Pehchan Faridabad
Know Your City

सावन की झड़ी का अब भी इंतज़ार, फरीदाबाद में बरसे बदरा

मानसून सक्रिय होने के बावजूद, बदरा फरीदाबाद जिले में ठीक से नहीं गरज रहे हैं। कुछ देर बारिश होती है फिर सूरज देवता निकल आते हैं। सुबह अचानक मौसम ने करवट बदल ली। आसमान में काले बादल छा गए। जिले में कहीं बारिश हुई तो कहीं सूखा रहा। उमस भरी गर्मी ने शहरवासियों के पसीने निकाल दिए हैं।

घर से बहार कदम रखते ही सूर्य देवता अपना प्रकोप दिखाते हैं, हालांकि 3-4 दिनों से मौसम में बदरा छाय हुए हैं। लेकिन गर्मी से निजात नहीं मिल रहा है।

सावन की झड़ी का अब भी इंतज़ार, फरीदाबाद में बरसे बदरा

जिले में आधा घंटा यदि झमाझम बारिश होती है तो, बहुत से इलाकों को देख कर ऐसा प्रतीत होता है कि यह सड़कें हैं या स्विमिंग पूल। सुबह कुछ तेज हवाएं चली और आसमान में बादल छा गए। कुछ ही देर बाद बारिश हो गई।

फरीदाबाद में बरसे बदरा

यह बारिश जिले के कई हिस्सों में एकसाथ हुई तो कई क्षेत्रों में बारिश की एक बूंद भी नहीं गिर सकी। बारिश होने से गर्मी के तेवर ढीले पड़ गए हैं ।

हरियाणा के दूसरे जिलों में तो इंद्रदेव बरखा करवा रहे हैं, लेकिन अपने फरीदाबाद में उनकी कृपा नहीं पड़ रही है । जिले में पिछले कई दिनों से उमस भरी गर्मी पड़ रही है।

तापमान कुछ दिनों से ठीक है, लेकिन गत दिनों यह 44 के पार रहता था। फरीदाबाद में आज का अधिकतम तापमान 36 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम 28 डिग्री सेल्सियस रहेगा।

सावन की झड़ी का अब भी इंतज़ार, फरीदाबाद में बरसे बदरा

फरीदाबाद में बारिश के कारण जगह – जगह जलभराव हो जाता है। नगर निगम दावे खूब करता है कि पानी कम भरेगा नालो की सफाई के कारण, लेकिन बारिश उसकी पोल खोल देती है। 2 करोड़ से अधिक फरीदाबाद नगर निगम को नालों की सफाई के लिए दिए जाते हैं राज्य सरकार द्वारा। 2 करोड़ तो दूर 2 रूपए का काम भी नज़र नहीं आता।

सावन की झड़ी का अब भी इंतज़ार, फरीदाबाद में बरसे बदरा

जनता तकलीफ में अधिकारी कारों में। जनता के पैसों से अधिकारियों के बच्चों को बहुत राहत मिलती है।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More