HomeFaridabadजिले में तैयार किए जा रहे डेडीकेटेड कॉविड केयर सेंटर, मरीजों को...

जिले में तैयार किए जा रहे डेडीकेटेड कॉविड केयर सेंटर, मरीजों को मिल सकेंगी ये सुविधाएं

Published on


फरीदाबाद में निरंतर बढ़ते कोरोना वायरस के आंकड़ों को देखते हुए फरीदाबाद जिला प्रशासन के आदेश अनुसार जिले में कोविड-19 आइसोलेशन वार्ड की संख्या बढ़ाने का अहम निर्णय लिया गया है। जिनमें ऐसे लोगों को रखा जा सकेगा जो अपने घरों में आइसोलेट होने में असमर्थ है या वे लोग जो किराए पर रहते हैं और उनके पास स्वयं को आइसोलेट करने के लिए उचित स्थान उपलब्ध नहीं है।

जिले में अतिरिक्त कोविड-19 आइसोलेशन वार्ड बनाने के लिए जिला प्रशासन द्वारा 10 संस्थाओं के भवनों व सामुदायिक भवनों को कोविड-19 केयर सेंटर बनाने के लिए उनके अधिग्रहण करने के आदेश जारी किए गए हैं। जिलाधीश यशपाल यादव ने अपने द्वारा जारी किए गए आदेशों में कोविड-19 केयर सेंटर बनाने के लिए 10 भवनों को अधिग्रहण करने के आदेश पारित किए हैं।

जिले में तैयार किए जा रहे डेडीकेटेड कॉविड केयर सेंटर, मरीजों को मिल सकेंगी ये सुविधाएं

कोविड-19 केयर सेंटर बनाने के लिए जिन भवनों का जिला प्रशासन द्वारा चयन किया गया है उनमें सेक्टर 2,3 62, व 21 सी के सामुदायिक भवनों के साथ-साथ सेक्टर 3 स्थित अग्रवाल स्कूल, दयालबाग सूरजकुंड स्थित सूरजकुंड इंटरनेशनल स्कूल शिव दुर्गा विहार स्थित आइडियल पब्लिक स्कूल, सेक्टर 43 स्थित अरावली इंटरनेशनल स्कूल, एनआईटी स्थित महावीर सामुदायिक भवन नंबर-2, पटेल भवन नजदीक मुल्ला होटल एवं कई अन्य स्थान शामिल है।

जिले में तैयार किए जा रहे डेडीकेटेड कॉविड केयर सेंटर, मरीजों को मिल सकेंगी ये सुविधाएं

जिलाधीश द्वारा जारी किए गए आदेशों में कहां गया हैं कि इन भवनों से संबंधित प्रबंधन बल्लभगढ़ व बड़खल एसडीएम को इन भवनों का कब्जा सौंप दें ताकि जल्द से जल्द इन भवनों को कोविड-19 केयर सेंटर में तब्दील किया जा सके और उन लोगों को यहां पर रखा जा सके जो अपने घरों में क्वॉरेंटाइन होने में असमर्थ है।

जिले में तैयार किए जा रहे डेडीकेटेड कॉविड केयर सेंटर, मरीजों को मिल सकेंगी ये सुविधाएं

जानकारी के लिए बता दें कि फरीदाबाद में कोरोना के बढ़ते आंकड़े अभी भी रफ्तार पकड़े हुए है और अभी तक जिले में 4500 से भी अधिक संख्या में मरीज सामने आ चुके हैं। लेकिन राहत की बात यह है कि संक्रमित पाए गए कुल मरीजों में से करीब 3600 के करीब मरीज अब तक पूरी तरह ठीक हो चुके हैं और अपने घर जा चुके हैं। लेकिन अभी भी जिले में नए मरीजों का सामने आना लगातार जारी है जिस से जिला प्रशासन की चिंता बनी हुई है।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...