Pehchan Faridabad
Know Your City

जानिए कैसे है , फरीदाबाद के कंटेनमेंट ज़ोन के हालात ।

फरीदाबाद : जिला फरीदाबाद में कोरोना संक्रमितों की संख्या दिन पर दिन बढ़ती ही जा रही है । कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 147 हो चुका है । कोरोना की वजह से फरीदाबाद में 6 लोगों की मौत हो चुकी है जिसके तहत प्रशासन ने कंटेनमेंट ज़ोन तो बनवा दिए लेकिन कंटेनमेंट घोषित हुए इलाकों में किसी प्रकार सख्ती देखने को नहीं मिल रही ।

आइए आपको बताते है , कौन कौन से इलाके है कंटेनमेंट ।

जिला प्रशासन फरीदाबाद द्वारा कुल मिलके 26 कंटेनमेंट ज़ोन बनाए गए है ।जिनमें शिव दुर्गा विहार, पलवली गांव, डबुआ कालोनी, सेक्टर-88 स्थित एफ ब्लॉक, चावला कालोनी स्थित डी ब्लॉक, एनआईटी-1 स्थित ब्लॉक-ए, बी व सी, गांव बड़खल एवं अनखीर, सेक्टर-28, बाढ़ मोहल्ला ओल्ड फरीदाबाद, जवाहर कालोनी खंड बी, मुजेसर व ग्रीन फील्ड कालोनी पहले से शामिल थे। इनमें बढ़ोतरी करते हुए संजय कालोनी, सेक्टर-23 का मकान नंबर-एमसीएफ 9470, गली नंबर 294, 295 नजदीक गौंछी ड्रेन, एमसीएफ-9491, गली नंबर 295, दुकान नंबर 8810 नजदीक गली नंबर 285 और प्लॉट नंबर एफ-12 वर्कशाप एरिया को कंटेनमेंट जोन नंबर-13 बनाया गया है। कंटेनमेंट जोन-14 में सेक्टर-23ए व संजय कालोनी में मकान नंबर-1235, मकान नंबर-1648, मकान नंबर-1353 सेक्टर-23ए तथा दुकान नंबर-48 गली नंबर 8 व दुकान नंबर 13 गली नंबर 3, संजय कालोनी का इलाका शामिल किया गया है।


इसी तरह सेक्टर-62 के प्लॉट नंबर 1136 से 1145, 1520 से 1563, 1886 से 1961, 1962 से 1965, 2028 से 2031, 2032 से 2041, 2079 से 2087, 2935 से 2937, 2980 से 2982 का क्षेत्र शामिल किया गया है। एसजीएम नगर के अंतर्गत आदर्श कालोनी नजदीक मुल्ला होटल के क्षेत्र में दुकान नंबर जे-1, दुकान नंबर 370, दुकान नंबर 303 आर दुकान नंबर-जे-59 का एरिया शामिल किया गया है। सेक्टर-18 हउसिंग बोर्ड कॉलोनी में प्लाट नबर 288 से 701 का क्षेत्र, गांव फतेहपुर चंदीला में सुखबीर सिंह एडवोकेट के मकान से, फिरेह चंदीला, विजय चंदीला और पंचायत भवन, गांव माहोला, गांव सीही व बल्लभगढ़ की शिव शारदा कालोनी को भी कंटेनमेंट जोन बनाया गया है।


इसी तरह तिलपत, सेक्टर-9 में मवई रोड पर शिव मंदिर से महेंद्रा बिल्डिंग मैटीरियल दुकान तक, सेक्टर-17 में प्लाट नंबर 666(पी) से 658(पी) और प्लाट नंबर 853(पी) से 870(पी) तक, सेक्टर 10 में प्लाट नंबर 996 से 966 तक व प्लाट नंबर 739 से 759 तक, इंदिरा कालोनी और रेलवे रोड व सेक्टर 22 व 24 के डिवाइडिंग रोड पर स्थित नाला के साथ आटोपिन झुग्गी को भी कंटेनमेंट जोन में शामिल किया गया है।

हालाकि इन इलाकों में बांस कि बल्लियों से केवल सड़क को जाम करने कि कोशिश की है लेकिन मुस्तैदी ना होने की वजह से लोग बांस की बल्लियों को लांघ कर दूसरे इलाके में भी जाते दिखाई देते है। यदि इन सभी इलाकों के बारे में विस्तार से बताया जाए तो प्रशासन की मुस्तैदी अधिकतर इलाकों में बेहद कम देखने को मिल रही है।
जिला प्रशासन फरीदाबाद द्वारा घर घर जाकर लोगों की स्क्रीनिंग का आदेश था लेकिन लोगों की जांच करने की गति काफी धीमी नज़र आ रही है।

कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या फरीदाबाद में बढ़ती जा रही है ऐसे में जिला प्रशासन फरीदाबाद को अपनी नीतियों और अपने काम करने की गति में और लोगों की जांच करने में गति लाना आवश्यक हो चुका है क्योंकि अद्योगिक नगरी फरीदाबाद कहीं कोरोना नगरी के नाम से पहचानी जाने लगे ।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More