Pehchan Faridabad
Know Your City

सचिन तेंदुलकर कि इस दिलचस्प प्रेम कहानी के बारे में नहीं जानते तो आप नहीं है सचिन तेंदुलकर के जबरे फैन।

क्रिकेट की दुनिया के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर कि छवि आपके मन में हमेशा क्रिकेट के ग्राउंड पर अपनी बेहतरीन बल्लेबाजी के बल पर विरोधी टीम को मात देने वाले खिलाड़ी के रूप में रही होगी लेकिन क्या आप जानते है की सचिन तेंदुलकर का व्यक्तित्व भी कभी आशिक़ मिजाज वाला रहा था।

जिसके चलते उनको पहले प्रेम हुआ और फिर उनका प्रेम विवाह। प्रेम वह शब्द है जो किसी से भी किसी रूप में भी हो सकता है और यदि कोई व्यक्ति प्रेम में पड़ता है तो उसके जीवन में कुछ अहम बदलाव अवश्य देखने को मिलते हैं जिनका उनके जीवन पर गहरा प्रभाव छूटता है। ऐसा ही ठीक सचिन तेंदुलकर के साथ भी हुआ जिसकी जानकारी इस लेख में हम आपके साथ साझा करेगे।

क्रिकेट जगत के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर कि प्रेम से लेकर प्रेम विवाह तक की कहानी किसी फिल्म की स्टोरी से कम नहीं है। सचिन तेंदुलकर कि पत्नी का नाम अंजलि मेहता है जो पेशे से एक डॉक्टर है। बात की जाए दोनो के पहली मुलाकात कि तो सचिन की उनकी पत्नी से पहली मुलाकात का किस्सा काफी दिलचस्प है।

सचिन तेंदुलकर कि इस दिलचस्प प्रेम कहानी के बारे में नहीं जानते तो आप नहीं है सचिन तेंदुलकर के जबरे फैन

1990 के दशक में सचिन तेंदुलकर अपनी काबिलियत के बल पर धीरे-धीरे क्रिकेट जगत में अपना नाम बना रहे थे और उस समय अंजली मेहता अपनी डॉक्टरी की पढ़ाई पूरी कर एक अस्पताल में प्रैक्टिस कर रही थी। जब सचिन अपने इंग्लैंड में दौरे से भारत वापस आ रहे थे तो उस समय अंजली मेहता अपनी मां को रिसीव करने एयरपोर्ट गई हुई थी। जब सचिन भारत वापस लौटे तो अंजलि की सहेली ने सचिन को देखते हुए अंजलि को कहा “वाओ सो क्यूट ना”

जिसके बाद अंजलि मेहता ने सचिन को पहली बार देखा और उनकी दीवानी हो गई। सचिन ने भी उस समय अंजलि को नोटिस किया था लेकिन एयरपोर्ट पर अधिक सिक्योरिटी होने के कारण वे उनसे मिल नहीं पाए। इस पूरी मुलाकात में दिलचस्प बात यह है कि अंजलि मेहता जिस काम के लिए एयरपोर्ट पहुंची थी वह काम भूलकर सचिन को निहारने में लगी रही।

इस पूरी मुलाकात तक अंजलि को यह बात बिल्कुल भी नहीं पता थी कि सचिन एक क्रिकेटर है और ना ही उन्हें क्रिकेट में कोई खास दिलचस्पी थी। लेकिन बाद में अंजली की सहेली ने अंजलि को बताया कि सचिन भारतीय टीम के एक मशहूर क्रिकेटर है और अभी हाल ही में उन्होंने इंग्लैंड में अपनी पहली सेंचुरी बनाई है

लेकिन अंजलि को इससे कुछ खास फर्क नहीं पड़ा और वह सचिन को लगातार फॉलो करती रही। इसके बाद अंजलि ने जैसे-तैसे कर सचिन तेंदुलकर का मोबाइल नंबर ढूंढ निकाला और पहली बार उनसे फोन पर बात करने का साहस जुटाया।

अंजली मेहता ने पहली बार सचिन तेंदुलकर से बात की और बताया कि उन्होंने पहली बार सचिन को एयरपोर्ट पर देखा था तब सचिन ने भी जवाब देते हुए बताया कि उन्होंने भी अंजलि को नोटिस किया था लेकिन अधिक सिक्योरिटी होने के कारण वे उनसे बात नहीं कर पाए थे। बाद दोनों के बीच बहुत सारी बातें हुई और फिर धीरे-धीरे अंजली मेहता और सचिन तेंदुलकर में दोस्ती हुई जो समय के साथ धीरे-धीरे गहरी होती चली गई।

जब सचिन तेंदुलकर अंजलि मेहता को अपने परिवार से मिलवाने वाले थे तो उन्होंने इसके लिए एक तरकीब निकाली। वे अंजलि को अपने घर ले गए और अपने परिवार के सामने अंजलि का परिचय पत्रकार के रूप में देते हुए अंजलि को अपने परिवार वालों से मिलवाया और परिवार वालो को यह बोलकर अंजलि से मुलाकात कराई की ये एक पत्रकार है जो उनका इंटरव्यू लेने उनके घर आई है।

लेकिन सचिन काफी शर्मीले किस्म के इंसान है इसलिए उनके घर वालों ने उनके चेहरे के हाव भाव देखकर वास्तविकता का पता लगा लिया जिसके बाद सचिन को अंजलि के वास्तविक परिचय के साथ परिवार से मिलवाना पड़ा। इसके बाद अंजलि ओर सचिन ने 5 साल तक एक दूसरे को डेट किया ओर 1995 में दोनों की शादी दोनो परिवारों की सहमति से हुई।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More