल लाइफ में गुंडों को पीट लोगों के बीच बन गया था हीरो

अजीत ने जब पर्दे पर अपना मशहूर डायलॉग “पूरा शहर मुझे एक शेर के रूप में जानता है”  बोला तो उनकी इस बेहतरीन डायलॉग डिलीवरी की लोगों ने खूब तारीफें की। अजीत सिंह बॉलीवुड के एक ऐसे विलन थे, जिन्होंने अभिनय में हर बार फिल्म के हीरो को मात दी।

आपको बता दें कि, आज भी लोग इनके दो और डायलॉग को दोहराते हुए नजर आते हैं, वो हैं ‘लिली डोंट बी सिली’ और ‘मोना डार्लिंग’। ये ऐसे डायलॉग है जो सिर्फ अजीत की आवाज पर फिट बैठते थे। आपको बता दे, यह खलनायक बैक्पन में अपने घर से भागकर मुंबई आ गया था।

जानिए बॉलीवुड के उस मशहूर खलनायक के बारे में, जो रियल लाइफ में गुंडों को पीट लोगों के बीच बन गया था हीरो

अगर यह बचपन में घर से भागकर मुंबई न आते तो शायद हिंदी सिनेमा को कोई दिग्गज कलाकार न मिलता। अभिनेता बनने का सपना संजोते हुए अजित को बचपन से ही अभिनय का शौक था। कहा जाता है कि अजीत ने अपने सपने को पूरा करने के लिए अपनी किताबें भी बेच दी थीं।

यह घर से भागकर मायानगरी आ गए, लेकिन उस समय न रहने की जगह थी और न ही खाने के लिए खाना । ऐसे में उसने अपना सिर छुपाने के लिए अभिनेता ने सीमेंट के पाइप में अपना ठिकाना बना लिया। लेकिन परेशानी यहीं नहीं रुकी।

जानिए बॉलीवुड के उस मशहूर खलनायक के बारे में, जो रियल लाइफ में गुंडों को पीट लोगों के बीच बन गया था हीरो

मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो, स्थानीय गुंडे पाइप में रहने वाले लोगों से एक हफ्ते रंगदारी वसूल करते थे। अगर पैसे नहीं देने पर मारपीट करते थे। एक दिन अजीत ने गुंडों को पीटा और वहां रहने वाले लोगों के लिए हीरो बन गया।

आपको बता दे,  अजीत कभी भी फिल्मी पर्दे पर विलेन नहीं बनना चाहते थे, उन्होंने सिर्फ हीरो बनने का सपना देखा था। अजीत ने शुरूआती दौर में कुछ फिल्मों में बतौर हीरो काम भी किया लेकिन उन्हें सफलता नहीं मिली और वे विलेन के रोल में उतरते ही मशहूर हो गए।

जानिए बॉलीवुड के उस मशहूर खलनायक के बारे में, जो रियल लाइफ में गुंडों को पीट लोगों के बीच बन गया था हीरो

अजीत ने अपने शानदार अभिनय से हिंदी सिनेमा में अपने किरदारों को हमेशा के लिए अमर कर दिया। अजित की पर्सनैलिटी ऐसी थी कि पर्दे पर आते तो छा जाते। नया दौर, यादों की बारात, नास्तिक, कालीचरण जैसी फिल्मों में शानदार अभिनय करने वाले अजीत ने 22 अक्टूबर 1998 को दुनिया को अलविदा कह दिया।

Latest articles

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...

More like this

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...