Online se Dil tak

न करें बिजली चोरी, सरकार कर सकती है ये सख्त कार्यवाई छापेमारी भी हुई तेज़

बिजली चोरी के मामले लगातार प्रदेश और देश में बढ़ते जा रहे हैं। सरकार सख्त होती है, लेकिन फिर नरम रुख पकड़ लेती है। बिजली चोरी करने वालों की अब खैर नहीं है। विभाग ने बिजली चोरी को पकड़ने के लिए सख्त रुख आख्तियार कर लिया है। विभाग की तरफ से अब बिजली के ओवरलोड की जानकारी जुटाकर छापेमारी करने की योजना बना ली है।

कोरोना काल से पहले भी बिजली चोरी लगातार होती रही है। प्रदेश में बिजली विभाग की तऱफ से बिजली चोरी की घटनाओं को रोकने के लिए खास कदम उठाया गया है।

न करें बिजली चोरी, सरकार कर सकती है ये सख्त कार्यवाई छापेमारी भी हुई तेज

महामारी में के कारण लगे लॉकडाउन में बिजली चोरी की घटनाओं में इजाफा हुआ है। बिजली बोर्ड ने एक विशेष अभियान चलाया है, जिसके चलते हर जिले के 12 उपमंडल क्षेत्रों में प्रत्येक उपमंडल के लिए दो-दो छापेमार टीम गठित हो सकती है।

न करें बिजली चोरी, सरकार कर सकती है ये सख्त कार्यवाई छापेमारी भी हुई तेज़

बिजली चोरी करना न सिर्फ देश के साथ धोखा है, बल्कि खुद की जान पर भी खतरा है। जींद जिले की बात करें तो यहां चोरी को घटनाओं को रोकने के लिए जिले 12 उपमंडल है, जिनमें 2-2 टीम बिजली चोरी रोकने के लिए बनाई गयी है। जुलाई माह से लेकर अब तक 481 बिजली चोरों के खिलाफ कार्रवाई की गई है।

फरीदाबाद की बात की जाए तो दक्षिण हरियाणा बिजली निगम ने पिछले दो महीनों में जिले में बिजली चोरी के 600 मामलों का पता लगाया है। इस पर अंकुश लगाने के लिए, दक्षिण हरियाणा बिजली निगम ने उपभोक्ताओं पर 3.5 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया है।

न करें बिजली चोरी, सरकार कर सकती है ये सख्त कार्यवाई छापेमारी भी हुई तेज़

गत दिनों पहले यह मामला बहुत चर्चा में था कि हरियाणा की बिजली नोएडा चोरी कर रहा है। फरीदाबाद से नोएडा के स्थित-45 फार्महाउस में भूमिगत लाइन डालकर बिजली चोरी कराई जी रही थी। हरियाणा के बिजली निगम ने इसका भंडाफोड़ कर दिया था। यहां पर 11 हजार केवी इस लाइन पर 24 ट्रांसफार्मर लगे हुए थे।

Read More

Recent